दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 21.10.15

 बच्चों को जिंदा जलाया: कमिश्नर ने दी थी गारंटी, उसी भरोसे गांव लौटी थी फैमिली – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/HAR-FAR-OMC-faridabad-commissioner-was-given-guarantee-for-security-of-dalit-family-5147269-PHO.html

आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-PALI-MAT-latest-pali-news-035045-2882358-NOR.html

फरीदाबाद: दलित परिवार को जलाने पर एसी आयोग सख्त, पुलिस अधिकारियों को किया तलब – जनसत्ता

http://www.jansatta.com/national/ncsc-strict-over-faridabad-dalit-family-burnt-case-ask-to-police-officers/45200/

अराजकतत्वों ने अंबेडकर की प्रतिमा तोड़ी – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/budaun/ambedkar-from-arajkttwon-the-statue-made-out-hindi-news/

दलित लोगों को जलाना निंदनीय: भाटिया – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/HIM-OTH-MAT-latest-hamirpur-news-020007-2880955-NOR.html

ब्लाक प्रमुख के पति समेत सात पर रिपोर्ट – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/lakhimpur-kheri/lakhimpur-kheri-crime-news/following-the-major-s-husband-including-seven-reports-hindi-news/

नान गजटेड एससी-बीसी फैडरेशन की बैठक कल – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/PUN-OTH-MAT-latest-banga-news-020505-2881036-NOR.html

Please Watch:

ABP News stands by its report on Dalits not being allowed to vote in Bihar polls

https://www.youtube.com/watch?v=PmJ0BZDCRVA

Save Dalit Foundation:

Educate, agitate & organize! – Dr. Ambedkar.

Let us all educates to agitate & Organize to Save Dalit Foundation !         

Please sign petition for EVALUATION of DF by click this link : https://t.co/WXxFdysoJK

दैनिक भास्कर

बच्चों को जिंदा जलाया: कमिश्नर ने दी थी गारंटी, उसी भरोसे गांव लौटी थी फैमिली

http://www.bhaskar.com/news/HAR-FAR-OMC-faridabad-commissioner-was-given-guarantee-for-security-of-dalit-family-5147269-PHO.html

 बल्लभगढ़। यहां के एक गांव में दलित समुदाय के एक शख्स के घर में घुसकर उसके परिवार को जिंदा जलाने की कोशिश के मामले में नई जानकारियां सामने आई हैं। इसके मुताबिक, पीड़ित जितेंद्र को पुलिस कमिश्नर ने सुरक्षा की लिखित गारंटी दी थी। इसके बावजूद ये घटना हुई।

 क्या हुआ था पिछले साल?

दरअसल, पिछले साल गांव में ऐसी हिंसा हुई थी। झगड़ा मोबाइल को लेकर हुआ और 5 अक्टूबर 2014 को सवर्ण जाति के तीन युवकों की हत्या कर दी गई। तब दलित परिवार पर हत्या का आरोप लगा था। पुलिस ने 11 को गिरफ्तार किया था। दलितों को डर था कि दबंग पूरी जाति से बदला लेंगे। लिहजा बाकी दलित परिवार गांव छोड़ कर चले गए। जितेंद्र भी उन्हीं में से था। मामला एससी-एसटी आयोग में गया। आयोग ने फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर से इन परिवारों को दी जाने वाली सुरक्षा के बारे में पूछा। पिछले साल दिसंबर में कमिश्नर ने लिखित में कहा कि जितेंद्र के घर के पास एक पुलिस जिप्सी, आधा दर्जन हथियारबंद जवान और दो बाइक सवार जवान तैनात रहेंगे। एसएचओ खास निगरानी भी करेंगे। इस भरोसे के बाद जितेंद्र और उसका परिवार इस साल जनवरी में गांव लौटा था।

untitled-6665_1445387399

 क्या है मामला?

