दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 17.11.15

 

 

 पति को बचाने गई महिला को किया निर्वस्त्र – वेब दुनिया

http://hindi.webdunia.com/madhya-pradesh/dalit-woman-naked-in-madhya-pradesh-115111600070_1.html

छेड़छाड़ के आरोपी ने फाड़ी सिपाही की वर्दी – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/haridwar/haridwar-crime-news/uniform-of-the-soldier-accused-of-manipulating-the-bush-hindi-news/

अतिक्रमण हटाने को लेकर नोकझोंक – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/haridwar/haridwar-hindi-news/the-altercation-eviction-hindi-news/

एसआई पर मारपीट का आरोप, डीआईजी को शिकायत – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/indore-crime-566785

फर्जी जाति प्रमाणपत्रों के आधार पर नौकरी कर रहे लोगों पर हो कार्रवाई – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/chhattisgarh/raipur-fake-caste-certificates-to-people-doing-the-job-on-the-basis-of-the-action-566464

लक्ष्य 250 का बने मात्र 16 बायोगैस संयंत्र – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/chhattisgarh/janjgir-champa-bane-only16-566526

देहली गेट बवाल में मीट निर्यातक जहीर चारों बेटों सहित नामजद – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/aligarh/meet-exporter-zaheer-and-his-sons-named-in-delhi-gate-voilence-hindi-news/

आदिवासी महिला नेतृत्व के गुण से परिपूर्ण : शालिनी – प्रभात खबर

http://www.prabhatkhabar.com/news/ranchi/story/611660.html

अनुसूचित जाति कर्मचारी 6 दिसंबर को करेंगे सीएम का घेराव – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/HAR-OTH-MAT-latest-fatehabad-news-021005-3033508-NOR.html

 An Appeal: Please contribution to PMARC for strengthen Democracy, Peace & Social Justice !

 वेब दुनिया

पति को बचाने गई महिला को किया निर्वस्त्र

http://hindi.webdunia.com/madhya-pradesh/dalit-woman-naked-in-madhya-pradesh-115111600070_1.html

शहडोल में पति को मारपीट से बचाने पर महिला को निर्वस्त्र करने का मामला सामने आया है। हैरानी की बात ये है कि पुलिस ने भी पीड़ितों की शिकायत दर्ज करने की जगह रिश्वत न देने पर उन्हें ही दोषी बना दिया।

दरअसल, बुढ़ार थाना के अंतर्गत आने वाले बिरूहली गांव में दबंग अजय ठाकुर ने एक आदिवासी युवक की जमकर पिटाई कर दी।

युवक की पत्नी अपने पति को बचाने बीच में आई तो अजय और आक्रोशित हो गया। इसके बाद उसने पत्नी को पकड़कर उसे सरेआम निर्वस्त्र कर दिया।

आरोप है कि, जब आदिवासी महिला और उसका पति पुलिस में अपने साथ हुए हादसे के बारे में शिकायत करने पहुंचे, तो पहले तो उन्होंने मामला दर्ज करने से ही मना कर दिया।

काफी देर तक जब महिला लगातार विनती करती रही तो पुलिस मामला दर्ज करने के लिए तैयार हो गई, लेकिन इसके बदले उन्होंने उससे 5 हजार रुपए की रिश्वत मांगी। रिश्वत नहीं देने पर पुलिस ने महिला और उसके पति पर ही झूठा आपराधिक मामला बनाकर उनके खिलाफ केस दर्ज कर लिया।

वहीं इस मामले में जब पुलिस से सवाल पूछे गए तो उन्होंने कहा कि महिला उनके बारे में झूठी शिकायत कर रही है। उन्होंने अपनी सफाई में कहा कि आदिवासी दंपति एक मारपीट के मामले में दोषी हैं और खुद को बचाने के लिए उन्होंने झूठे आरोप लगाए हैं।

अमर उजाला

छेड़छाड़ के आरोपी ने फाड़ी सिपाही की वर्दी

http://www.amarujala.com/news/city/haridwar/haridwar-crime-news/uniform-of-the-soldier-accused-of-manipulating-the-bush-hindi-news/

लक्सर। कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में शराब के नशे में एक युवक ने दलित महिला से छेड़छाड़ कर दी। पीड़िता की शिकायत पर चेतक पुलिस आरोपी को पकड़ने गांव पहुंची तो उसने सिपाहियों के साथ मारपीट कर दी।

