दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 23.10.15

वोट के लिए दलितों पर हमला, गला रेता – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/national-attack-on-dalits-for-vote-526206

फरीदाबाद के बाद अब यमुनानगर में दलित युवक को जिंदा जलाया – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/state/delhi-ncr-now-dalit-man-burnt-alive-in-yamunanagar-526120

हरियाणा: दलित लड़के की संदिग्ध हालात में मौत, परिवार का पुलिस पर आरोप – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news-ht/HAR-OTH-dalit-teen-charged-with-theft-found-dead-family-accuses-cops-5148984-PHO.html

हरियाणा में लगातार बढ़ता ही जा रहा दलितों की हत्याओं का ग्राफः NCRB जनसत्ता

http://www.jansatta.com/national/haryana-dalit-attacks-7-fold-jump-in-3-govts/45658/

सुनपेड़ की घटना के विरोध में प्रदर्शन, जाम – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/kurukshetra/kurukshetra-crime-news/sunped-the-protest-demonstration-jam-hindi-news/

अब नही लगेगा SCIENCE-MATHS से डर, पढऩे में आएगा मजा – राजेश्थान पत्रिका

http://rajasthanpatrika.patrika.com/story/rajasthan/now-science-maths-will-be-interesting-to-study-goverment-will-bring-a-good-scheme-1399723.html

Please Watch:

The Big Picture –

Checking atrocities against Dalits

https://www.youtube.com/watch?v=BimyZODa7f8

Save Dalit Foundation:

Educate, agitate & organize! – Dr. Ambedkar.

Let us all educates to agitate & Organize to Save Dalit Foundation !         

Please sign petition for EVALUATION of DF by click this link : https://t.co/WXxFdysoJK

नई दुनिया

वोट के लिए दलितों पर हमला, गला रेता

http://naidunia.jagran.com/national-attack-on-dalits-for-vote-526206

 बागपत। उत्तर प्रदेश में प्रधान पद के संभावित उम्मीदवार को वोट देने से मना करने पर काठा गांव में दबंगों ने दलित परिवार के घर पर धावा बोल कर दो भाइयों को गंभीर घायल कर दिया। इनमें से एक का गला रेता गया है। चिकित्सकों ने गंभीर हालत में उसे मेरठ रेफर किया है।

घटना को लेकर गांव में जाट और दलितों के बीच तनाव बना हुआ है। घायल जयदेव ने बताया कि बुधवार शाम लगभग 4.30 बजे उसके घर गांव के ही चार दबंग आए और उस पर ग्राम प्रधान पद के संभावित प्रत्याशी साहब सिह को वोट देने का दबाव बनाया।

उसने मना करते हुए वोट संभावित प्रत्याशी बिल्लू को देने की बात कह दी तो मारपीट की और चाकू के कई वार उसके हाथ व गर्दन पर किए। पास में खड़े तहेरे भाई बिजेंद्र ने बचाने का प्रयास किया तो उसके गले पर भी चाकू मार दिया, जिससे वह लहूलुहान होकर गिर पड़ा। इसके बाद आरोपी उनकी मर्जी के मुताबिक वोट देने की धमकी देते हुए चले गए।

नई दुनिया

फरीदाबाद के बाद अब यमुनानगर में दलित युवक को जिंदा जलाया

http://naidunia.jagran.com/state/delhi-ncr-now-dalit-man-burnt-alive-in-yamunanagar-526120

 यमुनानगर। हरियाणा में फरीदाबाद की घटना को लेकर शोर अभी थमा भी नहीं था कि यमुनानगर के मंसूरपुर में मंगलवार रात 21 वर्षीय दलित युवक को रंजिशन कुछ लोगों ने जिंदा जला दिया। पुलिस ने गांव के ही तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है, लेकिन अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

मारे गए युवक रजत के पिता केहर सिंह ने बताया कि मंगलवार रात साढ़े आठ बजे गांव के रामस्वरूप और उसके बेटों विनोद व चंद्रभान ने रजत पर मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा दी। गंभीर रूप से घायल रजत को वे रादौर सिविल अस्पताल ले गए।

डॉक्टरों ने उसे यमुनानगर सिविल अस्पताल रैफर कर दिया। हालत ज्यादा खराब होने पर उसे चंडीगढ़ पीजीआई भेजा गया, लेकिन परिजन उसे मुलाना मेडिकल कॉलेज ले गए। रात करीब एक बजे रजत ने जिंदगी और मौत से जूझते हुए दम तोड़ दिया। उल्लेखनीय है कि 17 अक्टूबर को रजत की मां बसो देवी ने रामस्वरूप, चंद्रभान और विनोद के विरुद्ध किसी मामले को लेकर मुकदमा दर्ज कराया था। बुधवार को रजत का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

