दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 10.05.16

 

दलितों पर टूटा दबंगों का कहर…घर में घुसकर की महिलाओं से ऐसी हरकत पंजाब केसरी

http://haryana.punjabkesari.in/sirsa/news/haryana-home-woman-police-471111

पुलिस के पहरे में निकली दलित की रछवाई – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/damoh-marrige-function-in-presents-of-police-737301

काम नहीं किया तो दलित परिवार को किया गांव से बेदखल – ख़ास खबर

http://www.khaskhabar.com/picture-news/news-dalit-family-evicted-from-village-for-not-working-1-35162-KKN.html

दलित छात्रा हत्याकांड : बहन को पूछताछ के लिए बुलाया आज की खबर

http://www.aajkikhabar.com/dalit-student-murder-sister-called-for-questioning/

दलित महिला की गला दबाकर हत्या – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/uttar-pradesh/hathras/crime/dalit-woman-s-strangulation-murder

 

पंजाब केसरी

दलितों पर टूटा दबंगों का कहर…घर में घुसकर की महिलाओं से ऐसी हरकत

http://haryana.punjabkesari.in/sirsa/news/haryana-home-woman-police-471111

कैथल (रमन गुप्ता): पुलिस की कार्यशैली पर उठ रहे सवालिया निशान कैथल जिले के गांव उझाना में एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां पर दबंगों ने न सिर्फ घर में घुस के दलित महिलाओं के साथ मारपीट की, बल्कि उनसे छेड़खानी भी की।

उनका कहना है कि उन्होंने गेंहू की मजदूरी की मांगी की तो दबंगों ने मजदूरी के नाम पर धमकी दी और बाल्मीकि बस्ती में हथियारों के साथ लैस होकर हमला कर दिया। महिलाओं के साथ मारपीट की और जाति वाचक शब्दों का प्रयोग करते हुए दुबारा मजा चखाने की बात कहते हुए वापिस चले गए।

नई दुनिया

पुलिस के पहरे में निकली दलित की रछवाई

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/damoh-marrige-function-in-presents-of-police-737301

शादी के वक्त हर दूल्हे का सपना होता है कि वह भी घोड़े पर बैठे और पूरे गांव में शान से घूमे। लेकिन यदि उसे अपने रछवाई पुलिस के पहरे में निकालनी पड़े तो फिर उसे कैंसा लगेगा। जी हां तेजगढ़ थाना के इमलिया चौकी अंतर्गत आने वाले ग्राम देवरी जमादार में एक दलित परिवार के घर शादी थी और जब लड़के की रछवाई निकल रही थी तो गांव के दबंगों ने रछवाई निकालने से मना कर दिया और धमकी दी कि यदि रछवाई निकाली तो इसका अंजाम ठीक नहीं होगा। यह सुनकर परिवार के लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। जानकारी लगते ही तेंदूखेड़ा एसडीओपी केसी पाली थाना तेजगढ़ और इमलिया चौकी का पुलिस बल लेकर मौके पर पहुंचे और दलित परिवार से मिले। गांव के लोगों से भी इस संबंध में बात की जिसके बाद पुलिस की मौजूदगी में लड़के की रछवाई निकाली गई।

मौके पर पहुंची तेजगढ़ थाना और इमलियाा चौकी पुलिस के साथ एसडीओपी केसी पाली ने सबसे पहले दूल्हा लल्लू अहिरवार को बुलाकर मामले की जानकारी ली। जिसमें उसने बताया कि मुझे जानकारी प्राप्त हुई थी कि गांव के अन्य समाज जिनमें लोधी, रैकवार, आदिवासी व अन्य समाज के दबंग लोग मेरी रछवाई नहीं निकलने देंगे। जिसके चलते मैंने थाना तेजगढ़ पुलिस को सूचना दी थी। जिस पर एसडीओपी ने गांव के सभी वर्ग के लोगों को बुलाकर समझाइश दी और कहा कि यह ऊंच-नीच का भेदभाव समाप्त कर मिलजुल कर रहो। जिस पर गांव के लोगों ने बताया कि किसी के द्वारा भी धमकी नहीं दी गई है और न ही किसी को रछवाई निकलने में कोई परेशानी है।

पुलिस अभिरक्षा में निकाली रछवाई

देवरी जमादार के संबंध में जानकारी देते हुए एसडीओपी पाली ने बताया कि रविवार को लल्ले अहिरवार ने थाना तेजगढ़ में शिकायत दर्ज कराई कि उसके विवाह में रछवाई में गांव के लोग बाधा डालने का प्रयास कर रहे हैं। शिकायत प्राप्त होने पर मैं तेजगढ़ और इमलिया का स्टाफ लेकर देवरी जमादार पहुंचा और मामले की जानकारी ग्रामवासियों से ली। जिस पर ग्रामवासियों ने कहा कि हमें कोई समस्या नहीं है फिर भी दूल्हा लल्लू अहिरवार का कहना था कि रछवाई के समय तक पुलिस रुक जाए। जिसके बाद पुलिस बल रछवाई तक गांव में ही रुका रहा।

