दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 28.01.16

 

दलित छात्र मिठाई लेकर आया, दो ग्रामीणों ने खाने से किया इनकार – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/sehore-dalit-student-brought-dessert-two-villagers-refuses-to-eat-644908

जेएनयू: नौ और छात्रों ने जाति आधार पर लगाया प्रताड़ना का आरोप – ए बी पी न्यूज़

http://abpnews.abplive.in/india-news/jnu-dalit-phd-scholars-allege-discrimination-threaten-suicide-322229/

पुलिस के साए में निकली दलित दूल्हे की बारात – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/ratlam-dalit-barat-police-sandala-suraksha-645023

काम करने जा रहे दलित महिला पर हमला – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/amritsar/amritsar-crime-news/shedule-caste-lady-attack-go-work-hindi-news/

पैसों के लेनदेन को लेकर दलित को अगवा कर पीटा – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/PUN-OTH-MAT-latest-tarantaran-news-024503-3497234-NOR.html

बाप-बेटे ने दलित मजदूर को दिया जहर, मौत – भाषा न्यूज़

http://bhasha.ptinews.com/news/1373280_bhasha

 

नई दुनिया

दलित छात्र मिठाई लेकर आया, दो ग्रामीणों ने खाने से किया इनकार

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/sehore-dalit-student-brought-dessert-two-villagers-refuses-to-eat-644908

सीहोर। गणतंत्र दिवस पर एक सरकारी स्कूल में कार्यक्रम समाप्ति के बाद दलित छात्र के हाथ से सवर्ण जाति के दो ग्रामीणों ने मिठाई लेने से इनकार कर दिया। पुलिस ने दोनों ग्रामीणों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है।

मामला शाहगंज थाना क्षेत्र के अकोला गांव के शासकीय मिडिल स्कूल का है। पुलिस के अनुसार शाहगंज थाना अंर्तगत ग्राम अकोला के शासकीय माध्यमिक शाला में मंगलवार को गणतंत्र दिवस कार्यक्रम के समापन के दौरान स्कूल के शिक्षक रघुवीर गौर ने गांव के ही आईटीआई के छात्र सुमंत अहिरवार से स्कूल के मुख्य कक्ष में रखी मिठाई (नुकती) लाने के लिए कहा।

छात्र सुमंत मिठाई लेकर बाहर आया। इस पर कार्यक्रम में मौजूद गौरीशंकर गौर और घनश्याम पटेल ने आपत्ति जताते हुए कहा कि दलित छात्र ने मिठाई छू ली है, इसे हम अब नहीं खा सकेंगे। दलित छात्र के हाथ भर लग जाने से मिठाई को दूषित करार दिए जाने पर वहां मौजूद लोग आक्रोशित हो गएा। बड़ी संख्या में लोगों ने थाने पहुंचकर अपना विरोध प्रकट किया और थाने में इस आशय का आवेदन पत्र दिया।

आवेदन पत्र पर करीब एक दर्जन से अधिक लोगों ने हस्ताक्षर किए। चूंकि मंगलवार को जिला मुख्यालय पर आयोजित मुख्य समारोह में शाहगंज थाना प्रभारी का सम्मान था इसलिए वे सीहोर आए हुए थे। उन्होंने शाम को ग्राम अकोला पहुंचकर ग्रामीणों और छात्र के बयान लिए और गौरी शंकर गौर तथा घनश्याम पटेल के खिलाफ अनुसूचित जाति-जनजाति एक्ट के अलावा भादवि की धारा 294,506, 34 के अंर्तगत प्रकरण दर्ज किया।

ए बी पी न्यूज़

जेएनयू: नौ और छात्रों ने जाति आधार पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

http://abpnews.abplive.in/india-news/jnu-dalit-phd-scholars-allege-discrimination-threaten-suicide-322229/

नई दिल्ली: भेदभाव का आरोप लगाते हुए अपने कुलपति को पत्र भेजने और खुदकुशी की धमकी देने वाले जेएनयू (जवाहर लाल यूनिवर्सिटी) के एक दलित छात्र के बाद यूनिवर्सिटी के नौ और छात्रों ने कहा कि उन्हें ‘जातिगत आधार पर प्रताड़ित किया जा रहा है.’ एक दलित छात्र ने कुलपति को दो पत्र लिखकर धमकी दी है कि अगर अगले साल के लिये उसकी शोध राशि नहीं बढायी गयी तो वह खुदकुशी कर लेगा.