दैनिक भास्कर

हरियाणा: दलित लड़के की संदिग्ध हालात में मौत, परिवार का पुलिस पर आरोप

http://www.bhaskar.com/news-ht/HAR-OTH-dalit-teen-charged-with-theft-found-dead-family-accuses-cops-5148984-PHO.html

 गोहाना. हरियाणा में दलित समुदाय के दो बच्चों की जलाए जाने से मौत का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि इसी समुदाय से जुड़ा एक और मामला सामने आया है। गुरुवार को यहां 15 साल के एक लड़के की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। लड़के पर कबूतर चोरी का आरोप लगाया गया था। परिवार का आरोप है कि पुलिस हिरासत में टॉर्चर किए जाने से लड़के के मौत हुई है। पुलिस ने कहा है कि लड़के की मौत उसके घर हुई है।

000000001_1445569562_1445586

 क्या है मामला

सोनीपत के एसपी. अभिषेक गर्ग के मुताबिक, यहां लोहार जाति के कुछ लोगों ने बुधवार को इस लड़के के खिलाफ कबूतर चोरी का केस दर्ज कराया था। इन लोगों ने लड़के के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। गुरुवार को इस लड़के की मौत हो गई। लड़के की फैमिली का आरोप है कि उसकी मौत पुलिस हिरासत में हुई है। लड़के के परिवार का आरोप है कि मौत का शिकार हुए लड़के की गर्दन, पैर और पेट पर चोट के निशान मिले हैं। उनका आरोप है कि पुलिस ने लड़के को छोड़ने के लिए पांच हजार रुपए रिश्वत मांगी थी।

 इलाके में तनाव

इस घटना के बाद इलाके में तनाव है और वहां भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है। गर्ग के मुताबिक, “लड़के के गले के पास कुछ निशान पाए गए हैं। पोस्ट मॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही इस मामले पर कुछ साफ हो पाएगा।” पुलिस हिरासत में मौत के सवाल पर गर्ग ने कहा, “पोस्ट मॉर्टम रिपोर्ट आने दीजिए, इसके बाद ही कोई एक्शन लिया जाएगा। जहां तक उसके परिवार द्वारा लगाए गए आरोपों का सवाल है, अगर कुछ गलत पाया गया तो हम संबंधित लोगों पर कार्रवाई करेंगे। इसकी पूरी जांच की जाएगी।”

जनसत्ता

हरियाणा में लगातार बढ़ता ही जा रहा दलितों की हत्याओं का ग्राफः NCRB

http://www.jansatta.com/national/haryana-dalit-attacks-7-fold-jump-in-3-govts/45658/

हाल ही हरियाणा राज्य में फरीदाबाद के दलित परिवार के खिलाफ हुई घटना हर को ध्यान में रखते हुए नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की रिपोर्ट आई है।

हाल ही हरियाणा राज्य में फरीदाबाद के दलित परिवार के खिलाफ हुई घटना हर को ध्यान में रखते हुए नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की रिपोर्ट आई है। जिसमें पिछले 15 साल से दलितों के साथ हो रहे अत्याचार को सामने लाकर रख दिया है। इस रिपोर्ट के मुताबिक हरियाणा में पिछले 15 सालों दलितों के खिलाफ लगातार अपराधिक मामलों का ग्राफ बढ़ा है। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्‍यूरो (NCRB) के मुताबिक वर्ष 2009 से लेकर वर्ष 2014 तक इन अपराधों में लगातार तेजी हुई है। गौरतलब है कि हरियाणा के सोनपेड़ में कुछ दिन पहले ही दबंगों ने दलित परिवार के घर में आग लगा दी थी, जिसमें दो बच्‍चों की मौत हो गई थी। यह घटना हर किसी को चौकाने वाली थी।

