दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 10.12.15

 

 

कार्रवाई की मांग करने गए लोगों से मारपीट का आरोप – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-ALW-MAT-latest-alwar-news-020014-3180803-NOR.html

देह व्यापार के लिए बंधक बनाई थी दलित युवती – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/jhansi/dalit-woman-for-prostitution-had-mortgages-hindi-news/

दलित महिला से छेड़छाड़ पर आरोपियों को पीटा – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/bulandshahr/bulandshahr-crime-news/neighbours-beat-person-sexually-assaulting-minor-woman-hindi-news/

सीएम तक पहुंचा दलित पर जानलेवा हमले का मामला – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/hapur/hapur-crime-news/case-reached-cm-the-murderous-attacks-on-dalit-hindi-news/

दलित था, इसलिए सैलून वाले ने नहीं काटे बाल – राजेश्थान पत्रिका

http://rajasthanpatrika.patrika.com/story/rajasthan/he-was-dalit-so-barber-refused-to-cut-his-hair-1477071.html

सीईओ ने पूछा शिवाजी के पिता कौन, शिक्षक बोला आशा भोंसले – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/special-story-ceo-asked-who-was-shivajis-father-the-teacher-said-asha-bhosle-600011

 Please Watch:

Defyiing the Odds- The Rise of Dalit Entrepreneurs | D. Shyam Babu | TEDxRGNUL

https://www.youtube.com/watch?v=xZ0_O9kX2yI

An Urgent Appeal:

Please register your contribution to PMARC for

Strengthening Democracy, Peace & Social Justice!

Only our collective effort can make it possible to carry forward our interventions.

It is a challenge before each one of us as equal stakeholder of PMARC.

दैनिक भास्कर

कार्रवाई की मांग करने गए लोगों से मारपीट का आरोप

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-ALW-MAT-latest-alwar-news-020014-3180803-NOR.html

क्षेत्रके गांव खापरिया में पांच दिसंबर को दलित नाबालिग लड़की के अपहरण की रिपोर्ट पर कार्रवाई की मांग को लेकर परिजन बुधवार को पुलिस उपाधिक्षक कार्यालय पहुंचे। पीड़ित लोगों का आरोप है कि डीएसपी की मौजूदगी में पुलिसकर्मियों ने गाली-गलोच कर मारपीट की है।

खापरिया निवासी पीड़ित परिजनों ने बताया कि 16 वर्षीय पुत्री 5 दिसंबर को गांव तसींग के स्कूल में पढ़ने गई थी। स्कूल छुट्टी के बाद लड़की वापस गांव लौटने पर गांव का युवक रविंद्र उर्फ रवि एक अन्य ने उसका अपहरण कर लिया। इसकी थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद कार्रवाई शिथिलता बरतने पर बुधवार को परिजन साथ डीएसपी कार्यालय गए तो डीएसपी, एएसआई राजेंद्र अन्य कर्मियों ने गाली गलोच करने लगे तथा पुलिसकर्मियों ने मारपीट भी की। इसकी शिकायत थाने में दी है। गुरुवार को एसपी से शिकायत की जाएगी। इस संबंध में डीएसपी डॉ. तेजपाल सिंह ने कहा कि नाबालिग अपहरण मामले में पुलिस टीम बनाकर जांच की जा रही है। मारपीट की कोई घटना नहीं हुई है।

अमर उजाला

देह व्यापार के लिए बंधक बनाई थी दलित युवती

http://www.amarujala.com/news/city/jhansi/dalit-woman-for-prostitution-had-mortgages-hindi-news/

झांसी। मंगलवार को जिस्म फरोशी के धंधे में पकड़ी गई दलित युवती की तहरीर पर देह व्यापार के लिए बंधक बनाने का मामला नवाबाद थाने में दर्ज किया है। पुलिस ने संचालिका को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसको जेल भेज दिया गया है।