एक सिपाही की वर्दी भी फाड़ दी। हंगामा होने पर सिपाही वापस लौट गए। बाद में पुलिस फोर्स गांव पहुंचा और आरोपी को काबू कर कोतवाली लाया गया। कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में दलित महिला अपने खेत पर गई थी। इसी बीच गांव का एक युवक महिला के पास पहुंचा। आरोप है कि युवक ने नशे की हालत में महिला से छेड़छाड़ कर दी।

महिला ने घर पहुंचकर आपबीती बताई।

इस पर परिवार ने लक्सर कोतवाली पुलिस को सूचना दी। शिकायत पर चेतक सवार दो पुलिसकर्मी आरोपी को पकड़ने गांव पहुंचे थे। कोतवाली चलने की बात सुनकर आरोपी सिपाहियों से भिड़ गया।

 एक सिपाही अजीत की वर्दी तक फाड़ डाली। इस पर सिपाही वापस कोतवाली लौट गए और अधिकारियों को पूरे मामले की जानकारी दी। बाद में कोतवाली से जीप में कई पुलिसकर्मी गांव पहुंचे और आरोपी को दबोच लिया। एसएसआई रामकुमार जुयाल ने बताया कि आरोपी को पकड़ लिया गया है, उससे पूछताछ करते हुए मामले की जांच की जा रही है। आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

अमर उजाला

अतिक्रमण हटाने को लेकर नोकझोंक

http://www.amarujala.com/news/city/haridwar/haridwar-hindi-news/the-altercation-eviction-hindi-news/

मंगलौर। हाईवे चौड़ीकरण को लेकर अतिक्रमण हटाने को लेकर लोगों की पुलिस और कंपनी के अधिकारियों से नोकझोंक हो गई। इस दौरान एक दुकान तोड़े जाने के दौरान दुकान मालिक ने हंगामा खड़ा कर दिया।

जिसके बाद प्रशासन ने दुकान मालिक को दो दिन का समय दे दिया। कार्रवाई के दौरान दो मंजिला भवन और दो दुकानें तोड़ दी गई है। दिल्ली-हरिद्वार हाईवे पर मंगलौर के समीप नजरपुरा मोहल्ले से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की गई। जेसीबी के साथ पहुंची एनएच अधिकारियों एवं पुलिस प्रशासन की टीम को देखकर लोगों में हड़कंप मच गया। इस दौरान नजरपुरा मोहल्ले में जैसे ही एक टायर पंक्चर की दुकान को तोड़ने का काम शुरू किया गया तो दुकान स्वामी ने उसका तीखा विरोध किया।

 उसके पक्ष में दलित समाज के लोग भी लामबंद हो गए। लेकिन प्रशासन के कड़े विरोध के बीच दुकान स्वामी बबलू ने सामान आदि उठाने के लिए दो दिन की मांग की। जिस पर प्रशासन ने उसे दो दिन की मोहलत दे दी। इसके बाद हाईवे के दूसरे किनारे से अतिक्रमण हटाने का काम शुरू किया गया।

यहां गैस एजेंसी के समीप एक दुमंजिला भवन को तोड़ दिया गया। साथ ही पीएनबी बैंक के छज्जे को भी तोड़ा गया। इसके बाद दो भवन और ढहाए गए। इस दौरान प्रशासनिक टीम को विरोध का भी सामना करना पड़ा। लेकिन सख्ती के साथ अभियान चलाया गया। अधिकारियों के मुताबिक मंगलवार को भी अभियान जारी रहेगा। बताया गया है कि मंगलवार को धर्मस्थल और एक भाजपा नेता के मकान पर बुल्डोजर चल सकता है। कार्रवाई के दौरान ऐरा कंपनी के अधिकारी राजेश सैनी, कानूनगो हुकुम सिंह, एसआई कैलाश बिष्ट आदि मौजूद रहे।