वहीं इस घटना के बाद जब नेशनल क्राइम रिपोर्ट ब्यूरो के आकड़े सामने आए तो वह भी बेहद चौकाने वाले हैं। इन आंकड़ों के मुताबिक पिछले वर्ष दलितों के खिलाफ हुए अपराधों में करीब 744 दलितों की हत्‍या की गई। वर्ष 2013 में 676, 2012 में 651, 2011 में 673, 2010 में 570 और 2009 में करीब 624 दलितों की हत्‍याएं की गईं। पिछले वर्ष जब हरियाणा में कांग्रेस की सरकार सत्‍ता पर काबिज थी, के दौरान ही करीब 21 दलितों की हत्‍या की गई। ब्‍यूरों के आंकड़े बताते हैं कि दलित महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों में भी पिछले कुछ वर्षों में लगातार इजाफा हुआ है। आंकड़ों के मुताबिक वर्ष 2009 में 1346, 2010 में 1349, 2011 में 1557, 2012 में 1576, 2013 में 2074 और 2014 में करीब 2233 अपराध दलित महिलाओं के खिलाफ सामने आए हैं। इस संबंध में एनसीआरबी के आंकड़े बेहद चौंकाने वाले हैं।

इन आंकड़ों के मुताबिक पिछले वर्ष दलितों के खिलाफ हुए अपराधों में न जाने कितने ही दलितों की हत्‍या की गई। साल 2000 में 117, 2001 में 243, 2002 में, 2003 में 195, 2004 में 217, 2005 में 288, 2005 में 283, 2007 में 227, 2007, 2008 में 341, 2009 में 303, 2010 में 380, 2001 में 408, 2012 में 252, 2013 में 676, 2012 में 651, 2011 में 673, 2010 में 570 और 2014 में 830 दलितों की हत्‍याएं की गईं। पिछले वर्ष जब हरियाणा में कांग्रेस की सरकार सत्‍ता साशन में थी। तभी 21 दलितों की हत्या कर दी गई थी। रिपोर्ट के मुताबिक 444 केस दलितों के खिलाफ अभी रजिस्टर्ड हैं। ब्‍यूरों के आंकड़े बताते हैं कि दलित महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों में भी पिछले कुछ वर्षों में लगातार इजाफा हुआ है। दलितों को अगवा करने के मामलों में भी पिछले दो वर्षों

में तेजी देखने को मिली है।

अमर उजाला

सुनपेड़ की घटना के विरोध में प्रदर्शन, जाम

http://www.amarujala.com/news/city/kurukshetra/kurukshetra-crime-news/sunped-the-protest-demonstration-jam-hindi-news/

फरीदाबाद के सुनपेड़ गांव में दलित परिवार को जिंदा जलाने की घटना के विरोध में वीरवार को विभिन्न अनुसूचित जाति के संगठनों ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी एकत्र होकर नारेबाजी करते हुए अंबेडकर चौक पर पहुंचे और घटना की कड़े शब्दों में निंदा की। गुरु रविदास धर्मशाला से रोष जुलूस निकालते हुए सभा के सदस्य लघु सचिवालय तक पहुंचे। इस दौरान उन्होंने जगह-जगह जाम भी लगाया। शहर के मुख्य रोड से होते सभी लघु सचिवालय पहुंचें और वहां राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री आदि के नाम ज्ञापन सीटीएम पूजा भारती को सौंपा।

सुनपेड़ में हुई घटना के विरोध प्रदर्शन करने के लिए गुरु रविदास सभा में श्री गुरु रविदास मंदिर एवं रविदास सभा, डॉ. अंबेडकर स्टूडेंट फ्रंट ऑफ इंडिया, हरियाणा अनुसूचित जाति राजकीय अध्यापक संघ, आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति, केयू के भारतीय विद्यार्थी मोर्चा, भारतीय दलित साहित्य अकादमी, केयू के अनुसूचित जाति गैरशिक्षक कर्मचारी संघ और जिला युवा विकास संगठन के कार्यकर्ता रविदास धर्मशाला में एकत्रित हुए। यहां से सभी ने जुलूस निकाला।

संगठनों के कार्यकर्ताओं ने सबसे पहले अंबेडकर चौक पर धरना दिया। यहां उन्होंने केंद्र सरकार का पुतला फूंका। इस दौरान करीब 20 मिनट तक जाम लगाया। इसके बाद पुराने बस अड्डे पर पहुंचे और वहां भी जाम लगा दिया। इसके बाद सभी ने श्रद्धानंद चौक और फिर मोहन नगर पुल पर भी जाम लगाया। वहां से रोष मार्च करते हुए संगठनों के सदस्य सेक्टर-7 मोड़ पर पहुंचे। यहां भी जाम लगाकर रोष जताया। यहां से सभी लघु सचिवालय पर पहुंचे और घटना के विरोध में नारेबाजी की। विरोध जता रहे लोगों ने मांग की कि इस घटना के आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए और उन्हें फांसी की सजा दी जाए। इसके साथ ही मामले में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की मांग की गई। रोष प्रदर्शन में मुख्य रूप से फकीर चंद, सुखबीर मेहरा, कुलदीप, ओमप्रकाश सिरोहा, वकील चंद रंगा, मिहा सिंह रंगा, वीरेंद्र सिरोही, प्रवीण वत्ती, डॉ.जीत सिंह शेर, जसबीर सिंह भारत, डॉ.विजय विद्यार्थी, योदेश कर्णवाल, मास्टर रमेश, मास्टर बलकार सिंह, राजपाल, सुशील, हंसराज, मान सिंह आदि भी उपस्थित रहे।

