दलित मीडिया वाच हिंदी न्यूज़ अपडेट 14.12.15

 

दो लोगों के हाथ-पैर काटे, एक दलित की मौत – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/limbscutpunjab-NOR.html

युवक की मौत पर मेडिकल थाने में तोड़-फोड़, महिलाओं ने मुंशी के फाड़े कपड़े – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/UP-MEER-people-cataclasm-in-police-station-after-man-death-5194054-PHO.html

ज्वाला की हत्या के पूर्व दलितों पर टूटा था कहर – दैनिक भास्कर

http://inextlive.jagran.com/murder-wifor-ataic-on-dalit-101837

नगर के हर घर में बनेंगे शौचालय – प्रभात खबर

http://www.prabhatkhabar.com/news/siwan/story/658207.html

अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन आज से – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-OTH-MAT-latest-churu-news-025004-3206085-NOR.html

An Urgent Appeal:

Please register your contribution to PMARC for

Strengthening Democracy, Peace & Social Justice!

Only our collective effort can make it possible to carry forward our interventions.

 It is a challenge before each one of us as equal stakeholder of PMARC.

दैनिक भास्कर

दो लोगों के हाथ-पैर काटे, एक दलित की मौत

http://www.bhaskar.com/news/limbscutpunjab-NOR.html

पंजाब के अबोहर में दो गुटों के बीच झड़प के दौरान कथित तौर पर दो लोगों के हाथ-पैर काटे जाने के बाद तनाव बना हुआ है.

जिन दो लोगों के हाथ और पैर काटे जाने की बात कही जा रही है, उनमें से एक की मौत हो गई है.

शुक्रवार को अबोहर के एक व्यवसायी शिव लाल डोडा के फार्म हॉउस पर दो गुटों के बीच हिंसक झड़प हुई थी.

इस दौरान कथित तौर पर भीम टांक नाम के शख्स के दोनों हाथ और पैर काट दिए गए जिसके बाद उसकी मौत हो गई थी.

एक और व्यक्ति गुरजंट सिंह का एक हाथ और पैर काट दिया गया था, उसका अस्पताल में इलाज किया जा रहा है.

एसएसपी इन्दर मोहन भट्टी ने घटना की पुष्टि की है और कहा कि अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है.

भीम टांक के परिवार और वाल्मीकि समाज ने रविवार को शहर में बंद करवाया और जिस अस्पताल में शव रखा गया है वहां विरोध प्रदर्शन किया.

फ़िलहाल पुलिस ने नौ लोगों के खिलाफ़ मुकदमा दर्ज किया है.

वाल्मिकी समाज फार्म हाउस के मालिक सहित कई अन्य लोगों पर भी हत्या और हत्या की साज़िश के मामले में मुकदमा दर्ज करने की मांग कर रहा है.

प्रशासन ने विरोध कर रहे लोगों को शव के पोस्टमॉर्टम के लिए मना लिया था लेकिन फ़िलहाल शहर में तनाव बना हुआ है.

दैनिक भास्कर

युवक की मौत पर मेडिकल थाने में तोड़-फोड़, महिलाओं ने मुंशी के फाड़े कपड़े

http://www.bhaskar.com/news/UP-MEER-people-cataclasm-in-police-station-after-man-death-5194054-PHO.html

मेरठ. शनिवार की देर रात मेडिकल थाने में युवक की मौत को हत्या बताते हुए परिजनों ने रविवार को जमकर हंगामा किया। मृतक युवक के परिजनों के साथ थाने के एक मुंशी द्वारा अभद्रता करने पर महिलाओं ने थाने में घुसकर तोड़-फोड़ कर हंगामा कर दिया। गुस्से में महिलाओं ने मुंशी के कपड़े तक फाड़ दिए। हंगामा कर रहे लोगों का आरोप था कि पुलिस हत्यारोपियों को बचाने का प्रयास कर रही है। इस दौरान भीड़ ने मेरठ- गढ़ रोड पर जाम भी लगा दिया। सूचना मिलने पर आरएएफ के अलावा डीआईजी आशुतोष पूरी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। डीआईजी आशुतोष ने हंगामा कर रहे लोगों को उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। इसके बाद भीड़ शांत हुई।

सरधना थानाक्षेत्र के ईकड़ी गांव निवासी रिंकू कुमार (27) जयपाल मेडिकल थानाक्षेत्र के शेरगढ़ी में रहता था। रिंकू इंडियन ओवरसीज बैंक में कैशियर का काम करता था। उसका एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। शनिवार शाम करीब 6 बजे वह रिंकू को फोन कर तेजगढ़ी चौराहे पर बुलाई थी। संदिग्ध परिस्थितियों में घायल रिंकू को देर रात गंभीर हालत में मेडिकल में भर्ती कराया गया था। उपचार के दौरान देर रात करीब 12 बजे उसकी मौत हो गई। 

