दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 01.05.16

 

किशोर को पीटकर मार डाला – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/uttar-pradesh/gonda/crime/teenager-killed-beaten

अब नांगल पहुंची दलित-ठाकुर संघर्ष की चिंगारी – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/national-fight-between-dalit-and-thakur-reached-in-nangal-731587

बहजोई में दलित नेत्री का टेंट उखड़वाया – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/uttar-pradesh/sambhal/dispute-in-sambhal

दुष्कर्म कांड का चौथा आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आया – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/HAR-OTH-NARN-MAT-latest-narnaul-news-030002-91260-NOR.html

 

अमर उजाला

किशोर को पीटकर मार डाला

http://www.amarujala.com/uttar-pradesh/gonda/crime/teenager-killed-beaten

खरगूपुर  थाना क्षेत्र के भंगहा गांव के मजरा भंगही में शुक्रवार देर रात एक किशोर को चोर समझ कर कुछ लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस मामले में किशोर के पिता ने खरगूपुर थाने में पिटाई करने वाले दंपती समेत तीन लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या व एससी-एसटी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज कराई है।

Teenager killed beaten

खरगूपुर थाना क्षेत्र के भंगहा गांव के रहने वाले दलित मुनीजर ने बताया कि वह भंगही के समीप चाय की दुकान चलाता है। मुनीजर के मुताबिक उसका बेटा रामआसरे (15) शुक्रवार की रात गांव में ही कहीं जाने के लिए घर से निकला था, मगर उन्हाेंने उसे जाने से रोक दिया। उस समय तो वह कहीं नहीं गया, मगर रात दस बजे वह घर से निकल कर भंगही पहुंच गया।

वहां भंगही के रहने वाले कृपाराम वर्मा, उनकी पत्नी धर्मा देवी व रिश्तेदार संजय वर्मा ने चोर समझकर उसे पकड़ लिया और रस्सी से बांधकर पूरी रात पीटते रहे। मुनीजर ने बताया कि शनिवार की सुबह कृपाराम ने एक व्यक्ति को उसके पास भेजा कि उसका बेटा उनके यहां चोरी करने घुसा था।

उसे पकड़ लिया गया है, आकर ले जाएं। मुनीजर ने बताया कि जब तक वह वहां पहुंचता, कृपाराम उसके बेटे को मरणासन्न हालत में लेकर उसकी (मुनीजर) की दुकान पर आ गए। यहां रामआसरे की मौत हो गई।

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस मामले में मुनीजर ने खरगूपुर थाने में कृपाराम वर्मा, उसकी पत्नी धर्मा देवी व रिश्तेदार संजय वर्मा के खिलाफ गैर इरादतन हत्या व एससी-एसटी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज कराई है।

नई दुनिया

अब नांगल पहुंची दलित-ठाकुर संघर्ष की चिंगारी

http://naidunia.jagran.com/national-fight-between-dalit-and-thakur-reached-in-nangal-731587

सहारनपुर। आंबेडकर प्रतिमा पर कालिख पोते जाने के बाद दलितों और ठाकुरों में हुआ खूनी संघर्ष अभी शांत नहीं हुआ है। आक्रोशित दलितों ने शुक्रवार की देर रात जनपद मुख्यालय स्थित बसपा कार्यालय पर अर्धनग्न होकर प्रदर्शन व नारेबाजी की।

शनिवार की सुबह उन्होंने मुजफ्फरनगर-देवबंद-नांगल मार्ग पर जाम लगा दिया, जिस कारण दोनों ओर वाहनों की कतार लग गई। पुलिस ने पूरे जनपद में सतर्कता बढ़ा दी है। गांव घड़कौली में शुक्रवार शाम को हुई पथराव व फायरिंग के बाद हालात बेकाबू हो गए।

पुलिस ने रोकने का प्रयास किया तो पुलिस पर ही पथराव कर दिया, जिसमें सीओ सदर आनंद पाण्डेय, एसओ गागलहेड़ी नरेंद्र शर्मा, एसओ फतेहपुर ब्रिजेश कुशवाह समेत आधा दर्जन पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। ठाकुरों की गिरफ्तारी न होने से नाराज शुक्रवार रात करीब साढ़े बारह बजे सैंकड़ों दलित बसपा कार्यालय पर पहुंचे।

यहां बसपा के दो विधायकों के खिलाफ नारेबाजी करते हुए धरना दिया। उन्होंने अपनी शर्ट उतारकर नारेबाजी की।