राजेश्थान पत्रिका

अब नही लगेगा SCIENCE-MATHS से डर, पढऩे में आएगा मजा

http://rajasthanpatrika.patrika.com/story/rajasthan/now-science-maths-will-be-interesting-to-study-goverment-will-bring-a-good-scheme-1399723.html

 ब्यावर राजकीय विद्यालयों में पढऩे वाले बच्चों में विज्ञान व गणित विषय में रुचि बढ़ाने के प्रयास को लेकर शिक्षा विभाग की ओर से दृष्टि योजना शुरू होने जा रही है। जहां एससी, एसटी, अल्पसंख्यक, अरबन डिप्राईड चिल्ड्रन (शहरी वंचित बच्चे) व बालिकाओं में विज्ञान व गणित विषय के प्रति रुझान बढ़ाने का प्रयास होगा।

इसके तहत इन श्रेणियों के बच्चों से गणित व विज्ञान विषयों के मॉडल बनवाए जाएंगे व सबसे श्रेष्ठ प्रोजेक्टों को पुरस्कृत भी किया जाएगा। शिक्षा विभाग के इस नवाचार को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य गणित व विज्ञान विषय के प्रति बच्चों में दिलचस्पी पैदा करना है।

किसी भी विषय के प्रति अभिरुचि जागृत करने का सबसे सशक्त माध्यम माने जाने वाले प्रोजेक्ट शिक्षण का सहारा लेकर विभाग इन श्रेणियों के बच्चों का माध्यमिक स्तर पर इन विषयों में नामांकन बढ़ाने का लक्ष्य लेकर चल रहा है। इसके लिए विद्यालय स्तर से लेकर ब्लॉक और जिला स्तर त्रिस्तरीय गतिविधियां संचालित की जाएंगी।

 ऐसे जमा होंगे मॉडल

जिले के प्रत्येक ब्लॉक स्तर पर दोनों विषयों के 100-100 प्रोजेक्ट एकत्र किए जाएंगे। ब्लॉक से जिला स्तर पर सबसे बेहतर 25-25 प्रोजेक्टों को भेजा जाएगा। इनमें से सबसे अच्छे प्रोजेक्टों को सम्मानित किया जाएगा।

विद्यालय में होंगे यह कार्य

-राज्य के सभी उच्च प्राथमिक विद्यालय में पढऩे वाली बालिकाओं, एससी, एसटी, अल्पसंख्यक व शहरी वंचित क्षेत्र के बच्चों की गणित व विज्ञान विषयों में सहभागिता बढ़ाने के लिए प्रतिकक्षा पीयर समूह बनाए जाएंगे।

-इस समूह को मासिक आधार पर विषय आधारित व्यवहारिक पहलुओं पर प्रोजेक्ट बनाने के लिए दिया जाएगा।

-प्रोजेक्ट में सभी की भागीदारी के लिए रोटेशन से समान अवसर दिए जाएंगे।

-इसके बाद श्रेष्ठ प्रोजेक्ट को स्कूल में सभी बच्चों के सामने प्रस्तुत कराया जाएगा।

-इसके अलावा बूझो तो जाने जैसी प्रतियोगिता के माध्यम से बच्चे स्वयं अपने स्तर पर प्रश्न व पहेलियां तैयार कर लाएंगे। इनको कक्षा शिक्षण व बाल सभा में शामिल किया जाएगा।

 इनका कहना है…

बच्चों में गणित व विज्ञान विषय में रुझान बढ़ाने के लिए विभाग की ओर से दृष्टि योजना शुरू होने जा रही है। इस योजना के सम्पूर्ण दिशा-निर्देश मिलते ही विद्यालयों में शुरू कर दी जाएगी।

सुआलाल सिवासिया, ब्लॉक शिक्षा अधिकारी, जवाजा

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s