परिजनों ने किया हंगामा

रविवार युवक के परिजनों ने लड़की और उसके परिजनों पर हत्या का आरोप लगाते हुए थाने में हंगामा किया। इसके बाद पुलिस ने युवती समेत तीन लोगों को हिरासत में लिया। इस मामले में मृतक के परिजनों ने युवती, उसके पिता और दो भाइयों पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। 

साजिश के तहत की रिंकू की हत्या

परिजनों का कहना है कि रिंकू दलित था जबकि युवती स्वर्ण जाति की है। उन दोनों की दोस्ती युवती के परिजनों को पसंद नहीं थी। इसीलिए साजिश रचकर रिंकू को घर से बुलाया गया और उसपर जानलेवा हमला किया गया। परिजनों का आरोप है कि युवती ने ही अपने परिजनों के साथ मिलकर रिंकू की हत्या कराई है। 

बार-बार बयान बदल रही है युवती

पुलिस का कहना है कि पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए युवती समेत तीन को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है। पूछताछ में राशि बार-बार बयान बदल रही है, जिस कारण वह जो घटना बता रही है वह संदिग्ध लग रही है। डीआईजी आशुतोष कुमार ने बताया कि पूरे मामले की निष्पक्ष जांच-पड़ताल के बाद कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने बताया कि थाने में तोड़फोड़ करने वाले लोगों के खिलाफ भी जांच के बाद कार्रवाई होगी।

पुलिस ने बताई युवती की कहानी

युवती ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि जब वह दोनों जा रहे थे तब अज्ञात बदमाशों ने उसका तेजगढ़ी चौराहे के पास पर्स छीना। रिंकू ने बाइक से उनका पीछा किया मेडिकल अस्पताल से आगे बदमाश रुक गए और विरोध करने पर रिंकू के सिर पर डंडे से हमला कर दिया। लेकिन, घायल रिंकू को मौके पर ही छोड़कर वह अपने परिजनों के पास क्यों गई, उसने पुलिस को फोन क्यों नहीं किया इस पर राशि त्यागी ठोस जवाब नहीं दे रही है। यही कारण है कि परिजन को इस पूरे मामले में सोची समझी साजिश नजर आ रही है।

दैनिक भास्कर

ज्वाला की हत्या के पूर्व दलितों पर टूटा था कहर

http://inextlive.jagran.com/murder-wifor-ataic-on-dalit-101837

पंचायत चुनाव में एक माह पूर्व रास्ते के विवाद को लेकर गांव के एक प्रत्याशी द्वारा दलितों को लाठी डंडे से पीटकर घायल कर दिया था। इस मामले में पीडि़त लालजी की पत्नी अमरावती देवी ने गांव के ही प्रधान समेत आधा दर्जन लोगों के खिलाफ मारपीट, जान से मारने की धमकी समेत एससीएसटी की धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कराया था।

ग्रामीणों की नजर में पुलिस दोषी

ग्रामीणों का कहना था कि पुलिस ने उक्त प्रकरण में कोई कार्रवाई नहीं की। ऐसे में नामजद आरोपियों का मनोबल बढ़ा हुआ था, जिन्होंने आज ज्वाला की हत्या कर अपनी दबंगई साबित कर दी। इस बात को लेकर ग्रामीणों में भारी आक्रोश था। पुलिस के रवैए से महिलाएं आक्रोशित रहीं। दलित बस्ती पर हमला करने व महिलाओं को मारने पीटने के मामले में कार्रवाई न होने पर रविवार को घटना के बाद महिलाएं भी आक्रोशित हैं। महिलाओं का आरोप था कि स्थानीय पुलिस आरोपियों के इशारे पर काम करती है। ऐसे में पुलिस हमें न्याय नहीं दिला पाएगी। इस पर अपर पुलिस अधीक्षक ने उन्हें आश्वस्त करते हुए पूर्व में हुई घटना में कार्रवाई व हत्या में नामजद लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई किए जाने की बात कही।

बाक्स आरोपी की घर की ओर बढ़ रहे थे लोग

हथिगवां थाना क्षेत्र के सरैया प्रवेशपुर गांव में हुई ज्वाला की हत्या की जानकारी होते ही आसपास के गांव के सैकड़ों ग्रामीण लाठी डंडा लेकर मौके पर पहुंच गए। पहले तो ग्रामीण प्रशासन से ही दो- दो हाथ करने को तैयार थे, लेकिन कुछ स्थानीय लोगों के समझाने बुझाने के बाद उनका गुस्सा शांत हुआ। वह आरोपी के घर की तरफ बढ़ने लगे। यह देखकर अपर पुलिस अधीक्षक व कुछ ग्रामीणों ने आक्रोशित लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया थोड़ी सी होती चूक तो बड़ा बवाल बढ़ होना तय था.