नवाबाद थानांतर्गत राजपूत कालोनी स्थित एक मकान में चल रहे जिस्म फरोशी के धंधे का मंगलवार को पुलिस ने भंडाफोड़ किया था। पुलिस ने मौके से संचालिका व एक युवती को दबोच लिया था। संचालिका का पति फरार हो गया था। पकड़ी गई युवती ग्वालियर की रहने वाली दलित है।

Dalit woman for prostitution had mortgages

इस युवती ने बुधवार को पुलिस को बताया कि वह मंगलवार को झांसी मेडिकल कालेज में दवा लेने आई थी। कॉलेज के गेट नंबर एक के सामने उसको पहले से परिचित पुष्पेंद्र शर्मा पुत्र हरीशंकर निवासी राजपूत कालोनी शिवाजी नगर मिला। वह उसे झांसा देकर अपने घर ले गया।

घर जाते ही पुष्पेंद्र की पत्नी ज्योति उसे अंदर कमरे में ले गई, जहां पुष्पेंद्र ने उसके साथ बलात्कार किया। इसके बाद दोनों ने उसे कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद एक अन्य व्यक्ति आया, जिससे उन्होंने रुपये लिए । इस अज्ञात ने भी उसके साथ बलात्कार किया। उसने विरोध करते हुए खुद को छोड़ने के लिए अनुरोध किया, तो पुष्पेंद्र व उसकी पत्नी ने आठ दिन तक नहीं छोड़ने को कहा।

दोनों ने उसे बताया कि अभी और ग्राहक आने हैं। युवती ने पुलिस को यह भी बताया कि विरोध करने पर ज्योति ने मारपीट की और पुष्पेंद्र से मरवा देने की धमकी भी दी। पुलिस ने युवती की तहरीर पर बंधक बनाकर देह व्यापार करने का मामला पंजीकृत कर लिया है।

पीड़िता का मेडिकल परीक्षण कराया

बंधक बनाकर गैंगरेप की शिकार दलित युवती का बुधवार को नवाबाद थाना पुलिस ने मेडिकल परीक्षण कराया। आरोपियों के खिलाफ पुख्ता सबूत एकत्रित करने के लिए पीड़िता के कपड़े भी सील कर जांच के लिए भेज दिए हैं।

फेसबुक पर हुई दोस्ती

पुलिस सूत्रों के अनुसार गैंगरेप की शिकार युवती बिंदास लाइफ जीने की वजह से गलत धंधे में लिप्त लोगों की नजरों में चढ़ी हुई थी। प्लानिंग के तहत पुष्पेंद्र ने उससे फेसबुक पर दोस्ती बढ़ाई और फिर मुलाकात की। जिसकी वजह से वह उसके साथ बिना किसी हिचक के घर चली गई। परिजनों ने पुलिस को बताया कि पीड़ित युवती का रिश्ता पक्का हो चुका है, जल्द ही उसकी शादी होने वाली है।

यह है जांच का मुद्दा

पीड़ित युवती को लेकर पुलिस के सामने कई सवाल खड़े हो गए हैं। उसका झांसी मेडिकल कॉलेज में किस बीमारी का उपचार चल रहा था। पुलिस के अनुसार वह मानसिक रोगी है, तो कौन उपचार कर रहा है? वह किसके साथ दवा लेेने के लिए आई थी। अव्वल तो प्रश्न यह उठता है कि ग्वालियर का मेडिकल कॉलेज काफी विख्यात है। उसने वहां के कॉलेज में उपचार कराया अथवा नहीं।

अमर उजाला

दलित महिला से छेड़छाड़ पर आरोपियों को पीटा

http://www.amarujala.com/news/city/bulandshahr/bulandshahr-crime-news/neighbours-beat-person-sexually-assaulting-minor-woman-hindi-news/

थाना क्षेत्र के एक गांव में बुधवार दोपहर खेतों में घास काट रही दलित महिला के साथ गांव के ही चार युवकों ने छेड़छाड़ कर दी।

महिला के परिजनों ने दो आरोपियों को दबोच जमकर पिटाई कर दी। पुलिस ने घटना की जानकारी से अनभिज्ञता जताई है।