नई दुनिया

एसआई पर मारपीट का आरोप, डीआईजी को शिकायत

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/indore-crime-566785

इंदौर। एमआईजी थाने के एसआई पर मारपीट और जाति सूचक शब्दों का आरोप लगाकर भाजपा नेताओं ने डीआईजी ऑफिस में प्रदर्शन किया। उन्होंने एसआई पर केस दर्ज करने की मांग कर लिखित शिकायत भी की। भाजपा अनुसूचित जाति नगर उपाध्यक्ष सुभाष धौलपुरे, पार्षद प्रेम जारवाल सहित करीब 40 लोग सोमवार को डीआईजी संतोष कुमार सिंह के पास पहुंचे। धौलपुरे के मुताबिक 13 नवंबर को एमआईजी पुलिस ने रणजीत नामक युवक को पकड़ा था। मैंने कारण पूछा तो एसआई उमाशंकर त्रिपाठी ने अभद्रता की और जाति सूचक शब्दों से अपमानित किया। पुलिस ने रणजीत के साथ भी मारपीट की और धारा 151 में गिरफ्तारी ले ली। थाने पर शिकायत करने पर टीआई एमए सैयद ने एसआई पर कार्रवाई नहीं की। डीआईजी ने आवेदन लेकर कार्रवाई का आश्वासन दिया है। पुलिस के मुताबिक रणजीत के खिलाफ मारपीट की शिकायत थी। वह क्षेत्र के युवक को धमका रहा था। धौलपुरे ने थाने में घुस कर एसआई पर दबाव बनाया था।

नई दुनिया

फर्जी जाति प्रमाणपत्रों के आधार पर नौकरी कर रहे लोगों पर हो कार्रवाई

http://naidunia.jagran.com/chhattisgarh/raipur-fake-caste-certificates-to-people-doing-the-job-on-the-basis-of-the-action-566464

रायपुर। छत्तीसगढ़ सर्वआदिवासी समाज के प्रतिनिधि मंडल ने सोमवार को राज्य सरकार के मुख्य सचिव विवेक ढांड से मंत्रालय (महानदी भवन) में मुलाकात की। इस दौरान शैक्षणिक संस्थाओं में प्रवेश, आदिवासियों की जमीन बिक्री व जाति के नाम में मात्रात्मक त्रुटियों की वजह से जाति प्रमाणपत्र बनाने में आ रही दिक्कतों सहित फर्जी जाति प्रमाणपत्रों के आधार पर नौकरी कर रहे लोगों के विरूद्घ कार्रवाई से जुड़े विषयों पर चर्चा की गई। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य सचिव से फर्जी जाति प्रमाणपत्रों के आधार पर नौकरी कर रहे लोगों के खिलाफ तत्काल बर्खास्तगी की कार्रवाई किए जाने की मांग की। बैठक में मुख्य सचिव ने प्रतिनिधिमंडल को फर्जी जाति प्रमाणपत्रों के आधार पर नौकरी कर रहे लोगों के खिलाफ तत्काल कड़ी कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों सर्वआदिवासी समाज के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से भी मुलाकात कर फर्जी जाति प्रमाणपत्र के आधार पर नौकरी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा था।

मुख्य सचिव ने अपने कार्यालय कक्ष में आयोजित बैठक में प्रतिनिधिमंडल के साथ आदिवासियों के सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक विकास से जुड़े विभिन्न विषयों पर भी विचार-विमर्श किया। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल को राज्य शासन द्वारा इस दिशा में उठाए गए कदमों की भी जानकारी दी। बैठक में विधि विभाग के प्रमुख सचिव एके सामंत रे, स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव सुब्रत साहू, सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव विकास शील, डीडी सिंह व निधि छिब्बर, आदिम जाति कल्याण विभाग के सचिव आशीष भट्ट, संचालक चन्द्रकांत उइके, छत्तीसगढ़ सर्व आदिवासी समाज की अध्यक्ष प्रो. जयलक्ष्मी ठाकुर, कार्यकारी अध्यक्ष बीएल ठाकुर, महासचिव जीएस धनंजय, उपाध्यक्ष बीपीएस नेताम व शिशुपाल सोरी, कोषाध्यक्ष एमआर ठाकुर, सचिव बीएस रावटे और महिला प्रभाग की अध्यक्ष कमला देवी नेताम सहित समाज के अनेक सदस्य मौजूद थे।

नई दुनिया

लक्ष्य 250 का बने मात्र 16 बायोगैस संयंत्र

http://naidunia.jagran.com/chhattisgarh/janjgir-champa-bane-only16-566526

जांजगीर चाम्पा(निप्र)। लगभग 50 पᆬीसदी अनुदान के बाद भी जिले में बायोगैस संयंत्र के प्रति लोगों की रूचि नहीं दिख रही है। साल भर में यहां 250 बायोगैस संयंत्र बनाने का लक्ष्य रखा गया है। जबकि 7 माह में मात्र 16 लोगों ने ही बायो गैस संयंत्र का निर्माण कराया। धुंआ रहित चूल्हा और एलपीजी का सस्ता विकल्प होने के बाद भी जागरूकता के अभाव में शासन की यह योजना फ्लाप हो रही है।