बाद में कांग्रेस नेता व पूर्व विधायक इमरान मसूद ने मौके पर आकर इन लोगों को समझाया। एसओ गागलहेड़ी नरेंद्र शर्मा की ओर से 50 से अधिक ग्रामीणों के खिलाफ पुलिस पर पथराव व सड़क जाम करने का मुकदमा लिखा गया।

पुलिस ने दोनों पक्षों के चार-चार लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस छावनी के बीच आधी रात को ही अंबेडकर प्रतिमा से कालिख को साफ कर दिया गया पर चार दलितों की गिरफ्तारी को लेकर शनिवार सुबह ही एक बार फिर दलित आक्रोशित हुए।

उन्होंने नागल में जाम लगाकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरु कर दी। नांगल के दोनो ओर वाहनों की कतार लगी हुई है। समाचार लिखे जाने तक जाम लगा हुआ था। उधर गांव घड़कौली में तनाव को देखते हुए भारी पुलिस फोर्स तैनात है।

अमर उजाला

बहजोई में दलित नेत्री का टेंट उखड़वाया

http://www.amarujala.com/uttar-pradesh/sambhal/dispute-in-sambhal

सीडीओ और संविदा जिला समन्वयक के बीच सोशल मीडिया पर वायरल हुई दोस्ती और नजदीकियों पर जोर देने की बातचीत के मामले में अब सियासी रंग भी घुलने लगा है। बहुजन सम्यक संगठन की राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रीता हरित (आईआरएस) के आने की भनक से पुलिस प्रशासन में खलबली मच गई।

बहजोई में बंबा रोड पर उनकी सभा के लिए लगाया गया टेंट पुलिस ने उखाड़कर फेंक दिया। भारी पुलिस बल व पीएसी भी तैनात कर दी। देर शाम जब महिला दलित नेता पहुंची तो उतरने से रोकने का नाटक किया गया। महिला नेता ने जबरन उतरकर एक चबूतरे पर माइक लेकर लोगों को संबोधित करना शुरू कर दिया।

इसके बाद पुलिस व पीएसी सिर्फ तमाशाई बनी रही। डीपीआरओ कार्यालय में तैनात स्वच्छ भारत मिशन की जिला समन्वयक को बहुजन सम्यक संगठन की राष्ट्रीय अध्यक्ष/दिल्ली में इन्कम टैक्स कमिश्नर प्रीता हरित ने ही सहारा दिया। उनके कहने पर ही जिला समन्वयक ने सीडीओ के खिलाफ आवाज बुलंद करने की हिम्मत की थी।

मामला मीडिया में उछल जाने के बाद प्रीता हरित ने बहजोई आने का कार्यक्रम दे दिया। स्थानीय इकाई ने उनकी सभा की तैयारी कर दी लेकिन यह सब गोपनीय ही था लेकिन जैसे ही वहां महिलाएं एकत्र होनी शुरू हुई तो खुफिया तंत्र के माध्यम से जैसे ही जानकारी प्रशासन को हो गई। दोपहर को पीएसी व पुलिस बल पहुंचा और देखते ही देखते टेंट आदि उखाड़ दिया गया।

बिना अनुमति के किसी भी तरह की कोई सभा नहीं करने की चेतावनी दे दी। लेकिन आयोजक व महिलाएं, आसपास ही बैठे रहे। घंटों के इंतजार के बाद देर शाम 5.40 बजे प्रीता हरित बहजोई पहुंची तो एलआईयू इंस्पेक्टर बीएम पाल सहित कई पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। प्रीता हरित को गाड़ी से उतरने से ही रोक दिया। चेतावनी दे दी कि बिना अनुमति के उन्हें यहां नहीं उतरने दिया जाएगा लेकिन प्रीता हरित गाड़ी से उतरीं और पेड़ के नीचे खड़े होकर संबोधन शुरू कर दिया।

दैनिक भास्कर

दुष्कर्म कांड का चौथा आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आया

http://www.bhaskar.com/news/HAR-OTH-NARN-MAT-latest-narnaul-news-030002-91260-NOR.html

12वींकक्षा में पढ़ने वाली नाबालिग दलित छात्रा के साथ हुए दुष्कर्म के बाद उसका एमएमएस बनाने के आरोपी भाजपा के वरिष्ठ नेता के पुत्र को पकड़ने में आखिरकार पुलिस को सफलता मिल ही गई। घटनाक्रम में तीन आरोपियों को पुलिस पहले ही गिरफ्तार चुकी है। मामला इस लिए सुर्खियों में आया क्योंकि एसपी और डीएसपी के तबादले के पीछे इस मामले का हाथ होने की चर्चा आज भी है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक योगेश उर्फ गोलिया पुत्र डालू सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार करके उसे सीजेएम अदालत में पेश किया गया। जहां से उसे एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया है।