गांव निवासी दलित महिला बुधवार दोपहर जंगल में घास काट रही थी। इस दौरान गांव के ही लोधी समुदाय के चार युवक मौके पर पहुंचे और महिला के साथ छेड़छाड़ करने लगे।

neighbours beat person sexually assaulting minor woman

जब महिला ने विरोध किया तो आरोपियों ने गाली-गलौच कर दी। इसके बाद घर पहुंचकर महिला ने परिजनों को घटना की जानकारी दी।

मौके पर पहुंचे परिजनों ने दो आरोपियों को पकड़ लिया। जबकि दो भाग गए। परिजनों ने दोनों की लात-घूसों से जमकर पिटाई की। एसओ औरंगाबाद बीएस बिसारे ने घटना की जानकारी से अनभिज्ञता जताई है।

अमर उजाला

सीएम तक पहुंचा दलित पर जानलेवा हमले का मामला

http://www.amarujala.com/news/city/hapur/hapur-crime-news/case-reached-cm-the-murderous-attacks-on-dalit-hindi-news/

 कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला छज्जूपुरा में एक व्यक्ति पर जानलेवा हमले के आरोपी पर रिपोर्ट दर्ज होने के बावजूद खुलेआम घूमने का मामला सीएम दरबार में पहुंच गया है। शिकायत पर सीएम ने संज्ञान लेकर पुलिस अधीक्षक से पूरे मामले की आख्या मांगी है।

मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में छज्जूपुरा निवासी दलित कालीचरन ने बताया कि वह गाजियाबाद की एक मार्केटिंग कंपनी में अधिकर्ता के पद पर तैनात है।

यह कंपनी भवन निर्माण का काम करती है। नगर के मोहल्ला श्रीनगर निवासी पवन कुमार मल्होत्रा ने कंपनी के मालिक से मुलाकात कर शिक्षा विहार सहकारी आवास समिति भवन निर्माण के लिए संपर्क किया।

case reached cm the murderous attacks on Dalit.

कंपनी ने पवन को कार्य संबंधित विवरण प्राप्त करने के लिये अधीकृत किया लेकिन पवन ने अपने साथियों के साथ मिलकर धोखाधड़ी कर कंपनी का रुपया हड़प लिया।

इसके बाद वह लगातार पवन से रुपये वापस मांग रहा था। 5 अक्तूबर को जब उसने रुपये मांगे तो पवन ने शाम के समय मंडी पर आकर पैसे देने की बात कही।

तय वक्त पर जब वह रुपये लेने पहुंचा तो पवन और मानव मल्होत्रा ने जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए उस पर जानलेवा हमला कर दिया।

इसमें वह घायल हो गया। इस मामले की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए वह थाने गया तो पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया।

कोर्ट के आदेश पर उसने पवन और मानव के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया, लेकिन इस मामले में पुलिस मानव को ही गिरफ्तार कर सकी है जबकि पवन अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।

पीड़ित कालीचरन की शिकायत पर मुख्यमंत्री ने संज्ञान लिया और पुलिस अधीक्षक को पूरे मामले की आख्या देने के आदेश दिए हैं।

राजेश्थान पत्रिका

दलित था, इसलिए सैलून वाले ने नहीं काटे बाल

http://rajasthanpatrika.patrika.com/story/rajasthan/he-was-dalit-so-barber-refused-to-cut-his-hair-1477071.html

मोबाइल, इंटरनेट और टेक्नोलॉजी की इस दुनिया में भी दलितों के साथ भेदभाव कम नहीं हो रहा। एेसा ही एक वाकया बाप ब्लॉक के लूणा गांव में सामने आया, जहां एक दलित युवक की जाति जानने के बाद उसकी बाल कटिंग बीच में ही छोड़ दी गई।

आरोपी के खिलाफ थाने में मामला दर्ज करवाया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार विशनाराम पुत्र मोटाराम मेघवाल निवासी लूम्बासर शुक्रवार को लूणा गांव स्थित एक नाई की दुकान पर बाल कटवाने गया। वहां दुकानदार बाबूराम पुत्र चुतराराम नाई ने उसके बाल काटने प्रारंभ किए।