जेएनयू: नौ और छात्रों ने जाति आधार पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

इंटरनेशनल आर्गेनाइजेशन (ओआरजी) डिवीजन सीआईपीओडी के रिसर्च स्कॉलर ने आरोप लगाया है कि उनका विभाग उनकी पीएचडी रोकने का प्रयास कर रहा है और उसे प्रताड़ित कर रहा है. विभाग के नौ और छात्रों ने कहा कि जातिगत आधार पर उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है. सीआईपीओडी की एक बैठक में कई अनुशंसा की गयी और छात्रों के सभी मुद्दे सुलझाने का फैसला किया गया.

इस बैठक में स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज की डीन अनुराधा चिनॉय मौजूद थीं. उन्होंने कहा, ‘‘हम समझते हैं कि कुछ लंबित मुद्दे हैं लेकिन हम उन्हें सुलझाने के लिए प्रतिबद्ध हैं. चूंकि गैर नेट और नेट फेलोशिप की पूरी संयुक्त अवधि यूजीसी दिशानिर्देश के मुताबिक पांच साल से अधिक नहीं हो सकती और छात्र ने तीन साल और पांच महीने के लिए एक फैलोशिप और बाकी अवधि के लिए नेट फैलोशिप ली है इसलिए यह एक तकनीकी मुद्दा है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘जेएनयू प्रशासन सभी लंबित मुद्दों को सुलझाने और छात्रों की मदद करने की कोशिश कर रहा है.’’ नवनियुक्त वीसी जगदीश कुमार ने कहा, ‘‘मुद्दे पर गौर किया जा रहा है और छात्रों को अपनी शिक्षा पूरी करने के लिए हम पूरी मदद करेंगे जिससे कि वे सामाजिक बदलाव कर सकें.

नई दुनिया

पुलिस के साए में निकली दलित दूल्हे की बारात

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/ratlam-dalit-barat-police-sandala-suraksha-645023

रतलाम। जिले में एक बार फिर पुलिस के साए में दलित दूल्हे की बारात निकली। ग्राम संदला में एक व्यक्ति ने अपने बेटे की बारात निकालने के दौरान दंबगों द्वारा विवाद की आशंका के चलते सुरक्षा की मांग की थी। पुलिस व जिला प्रशासन ने उसे सुरक्षा प्रदान की।

ग्राम संदला में बुधवार सुबह पुलिस के साए में गांव में पहली बार किसी दलित दूल्हे की बारात घोड़ी पर निकली। पुलिस व प्रशासन के अधिकारी भी बाराती बने। इस दौरान कहीं कोई विवाद की स्थिति नहीं बनी। उल्लेखनीय है कि आठ माह पहले ताल तहसील के ग्राम नेगरून में दलित की बारात घोड़ी पर निकालने को लेकर दंबगों ने पथराव कर दिया था। इसे ध्यान में रखते हुए ग्राम संदला में प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए।

जानकारी के अनुसार गोरधनलाल गुजरवाड़िया निवासी ग्राम संदला ने कलेक्टर को शिकायत की थी 27 जनवरी को उनके पुत्र सुनील की बारात का बाना निकाला जाएगा। सवर्ण समाज के लोग बाना नहीं निकलने देंगे। सवर्ण द्वारा आज तक बारात नहीं निकालने दी गई है। शिकायत मिलने पर बुधवार सुबह से ही पुलिस बल संदला भेज दिया गया था। सुबह आठ बजे बारात निकली और 10 बजे समाप्त हुई। इस दौरान पूरे गांव में शांति बनी रही। अन्य समाजों के अधिकांश पुरुष इस दौरान नजर नहीं आए। बिलपांक टीआई प्रदीपकुमार सोनी, तहसीलदार अजय हिंगे व अन्य पुलिसकर्मी बारात के साथ ही मौजूद रहे। गांव में जगह-जगह पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे। पुलिस अधिकारियों के अनुसार उन्होंने पहले ही ग्रामीणों को इस मसले पर समझाइश दे दी थी। विवाद की आशंका के चलते ग्रामीण एसडीएम नेहा भारती, अजाक डीएसपी ओपी शर्मा भी गांव में डेरा डाले रहे।