जिले में 5 लाख 50 हजार 228 गाय व 79 हजार 527 भैंस हैं। इसलिए गोबर की कमी या अनुपलब्धता जैसी कोई समस्या नहीं है। इसके बावजूद यहां गोबर गैस संयंत्र का लाभ ग्रामीण नहीं उठा रहे हैं। के्रडा के अधिकारियों के अनुसार बायोगैस संयंत्र बनाने में 20 हजार रूपए की लागत आती है। इसके लिए के्रडा विभाग द्वारा सामान्य व पिछड़ा वर्ग के लिए 9 हजार और अनुसूचित जाति व अनुसूचित जन जाति वर्ग के लिए 11 हजार अनुदान की राशि दी जाती है। लेकिन विभाग द्वारा व्यापक प्रचार-प्रसार के अभाव में लोगों को जानकारी नहीं हो पाती। जानकारी के अभाव में शासन की योजना का लाभ ग्रामीणों को नहीं मिल रहा है। जिले के क्रेडा विभाग को प्रत्येक वर्ष गोबर गैस प्लांट बनाने के लिए लक्ष्य दिया जाता है। पिछले वित्तीय वर्ष में 250 संयंत्र का लक्ष्य निर्धारित किया गया था।

इनमें से विभाग द्वारा 126 प्लांट का निर्माण कराया गया। इसी तरह इस वित्तीय वर्ष में 250 गोबरगैस प्लांट बनाने की योजना है लेकिन अप्रैल से अब तक मात्र 16 प्लांट का निर्माण हो सका है। जबकि के्रडा विभाग द्वारा प्रत्येक गांवों में बायोगैस प्लांट निर्माण के लिए स्व रोजगार कार्यकर्ता भी नियुक्त किया जाता है। इसके लिए स्व रोजगार कार्यकर्ता को बायोगैस प्लांट के निर्माण से संबंधित जानकारी मुहैया कराई जाती है और इस आधार पर वह ग्रामीणों को प्रेरित करता है। इसके लिए विभाग द्वारा उसको प्रत्येक बायोगैस प्लांट के लिए 700 रूपए दिया जाता है।

41 किसानों ने लगवाया सोलर पम्पिंग सिस्टम

किसानों की आर्थिक स्थिति बेहतर बनाने व मुफ्त बिजली मुहैया कराने के लिए के्रडा विभाग द्वारा सोलर सिंचाई पंप योजना का क्रियान्वयन किया गया है। इस पंप में बिजली की आवश्यकता नहीं होगी और किसान 5 एचपी के पंप से खेतों की सिंचाई बिना बिजली के कर सकेंगे। राज्य अक्षय ऊर्जा विकास निगम (के्रडा) द्वारा किसानों के लिए सोलर पम्पिंग सिस्टम योजना शुरू की गई है। इस योजना के अंर्तगत 5 एकड़ के किसान को क्रेडा विभाग द्वारा खेतों की सिंचाई के लिए सोलर सिंचाई पम्प दिया जाता है। । इस योजनान्तर्गत 5 एकड़ या उससे अधिक के किसान को अपने खेत में सिंचाई के लिए बोर कराना होगा। के्रडा द्वारा 5 एपी /4800 वाट के सोलर सिंचाई पंप के लिए किसानों को 3 लाख 60 हजार रूपए का अनुदान दिया जाएगा। इसमें कुल खर्च 5 लाख रूपए होगा। इसके लिए शासन द्वारा किसानों को 3 लाख 60 का अनुदान राशि दिया जाएगा शेष राशि 1लाख से डेढ़ लाख रूपए किसानों को विभाग के कार्यालय में जमा करना होगा। इस योजना का लाभ 41 किसानों ने लिया है। 4 माह के हिसाब से हितग्राहियों की संख्या संतोष जनक है।

”जिले में 41 किसानों ने सोलर पपिंग सिस्टम योजना लाभ उठाया है। इसी तरह जिले में अब तक 16 हितग्राहियों ने बायोगैस संयंत्र निर्माण कराया है। जिले में राज्य शासन द्वारा वर्ष 2015-16 के लिए 250 बायोगैस संयंत्र बनाए जाने का लक्ष्य रखा गया है। विभाग द्वारा संयंत्र निर्माण कराने के प्रेरित किया जा रहा है।”