सिर के एक तरफ दाएं कान के ऊपर से बाल काटने के दौरान दुकानदार ने विशनाराम से उसकी जाति पूछी। उसने बताया कि वह मेघवाल है। इससे दुकानदार गुस्से में आ गया तथा विशनाराम को जातिसूचक शब्दों से अपमानित करते हुए बाल काटने बीच में ही छोड़ दिए।

प्राथमिकी दर्ज

चाखू थानाधिकारी रतनाराम ने बताया कि इस संबंध में प्रार्थी विशनाराम की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर लिया है तथा उच्चाधिकारियों को भी घटना से अवगत करवा दिया है। इस मामले की जांच जारी है।

नई दुनिया

सीईओ ने पूछा शिवाजी के पिता कौन, शिक्षक बोला आशा भोंसले

http://naidunia.jagran.com/special-story-ceo-asked-who-was-shivajis-father-the-teacher-said-asha-bhosle-600011

शिक्षा के स्तर में लगातार हो रही गिरावट और नियमित स्कूल न जाने की शिक्षकों की मनमानी तो आम बात है, लेकिन शिक्षकों का सामान्य ज्ञान कितना कमजोर है इसका अंदाजा इन शिक्षक के जबाव से लगाया जा सकता है।

स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे जनपद सीईओ ने जब स्कूल के शिक्षक से छत्रपति शिवाजी के पिता का नाम पूछा तो उन्होंने आशा भोंसले बता दिया। शिक्षक की अज्ञानता से खफा होकर सीईओ ने उन्हें सस्पेंड कर दिया है। शिवाजी के पिता का नाम शाहजी भोंसले है।

तेंदूखेड़ा जनपद सीईओ मनीष बागरी बुधवार को मुख्यालय से लगभग 20 किमी दूर झलौन गांव के प्राथमिक व मिडिल स्कूल में अचानक निरीक्षण करने पहुंच गए। उन्होंने स्कूल का निरीक्षण किया और व्यवस्थाएं सुधारने के निर्देश दिए। निरीक्षण करते हुए सीईओ श्री बागरी प्राथमिक स्कूल के बच्चों के पास पहुंचे और उन्होंने बच्चों से छत्रपति शिवाजी के पिता का नाम पूछा।

छात्र सवाल का जबाब नहीं दे पाए। इस समय स्कूल के सहायक शिक्षक लखना दलित भी मौजूद थे। जब छात्र सवाल का जबाब नहीं दे पाए तो सीईओ ने शिक्षक से वही सवाल पूछ लिया। शिक्षक ने जबाब में छत्रपति शिवाजी के पिता का नाम आशा भोंसले बता दिया।

जबाब सुनकर सीईओ चकित रह गए और उन्हें शिक्षक की इस नासमझी पर इतना गुस् सा आया कि उन्होंने उस शिक्षक को मौके पर ही निलंबित कर दिया। शिक्षक के जबाब पर सीईओ को हैरानी इसलिए भी हुई कि जबाब तो गलत था ही, लेकिन पुरूष नाम की जगह शिक्षक ने महिला नाम बताया।

शिक्षिका को जारी किया नोटिस

प्राथमिक स्कूल से पहले सीईओ श्री बागरी मिडिल स्कूल के बच्चों से मिले। वहां भी सामान्य ज्ञान के सवाल किए। बच्चे जबाब नहीं दे पाए तो यहां की शिक्षक सविता धुर्वे से उन सवालों के जबाब मांगे। शिक्षिका सवालों के जबाब नहीं दे पाई, लेकिन उन्होंने सहायक शिक्षक की तरह गलत जबाब नहीं दिए, इसलिए उन्हें सीईओ ने नोटिस जारी किया है। शिक्षिका द्वारा दिए जाने वाले नोटिस के जबाब के आधार पर कार्रवाई तय की जाएगी।

 News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s