कचनारिया में होगा विवाह

सुनील गुजरवाड़िया का विवाह उज्जैन जिले के ग्राम कचनारिया निवासी छोगालाल परमार की पुत्री सोना से होना है। संदला में बारात निकलने के बाद शाम को बारात कचनारिया के लिए रवाना हुई। सुनील का चयन बीएसएफ में हुआ है। गोरधनलाल के अनुसार आजादी के बाद अभी तक किसी दलित की बारात घोड़ी पर नहीं निकली थी। इसलिए उन्हें आशंका थी कि उनके पुत्र की बारात में कोई फसाद न हो जाए। पिछले दिनों वे बहुजन संघर्ष दल के पदाधिकारियों से मिले थे। बहुजन संघर्ष दल के ग्रामीण जिलाध्यक्ष चंद्रप्रकाश डामेचा ने बताया कि आजादी के 68 साल बाद भी दलित वर्ग डरा व सहमा हुआ है।

अमर उजाला

काम करने जा रहे दलित महिला पर हमला

http://www.amarujala.com/news/city/amritsar/amritsar-crime-news/shedule-caste-lady-attack-go-work-hindi-news/

गांव कोटली नसीर खां के एक दलित श्रमिक पर उसी गांव के रहने वाले छह नामजद युवकों ने पुरानी रंजिश में हमला कर दिया। खून से लथपथ दलित विक्रम सिंह उर्फ विक्की (20) को बुधवार उसके परिजनों ने गुरु नानक देव अस्पताल में भर्ती कराया।

थाना घरिंडा के अधीन चौकी खासा ने शिकायत के आधार पर केस की जांच शुरू कर दी है। दलित ने आरोप लगाए कि बुधवार सुबह वह काम करने जा रहा था तो उसी गांव के रहने वाले बलबीर सिंह उर्फ बब्बा, गुरसेवक सिंह, सोनी सिंह, शमशेर सिंह, सतनाम सिंह, हरविंद्र सिंह ने दातरों से हमला कर दिया।

दैनिक भास्कर

पैसों के लेनदेन को लेकर दलित को अगवा कर पीटा

http://www.bhaskar.com/news/PUN-OTH-MAT-latest-tarantaran-news-024503-3497234-NOR.html

चोहलासाहिब पुलिस ने पैसों के लेनदेन को लेकर मजदूर से मारपीट कर उसे अगवा करने के आरोप में 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। आरोपी अभी फरार बताए जा रहे हैं। कुलदीप कौर निवासी वरियां पुराने ने बताया कि उसका पति बलजिंदर सिंह गांव के ही भूपिंदर सिंह उर्फ भिंदा के यहां मजदूरी का काम करता था। उसके पिता ने काम पर जाना बंद कर दिया। इसी दौरान भूपिंदर सिंह कहने लगा कि उसने उनसे पैसे लेने हैं। तभी से भिंदा उनके साथ रंजिश रखने लगा। 26 जनवरी को गांव में ही मेला था। वह और उसका पति मेला देखने गए। इसी दौरान भिंदा उसका लड़का जसकरण सिंह अपने 4 अज्ञात साथियों सहित मेेले में पहुंच गया। जिन्होंने उसके पति की मारपीट करते हुए उसे अगवा कर ले गए। इसकी शिकायत उन्होंने तुरंत पुलिस को कर दी। मामले की जांच कर रहे एएसआई अमरजीत सिंह ने बताया कि पुलिस बलजिंदर सिंह को भिंदा की बहक से बरामद कर लिया है।

भाषा न्यूज़

बाप-बेटे ने दलित मजदूर को दिया जहर, मौत

http://bhasha.ptinews.com/news/1373280_bhasha

जिले के गांव कुचराना कलां में काम चोरी से खफा बाप-बेटे ने जहर देकर खेत में काम करने वाले दलित मजदूर को मौत के घाट उतार दिया।

मृतक के बेटे सोनू ने बताया कि उसका पिता कृष्ण कभी कभार शराब पी लेता था। जिसके कारण वह काम पर नहीं जा पाता था। लगभग छह माह पहले उसका पिता कृष्ण गांव के ही जमींदार प्रहलाद के खेतों में मजदूरी करने लगा था। गत दिवस भी उसका पिता खेत में नहीं जा पाया, जिससे खफा प्रहलाद तथा उसके बेटे कुलबीर ने उसके पिता की जहर देकर हत्या कर दी।

अलेवा थाना प्रभारी रामनिवास ने बताया कि मृतक की पत्नी की शिकायत पर बाप-बेटे के खिलाफ हत्या तथा एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। हत्या के पीछे मुख्य कारण मृतक द्वारा काम पर न जाना बताया जा रहा है। फिलहाल आरोपियों की धर पकड़ के लिए छापेमारी की जा रही है।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s