25 मार्च को नारनौल के महिला थाने में एक नाबालिग छात्रा ने शिकायत दी थी कि 8 मार्च की रात जब वह शौच करने के लिए अपने घर से बाहर गई थी, तब गांव के ही अमित पुत्र रामोतार और त्रिलोक पुत्र श्योराम उसे बाइक पर बैठाकर गांव से बाहर एक झोंपड़ी में ले गए थे। वहां अमित ने उसके साथ गलत काम किया। उसी दौरान गांव के गगनदीप और योगेश उर्फ गोलिया ने उसकी वीडियो बनाई थी। पुलिस इस मामले में 3 आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

यहां बताते चले कि इस मामले की जांच कर रही डीएसपी तान्या सिंह का तबादला 2 अप्रैल को अचानक नारनौल से मधुवन कर दिया गया। इसके साथ ही एसपी मनीषा चौधरी को भी विजिलैंस ब्यूरो में पंचकूला भेज दिया गया था। उनके स्थानांतरण से यह मामला राजनीतिक रूप ले गया। इसके पीछे यह कारण बताया गया कि योगेश उर्फ गोलिया भाजपा के जिला उपाध्यक्ष डालू सिंह का पुत्र है। चर्चा यह भी रही थी कि रामबिलास का नजदीकी होने के चलते वह अपने पुत्र की गिरफ्तारी के लिए राजनीतिक दबाव का भी इस्तेमाल कर रहा था।

पिता पर कार्रवाई की तैयारी में एसपी का तबादला 

पुलिससे जुड़े सूत्र बताते हैं कि पुत्र को बचाने के आरोप में सक्रिय रहे डालू सिंह के खिलाफ भी तत्कालीन एसपी ने कार्रवाई करने की तैयारी कर ली थी, इसी के चलते उनका तबादला भी हो गया था। चर्चा तो यहां तक है कि डीएसपी तान्या सिंह के स्थान पर जिस पुष्पा खत्री का तबादला किया गया था उसके ज्वाइन करने पर राजनीतिक हल्कों की ओर से जांच अधिकारी बदलने का भी दबाव बनाने की कार्रवाई हुई था। दूसरी तरफ एसपी हमीद अख्तर ने मामले की जांच डीएसपी राजेश कुमार को सौंपी उसके बाद हुई कार्यवाही के चलते आखिर योगेश कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया।

नहीं लग पा रहा आरोपितों का सुराग : थाना इंचार्ज 

इसमामले में अब तक कोई गिरफ्तारी होने के जवाब में महिला पुलिस थाने की इंचार्ज सरोज कुमारी का कहना है कि वे खुद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए गांव जा चुकी है। अब तक उनका कोई सुराग नहीं मिला है।

विवाहिता से सामूहिक दुष्कर्म के आरोपी अभी भी बाहर 

पुलिसने 9 अप्रैल को क्षेत्र की एक विवाहिता के साथ दुष्कर्म करने वाले पांच आरोपियों की अब तक गिरफ्तारी नहीं की है। इस मामले की पुलिस की कार्यवाही में कोई गति नजर नहीं रही है। दुष्कर्म के मामले में विवाहिता से उसी के गांव के पांच युवकों ने गैंग रेप किया था महिला की शिकायत पर पुलिस राजीव, नरेन्द्र, राकेश, सोनू एक अज्ञान युवक के खिलाफ 10 अप्रैल को केस भी दर्ज कर चुकी है। शिकायत के मुताबिक विवाहिता को बहरोड के पास ससुराल से राजीव महिला को उसकी मां की तबियत खराब होने के बहाने से बाइक पर बैठाकर लाया था। उसके साथ एक और युवक भी था। बाद में वे उसे घर ले जाने की बजाए कृष्ण नगर कॉलेज के पीछे एक बंद पड़े ट्यूबवैल पर ले गए थे। वहां उन दोनों ने विवाहिता से दुष्कर्म किया और उसके बाद अपने तीन साथी को बुलाया। उन्होंने भी दुष्कर्म किया उसके बाद वे उसे बस स्टैंड पर एक दुकान पर बैठाकर छोड़ गए।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s