बल्लभगढ़ के सुनपेड गांव में मंगलवार रात कुछ लोगों ने दलित समुदाय के जितेंद्र के घर में घुसकर पेट्रोल छिड़का और आग लगा दी। फिर बाहर से दरवाजा बंदकर भाग गए। घटना में जितेंद्र के दोनों बच्चों की मौत हो गई। जितेंद्र और उनकी पत्नी झुलस गए। पत्नी का दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में आईसीयू में इलाज चल रहा है।

 क्या बताया विक्टिम में?

जितेंद्र ने बताया, ”पत्नी रेखा और बच्चों (ढाई साल के वैभव 10 माह की दिव्या) के साथ हम सो रहे थे। रात करीब ढाई बजे खिड़की से किसी ने पेट्रोल फेंका। छींटे हाथ पर पड़े तो मेरी नींद टूट गई। मैंने पत्नी-बच्चों को उठाया और बाहर जाने लगा। तब तक माचिस की तीली कमरे में गिरी और किसी ने बाहर से दरवाजा बंद कर दिया। कमरे में आग फैल गई। हम चिल्लाते रहे, पर गांव में हो रहे माता का जागरण के कारण किसी ने नहीं सुनी। इस बीच जागरण में बैठी एक बच्ची शॅाल लेने अपने घर जा रही थी। उसने मेरे घर में आग देखी और लोगों को बताया। तब सब आए और हमें निकाला।”

 क्या हुई कार्रवाई?

जितेंद्र ने पुलिस को बताया कि गांव के अगड़ी जाति के लोगों ने हमला किया है। पुलिस ने 11 के खिलाफ केस दर्ज कर तीन को हिरासत में लिया है। सुरक्षा में लापरवाही बरतने के आरोप में बल्लभगढ़ के थाना सदर प्रभारी अनिल कुमार समेत आठ पुलिसवालों को सस्पेंड किया गया है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सीएम मनोहरलाल से रिपोर्ट मांगी है। सीएम ने दुख जताया और पीड़ित परिवार को 10 लाख रुपए देने का एलान किया।

 कैसा है गांव का माहौल?

सुनपेड में तनाव का माहौल है। गलियों में सन्नाटा है। बच्चों को स्कूल नहीं भेजा गया। इसे देखते हुए भारी तादाद में पुलिसबल तैनात किया गया है। पुलिस और प्रशासन के आला-अफसरों ने गांव का दौरा किया। गलियों और घरों की छतों पर पुलिस तैनात है।

दैनिक भास्कर

आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-PALI-MAT-latest-pali-news-035045-2882358-NOR.html

पाली | खिंवाड़ाथाना क्षेत्र के मेवी खुर्द गांव में जानलेवा हमला करने के आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर मंगलवार को विभिन्न दलित संगठनों ने एसपी अनिल टांक को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में बताया गया है कि गत 18 अक्टूबर को दिनदहाड़े मेवी गांव में कुछ लोगों ने तलवारों धारियों से लेस होकर डूंगरराम मेघवाल के घर में हमला बोल उसे घायल कर दिया था। ज्ञापन में आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी करने गांव में पीडि़त परिवारों को सुरक्षा दिलाने की भी मांग गई। इस अवसर पर पूर्व जिला परिषद सदस्य प्रमोदपाल सिंह मेघवाल, दलित अधिकार केन्द्र के जिला समन्वयक महावीरसिंह भाटी, कानाराम सोलंकी, कन्हैयालाल, चुन्नीलाल, थानाराम, महेन्द्र, कानाराम, राकेश, रमेशकुमार समेत कई संगठनों के लोग मौजूद थे। 

 जनसत्ता

फरीदाबाद: दलित परिवार को जलाने पर एसी आयोग सख्त, पुलिस अधिकारियों को किया तलब

http://www.jansatta.com/national/ncsc-strict-over-faridabad-dalit-family-burnt-case-ask-to-police-officers/45200/