ख़ास खबर

काम नहीं किया तो दलित परिवार को किया गांव से बेदखल

http://www.khaskhabar.com/picture-news/news-dalit-family-evicted-from-village-for-not-working-1-35162-KKN.html

सतना। मध्यप्रदेश के सतना जिले में मजदूरी करने से इनकार करने पर दबंगों ने दलितों के परिवार के गांव में आने से ही रोक दिया। अब ये परिवार खुले में रहने को मजबूर है। खबरों के अुनसार, पथरौंधा गांव में रविवार रात को दबंगों ने बवाल कर दिया। वो इस बात से नाराज थे कि गांव में रहने वाले दलित परिवारों ने उनके खेतों में काम करने से इनकार कर दिया था।

काफी देर तक चले हंगामे के बाद जब दलित नहीं माने तो दबंगों ने उन्हें जान से मारने और घर में आग लगाने की धमकी दे डाली। घबराए दलित बागरी परिवार के लोग हरिजन थाने पहुंचे। लेकिन उन्हें वहां भी निराशा ही हाथ लगी।
रात को जब पीडि़त परिवारों ने अपने गांव लौटने की कोशिश की तो बीच मार्ग में ही दबंगों ने उन्हें गांव में घुसने से रोक दिया। जिससे मजबूरन सभी दलित परिवारों को थाना परिसर में बाहर ही रातभर रुकना पड़ा।
बताया जा रहा है कि पीडि़तों की शिकायत के बावजूद पुलिस ने अब तक आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं की है। वहीं इस मामले में पुलिस की ओर से फिलहाल कोई बयान सामने नहीं आया है।

आज की खबर

दलित छात्रा हत्याकांड : बहन को पूछताछ के लिए बुलाया

http://www.aajkikhabar.com/dalit-student-murder-sister-called-for-questioning/

पेरुम्बावूर | यहां अर्नाकुलम जिले में दलित छात्रा जीशा की हत्या के 12 दिन बाद सोमवार को पुलिस उसकी बहन दीपा को पूछताछ के लिए ले गई। पुलिस की जांच टीम ने बीते दो दिनों में दीपा के अंकल को पूछताछ के लिए बुलाया था, जिनके साथ दीपा रह रही थी।

पुलिस दीपा की कॉल लिस्ट भी जांच रही है। दरअसल, उसके अंकल ने पुलिस को बताया था कि दीपा फोन पर बहुत लंबी बातचीत करती है।

दीपा ने रविवार को कहा कि उसे बेवजह परेशान किया जा रहा है। वहीं, पुलिस ‘भया’ नाम से जाने जाने वाले एक प्रवासी मजदूर की तलाश में है।

जांच टीम ने पता लगाया है कि 27 वर्षीया जीशा की हत्या 28 अप्रैल को शाम 5.45 बजे के आसपास हुई थी। उसके बाद उसका क्षत-विक्षत शरीर उसकी मां राजेश्वरी को मिला था। पुलिस का मानना है कि जीशा की हत्या से पूर्व उसके साथ दुष्कर्म किया गया था। पुलिस ने अब तक इस मामले में एक दर्जन से अधिक लोगों से पूछताछ की है।

अमर उजाला

दलित महिला की गला दबाकर हत्या

http://www.amarujala.com/uttar-pradesh/hathras/crime/dalit-woman-s-strangulation-murder

सिकंदराराऊ (हाथरस)। कस्बा पुरदिलनर के मोहल्ला जलेसरी गेट में एक 65 वर्षीय दलित महिला की गला दबाकर हत्या कर दी गई। इस घटना को तब अंजाम दिया गया, जब वह रात को घर में सोई हुई थीं। हत्या करने के बाद बदमाश शरीर से सोने के कुंडल, लौंग और पायजेब उतार कर ले गए। मृतका के पति ने अज्ञात के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

जलेसरी निवासी श्रीमती देवी पत्नी राम सिंह के मोहल्ले में दो मकान हैं। एक मकान में पुत्र देवेंद्र और पुत्रवधु रहते हैं, जबकि दूसरे में वह अपने पति और धेवते अशोक के साथ रहती थी। रविवार की रात्रि वह अपने कमरे में सामान्य रूप से सोई हुई थी। सोमवार की सुबह जब सोकर नहीं उठी तो घर वालों ने पास जाकर देखा तो वह मृत पड़ी थीं। इसके बाद घर में चीख-पुकार शुरू हो गया। मृतका के शरीर से जेवरात गायब थे। स्थानीय लोग यह जानकर अचंभित हैं कि लुटेरों ने केवल जेवर के लिए श्रीमती की हत्या की, जबकि घर के किसी सामान को हाथ तक नहीं लगाया गया। सूचना मिलते ही सीओ सिकंदराराऊ डीके बालियान तथा कोतवाल राजेश्वर त्यागी फोर्स के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। काफी देर तक जद्दोजहद के बाद मामले की रिपोर्ट अज्ञात लोगों के खिलाफ राम सिंह द्वारा दर्ज कराई गई।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s