विजय कुमार

एई, के्रडा जांजगीर

अमर उजाला

देहली गेट बवाल में मीट निर्यातक जहीर चारों बेटों सहित नामजद

http://www.amarujala.com/news/city/aligarh/meet-exporter-zaheer-and-his-sons-named-in-delhi-gate-voilence-hindi-news/

अलीगढ़। महानगर के अतिसवंदेनशील देहली गेट के सांप्रदायिक उपद्रव मामले में पुलिस ने रविवार रात और सोमवार सुबह तक तीन और मुकदमे दर्ज कर लिए। इनमें से एक मुकदमे में महानगर के प्रमुख मीट निर्यातक हाजी जहीर और उनके चारों बेटों पर डकैती व हमले का आरोप लगा है। इसके अलावा एक मुकदमा देहली गेट चौराहे पर सोमवार सुबह हुए जाम-हंगामा के संबंध में पुलिस की ओर से दर्ज किया गया है।

एसओ देहली गेट विनोद कुमार के अनुसार एक मुकदमा मोहल्ला खटीकान पक्ष के गोली लगने से घायल सनी के भाई जैकी सैजवाल निवासी पंत नगर गली खटीकान देहली गेट की ओर से दर्ज कराया गया है। जिसमें उल्लेख है कि 12 नवंबर को हुए उपद्रव के दौरान मीट निर्यातक हाजी जहीर, उनके चारों बेटे तौकीर, तौसीफ, अतीक व आदिल निवासी सराय मियां ख्वाजा चौक, अनवार खलीफा निवासी छंगा वाली मसजिद सराय मियां व उनके 10-11 सूरत शिनाख्त साथी पुरानी रंजिश के तहत उसके दरवाजे पर आ गए और हम दोनों भाइयों को पुकारने लगे। अंदर से मां ने आवाज लगाई कि बेटे बाहर गए हैं। इसी बीच हम दोनों भाई बाजार से लौटते हुए इन नामजदों को दिखाई दे गए।

इसके बाद हमलावरों ने हम पर फायरिंग करते हुए मारपीट की। इस दौरान सनी के गोली लग गई और हमारे हाथों से सामान व जेबों से भी नगदी आदि लूट ली। यह मुकदमा धारा 395, 307, 504, 506, दलित एक्ट के तहत दर्ज किया गया है।

दूसरा मुकदमा घायल विक्की के भाई कमल सिंह ने मोहसिन, कदीर उर्फ जाहिया, अरमान, शकील, साजिद, अंसार, अलाउद्दीन सभी निवासी छंगावाली मसजिद व उनके 10-12 सूरत शिनाख्त साथियों पर दर्ज कराया है। इसमें उल्लेख है कि बलवे के समय मैं व मेरा भाई देहली गेट से दवा लेकर लौट रहे थे। तभी नामजदों ने घेरकर रंजिश के तहत हमला बोल दिया और फायरिंग कर दी।

इस हमले में विक्की छर्रे लगने से जख्मी हुआ। यह मुकदमा 147, 148, 149, 307, 504 व दलित एक्ट के तहत दर्ज किया गया है। तीसरा मुकदमा सोमवार सुबह थाने के अंदर व चौराहे पर जाम हंगामा आदि के संबंध में गिरफ्तार किए गए युवकों के 100-150 अज्ञात परिजनों के खिलाफ चौकी इंचार्ज रामदेव की ओर से दर्ज कराया गया है।

प्रभात खबर

आदिवासी महिला नेतृत्व के गुण से परिपूर्ण : शालिनी

http://www.prabhatkhabar.com/news/ranchi/story/611660.html

रांची: सामाजिक कार्यकर्ता शालिनी संवेदना ने कहा कि आदिवासी महिलाओं को कहीं  बाहर से नेतृत्व सीखने की जरूरत नहीं है़   संघर्ष और बलिदान झारखंडियों की  विरासत है. यहां के  इतिहास, सांस्कृतिक परंपरा व आदिवासी दर्शन को ध्यान में रखने की जरूरत है़ वह ‘स्थानीय स्वशासी व्यवस्था,  सामुदायिक संगठन और अधिकारों के संघर्ष में महिला नेतृत्व’ विषयक सेमिनार में बोल रही थी़ं   यह आयोजन बिरसा एमएमसी और अद्दी हक महिला मोर्चा ने एचआरडीसी  सभागार में किया़.