हरियाणा के फरीदाबाद में दबंगों द्वारा एक दलित परिवार को मंगलवार तड़के सोते समय कथित तौर पर जला डालने की घटना पर राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने कहा कि यहां पुलिस की तरफ से ‘घोर लापरवाही’ दिखती है। उसने फरीदाबाद के पुलिस आयुक्त और उपायुक्त को कार्रवाई रिपोर्ट के साथ आगामी 26 अक्तूबर को तलब किया है। घटना स्थल का दौरा करने और पीड़ित परिवार से मुलाकात करने के बाद आयोग के अध्यक्ष पीएल पूनिया ने कहा, ‘‘आज मैंने यहां आयोग के सदस्य ईश्वर सिंह के साथ गांव का दौरा किया। यहां पुलिस प्रशासन की ओर से घोर लापरवाही बरती गई है। हमने आगामी 26 अक्तूबर को पुलिस आयुक्त और जिले के उपायुक्त को कार्रवाई रिपोर्ट के साथ आयोग के समक्ष तलब किया है।’’

फरीदाबाद: सवर्ण दबंगों ने दलित परिवार को जिंदा जलाया, दो मासूमों की मौत दिल्ली से महज कुछ किलोमीटर की दूरी पर स्थित सुनपेड़ गांव में यह घटना हुई। पुलिस के अनुसार तड़के करीब दो बजे हमलावरों ने घर पर कथित रूप से पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी। इस घटना में ढाई साल के वैभव और उसकी 11 महीने की बहन दिव्या की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी। उनकी मां रेखा झुलस गयी जिनको इलाज के लिए दिल्ली ले जाया गया है जबकि उनके पिता जितेन्द्र भी परिवार को बचाने के प्रयास में झुलस गए। पूनिया ने कहा, ‘‘दोनों पक्षों में विवाद का इतिहास है। इस मामले के संज्ञान में आने के बाद हमने इसी जनवरी महीने में पुलिस उपायुक्त (बल्लभगढ़) से इस दलित परिवार को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए कहा था।

उन्होंने इसका आश्वासन भी दिया था। आज हमने यही सवाल किया कि जब पुलिस सुरक्षा थी तो यह घटना कैसे हो गई। पुलिस प्रशासन ने बताया कि ड्यूटी पर तैनात सात पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है। हमारा कहना है कि थाना प्रभारी पर भी कार्रवाई होनी चाहिए।’’ आयोग के अध्यक्ष ने हरियाणा सरकार से आग्रह किया कि पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा और परिवार के किसी सदस्य को नौकरी दी जाए।

अमर उजाला

अराजक तत्वों ने अंबेडकर की प्रतिमा तोड़ी

http://www.amarujala.com/news/city/budaun/ambedkar-from-arajkttwon-the-statue-made-out-hindi-news/

एसडीएम और पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लिया जायजा

नगर के मोहल्ला परा स्थित अंबेडकर पार्क में लगी अंबेडकर प्रतिमा को सोमवार की रात अराजकतत्वों ने उखाड़ दिया। यहीं नहीं ये लोग प्रतिमा के दोनों हाथों तोड़कर ले गए। जब सुबह इसकी जानकारी लोगों को हुई, तो वह भारी संख्या में मौके पर पहुंच गए। खबर मिलने पर एसडीएम और इंस्पेक्टर कोतवाली भी फोर्स के साथ पहुंचे। इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

 नगर पालिका परिषद द्वारा इस अंबेडकर पार्क का सौंदर्यकरण कराया जा रहा है। चहारदीवारी बन चुकी है। प्लास्टर का काम चल रहा है। रात में किसी समय अराजकतत्वों ने पार्क में लगी अंबेडकर की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया। सुबह जब लोगों ने प्रतिमा को टूटा और गिरा हुआ देखा, तो पास स्थित दलित मोहल्ले के तमाम लोग मौके पर पहुंच गए। इस घटना को लेकर उनमें रोष था। इसकी सूचना एसडीएम ओपी तिवारी और इंसपेक्टर कोतवाली जेके तोमर को दी, तो वो भी कुछ ही समय में यहां पहुंच गए। दोपहर तक लोगों का हुजूम वहां लगा रहा। एसडीएम और इंस्पेक्टर ने लोगों से कहा कि इस मामले में जो भी दोषी होंगे, उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।
इंसपेक्टर कोतवाली जेके तोमर ने बताया कि इस मामले में चंद्रपाल की ओर से अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट की गई है।