प्रभात खबर

नगर के हर घर में बनेंगे शौचालय

http://www.prabhatkhabar.com/news/siwan/story/658207.html

सीवान : अब लोगों को शौच जाने के लिए खुले मैदान में नहीं जाना पड़ेगा. इसके लिए विभाग ने कार्य शुरू कर दिया है. मालूम हो कि अभी तक कई ऐसी दलित बस्ती हैं, जहां शौचालय उपलब्ध नहीं है और लोग खुले में शौच जाने के लिए मजबूर हैं. वैसे गली-मुहल्लों को चिह्नित कर विभाग ने इस कार्रवाई शुरू कर दी है.

इसी के अंतर्गत विभाग ने नगर के जिन घरों में शौचालय नहीं है, उन घरों में शौचालय बनाने के लिए  सर्वे का कार्य शुरू कर दिया है. जिन घरों में शौचालय हैं या नहीं, सभी घरों का ब्योरा लिया जायेगा ताकि पता लग सके कि नगर क्षेत्र में कितने घरों में शौचालय हैं. स्वच्छ भारत मिशन शहरी योजना के अंतर्गत शौचालय का निर्माण किया जायेगा.

इसके लिए नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव ने कार्यपालक पदाधिकारी को पत्र लिखा है और कहा है कि इस योजना का लाभ उस परिवार को मिले, जिसके पास अपना शौचालय नहीं है. 

शौचालय बनने से गंदगी होगी दूर : नगर में कई ऐसी दलित बस्तियां हैं, जहां के लोगों के घरों में शौचालय नहीं हैं. नतीजतन वहां के लोग खुले में शौच करते हैं. इससे वातावरण तो गंदा होता है, आम आदमी भी परेशान होता है. यही नहीं वहां के दुर्गंध से आस-पास के लोगों को काफी परेशानी होती है. लेकिन विभाग की इस पहल से शौचालय बनने से इससे निजात मिल सकती है और वातावरण भी साफ रहेगा. साथ ही लोगों को किसी भी प्रकार की परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा. 

क्या कहते हैं इओ 

स्वच्छ भारत मिशन के तहत सभी वार्डों में शौचालय बनाये जायेंगे. इसके लिए सर्वे किया जा रह है ताकि ऐसे परिवार को चह्नित किया जाये जिन घरों में शौचालय नहीं हैं. 

आरके लाल, नगर कार्यपालक पदाधिकारी, सीवान 

क्या कहते हैं अधिकारी

नगर के सभी वार्डों में शौचालय बनाये जायेेंगे. इससे लोगों को खुले में शौच जाने से मुक्ति मिलेगी. जल्द ही इस योजना का लाभ सभी लोगों को मिलना शुरू हो जायेगा. 

दैनिक भास्कर

अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन आज से

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-OTH-MAT-latest-churu-news-025004-3206085-NOR.html 

राजस्थानसंयुक्त दलित वर्ग संघर्ष समिति की बैठक में रविवार के संघर्ष समिति का गठन किया गया। काशीराम मेघवाल को सर्वसम्मति से जिला संयोजक नियुक्त किया गया।

बैठक में रामलाल मेघवाल, प्रदीप मेघवाल सोहनलाल मेघवाल के हत्यारों को गिफ्तार नहीं करने पर सोमवार से संघर्ष समिति की ओर से अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन शुरू करने का निर्णय लिया गया। जिले की छह तहसीलों के संयोजकों नियुक्त करने का भी निर्णय लिया गया।

बैठक की अध्यक्षता लिखमाराम मेघवाल ने की। इस दौरान सोहनलाल मेघवाल, मोहनलाल आर्य, दुलीचंद बरोड़, जयसिंह प्रधान, मास्टर प्रताप, विद्याधर मेघवाल, लक्ष्मीनारायण धानिया, भंवरलाल नायक, लादूराम जोइया, दानाराम मेघवाल, जयसिंह निर्मल, किशनलाल गर्वा, भागीरथ मेघवाल, मांगीलाल, भागीरथ मेघवाल आदि उपस्थित थे।

एससीएसटी की बैठक को संबोधित करते काशीराम।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s