महिलाओं के मुद्दे पूरे समाज के

दिल्ली से आयी महिला नेत्री असीमा ने कहा कि महिलाओं के मुद्दे केवल उनके ही नहीं, बल्कि  पूरे समाज के है़ं  उनके सवालों पर पूरे समाज को मुखर होना चाहिए़   बसनी मुर्मू ने कहा कि ऐसी मुखिया चुनें जो सरकार की पिट्ठू न हो़   स्वतंत्र रूप से अपनी जिम्मेवारी संभालें और पारंपरिक स्वशासन व्यवस्था का भी ध्यान रखे़ं   दुमका से आयी मर्सेला मुर्मू ने कहा कि महिला नेतृत्व की पहली लड़ाई घर से शुरू होती है.

विपुल दिव्य ने कहा कि महिला नेतृत्व में पितृसत्तात्मक मानसिकता  बाधक है़ . महिलाओं को वैचारिक जड़ता और गुलामी से बचना चाहिए. कार्यक्रम की अध्यक्षता एलिस चेरोवा ने की़   इस मौके पर  बीना लिंडा, करुणा कुमारी,  फरजाना फारूकी, रेखा नगेसिया, नेहा कुजूर, मेरी निशा हंसदा, प्रिंया कुंकल, अलका बारजो, छेनो लकड़ा, राजमति देवी, रोशनी होरो, असरिता सुरीन, सिलवंती देवी, सुमरेन मिंज, रीता सोरेन, डॉली मिंज, संध्या कुमारी व अन्य ने भी विचार रखे़   मंच का संचालन लक्ष्मी कुमारी व धन्यवाद ज्ञापन मार्था तिग्गा ने किया. कार्यशाला में रांची, लातेहार, चतरा, खूंटी,  पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम, दुमका, गोड्डा, सिमडेगा, हजारीबाग, सरायकेला और ओड़िशा के सुंदरगढ़ जिले की महिलाएं मौजूद थी़ं.

दैनिक भास्कर

अनुसूचित जाति कर्मचारी 6 दिसंबर को करेंगे सीएम का घेराव

http://www.bhaskar.com/news/HAR-OTH-MAT-latest-fatehabad-news-021005-3033508-NOR.html

हरियाणामें अनुसूचित जाति के कर्मचारियों और अधिकारियों की डिमोशन करने दलित समाज पर बढ़ रहे अत्याचारों पर रोक लगवाने को लेकर ऑल हरियाणा शेड्यूल कास्ट एंप्लाइज फैडरेशन ने सरकार से आर-पार की लड़ाई लड़ने का ऐलान कर दिया है। फेडरेशन के राज्य उपप्रधान सुखदेव भुक्कल, जिला प्रधान रणधीर रंगा, जिला उपप्रधान सूरजभान चोपड़ा जिला सचिव रमेश नहला ने संयुक्त बयान जारी कहा कि हरियाणा में हाई कोट ने 16 मार्च 2006 से प्रमोशन में रिजर्वेशन का लाभ ले चुके अनुसूचित जाति के कर्मचारियों अधिकारियों को रिवर्ट कर दिया है।

इसके तहत 10 नवंबर को शिक्षा विभाग में प्रमोशन का लाभ ले चुके 25 उप अधीक्षकों को रिवर्ट करके दोबारा से सहायक के पद पर लेकर उनको रिलीव करने के आदेश थमा दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि 11 अक्टूबर 2015 को फेडरेशन के प्रतिनिधिमंडल के साथ हुई बातचीत में मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया था कि वे अनुसूचित जाति के कर्मचारियों की डिमोशन नहीं होने देंगे और 16 मार्च 2006 से इनकी प्रमोशन में रिजर्वेशन को जारी रखने के लिए न्यायालय में ठोस पक्ष रखते हुए एसपीएल डालेंगे लेकिन सरकार ने ऐसा नहीं किया। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति के लोगों को एकजुट करके 25 नवंबर को मौजूदा सरकार के विधायकों और मंत्रियों के आवास पर जिलास्तरीय धरना दिया जाएगा। इसके बाद 6 दिसंबर को करनाल में मुख्यमंत्री का घेराव किया जाएगा। आगामी रणनीति बनाने के लिए फेडरेशन की बैठक 17 नवंबर को खटीक धर्मशाला रतिया में बुलाई गई है।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s