प्रतिमा तोड़ने के पीछे क्या है मकसद

कहीं शांतिपूर्ण माहौल को खराब करने की साजिश तो नहीं

भीड़ को एक बारगी को तो पुलिस-प्रशासन के भी फूल गए थे हाथ-पैर

मुन्ना लाल गुप्ता

दातागंज। अंबेडकर प्रतिमा को क्षतिग्रस्त करने के पीछे अराजक तत्वों का क्या मकसद रहा होगा इसे लेकर लोगों के जेहन में तमाम सवाल तैर रहे हैं। यह बात काबिलेगौर है कि प्रतिमा को क्षतिग्रस्त होने के बाद जिस तरह भारी संख्या में लोग वहां पहुंच गए थे। उस भीड़ ने शांति का परिचय दिया, लेकिन इस भीड़ को देखकर एक बारगी तो पुलिस और तहसील प्रशासन के हाथ-पैर फूल गए थे।

गौरतलब है कि पार्क में लगी अंबेडकर की प्रतिमा को कुछ साल पहले भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। उस समय भी जनता ने बहुत ही सूझबूझ का परिचय दिया था। वैसा ही आज भी देखने को मिला। अंबेडकर अनुयाइओं ने नगर में किसी भी तरह की घटना कराए जाने के मकसद पर पूरी तरह पानी फेर दिया। वह पूरे समय शांति से रहे। दलित वर्ग के लोग प्रशासन से सिर्फ यहीं कह रहे थे कि जो भी लोग हों उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो और प्रतिमा पहले जैसा रूप दिया जाए। एसडीएम और इंस्पेक्टर ने इस भीड़ को आश्वासन दिया कि प्रतिमा को तोड़ने वालों को माफ नहीं करेंगे। प्रतिमा को भी ठीक कराया जाएगा। यह बात दीगर है कि पुलिस-प्रशासन ने भीड़ में शामिल लोगों की समझदारी की सराहना की। हालांकि इस भीड़ में कुछ लोग आक्रोशित भी थे लेकिन उनके साथियों के आगे उनकी भी नहीं चली और उनकी आवाज को दबा दिया गया।

दोषी जल्द पकड़े जाएं: सिनोद

दातागंज। क्षेत्रीय बसपा विधायक सिनोद शाक्य ने कहा ै कि इस घटना के जो भी दोषी है उन्हें जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। बोले, इस घटना की जितनी भी निंदा की जाए काम है। विधायक ने कहा है कि जरूर इस घटना के पीछे कोई षडयंत्र है, ऐसे लोगों को पकड़कर बेनकाब किया जाए।

माहौल खराब करने वालों के मंसूबे नहीं पूरे होंगे

दातागंज। नगर पालिका परिषद के चेयरमैन राजीव गुप्ता भी खबर मिलने पर मौके� पर पहुंच गए थे। उन्होंने भी घटना की निंदा की है। चेयरमैन ने कहा है कि नगर की जनता ने यह भी साबित कर दिया है कि वह अराजकतत्वों की किसी भी मंशा को पूरी नहीं होने देगी। 

बसपा ने हमेशा जोड़ा है लोगों को: हेमचंद्र

दातागंज। बसपा नेता हेमचंद्र गौतम ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि बसपा ने हमेशा ही समाज को जोडने का काम किया है। घटना के जो भी आरोपी हैं उनके खिलाफ कार्रवाई हो। 

बौद्ध महासभा ने दी आंदोलन की धमकी

बदायूं। भारतीय बौद्ध महासभा के शिविर कार्यालय पर हुई बैठक में दातागंज में अंबेडकर प्रतिमा को तोड़े जाने की घटना की निंदा की गई। चेतावनी दी गई यदि आरोपी जल्द नहीं पकड़े गए तो आंदोलन किया जाएगा। इस मौके पर जिलाध्यक्ष राधेश्याम बौद्ध, ब्रहमानंद, साहब सिंह, राधेलाल, अशोक भारती, विजय प्रताप, ओमकार सिंह, शिवचरन लाल, हरिओम सिंह आदि थे।

 दैनिक भास्कर

दलित लोगों को जलाना निंदनीय: भाटिया

http://www.bhaskar.com/news/HIM-OTH-MAT-latest-hamirpur-news-020007-2880955-NOR.html

हमीरपुर | हरियाणाके फरीदाबाद में एक दलित परिवार के 4 सदस्यों पर पेट्रोल डालकर जिंदा जलाने के साहस की घटना निंदनीय है। दलित महासभा एवं समता सैनिक दल के राष्ट्रीय दलित नेता डॉ. ओंकार सिंह भाटिया ने जारी बयान में कहा कि इस तरह की घटना भारत के कटर जातिवाद और छदम समरता की पोल खोलता है।

अमर उजाला

ब्लाक प्रमुख के पति समेत सात पर रिपोर्ट

http://www.amarujala.com/news/city/lakhimpur-kheri/lakhimpur-kheri-crime-news/following-the-major-s-husband-including-seven-reports-hindi-news/

जिला पंचायत सदस्य उम्मीदवार की मदद न करने के चलते एक दलित परिवार की पिटाई करने के मामले में ओयल चौकी पुलिस ने बेहजम ब्लाक प्रमुख के पति समेत सात लोगों के खिलाफ बलवा-मारपीट और एससी/एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया हैै। पीड़ित परिवार ने आरोपियों की दबंगई की हवाला देते हुए जान-माल का खतरा जताया हैै। इस मामले की विवेचना सीओ सिटी एमपी सिंह करेंगे।

ओयल देहात के मजरा लोनपुरवा निवासी बलवीर ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया हैै कि जिला पंचायत सदस्य पद के लिए बेहजम प्रथम से बीना सिंह उम्मीदवार थीं, जिनकी मदद न करने का आरोप लगाते हुए 12 अक्तूबर की देरशाम को आरोपी टीचर्स कॉलोनी निवासी राकेश सिंह और शुभेंद्र सिंह उर्फ भैयाजी ने आधा दर्जन साथियों के साथ उसके घर पर धावा बोल दिया। इसके बाद सभी लोगों ने जातिसूचक गालियां देते हुए घर के सदस्यों को लाठी-डंडों से पीटा और बांके से भी प्रहार किए। इस हमले में बलवीर, रामपाल गंभीर रूप से घायल हो गए। जबकि बीच बचाव करने पर हमलावरों ने सुशीला देवी, सुरेश और शिल्पी को भी मारापीटा। तहरीर के आधार पर पुलिस ने राकेश सिंह, बेहजम ब्लाक प्रमुख नीरू सिंह के पति शुभेंद्र सिंह उर्फ भैयाजी, राधे, रामलाल, संजय, लब्जू के खिलाफ धारा 147, 148, 149, 452, 323, 324, 504, 506 और एससी/एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। 

दैनिक भास्कर

नान गजटेड एससी-बीसी फैडरेशन की बैठक कल

http://www.bhaskar.com/news/PUN-OTH-MAT-latest-banga-news-020505-2881036-NOR.html

गजटेडनान-गजटेडएससी-बीसी इंप्लाइज वेलफेयर फैडरेशन की जिला इकाई की बैठक 22 अक्टूबर को बाबा गोला पार्क में होगी। फैडरेशन के जिला प्रधान राम किशन पल्ली झिक्की ने बताया कि सुबह 10 बजे होने वाली बैठक में पंजाब सरकार की ओर से 10 अक्टूबर 2014 के आरक्षण के पत्र सिनयोरिटी सूची में दलित पिछड़े वर्ग के विरोधी चेहरों को बेनकाब किया जाएगा। बैठक में प्रदेश प्रैस सचिव दोआबा जोन इंचार्ज सलविंदर जस्सी, हरमेश राही, सुरिंदरपाल विशेष तौर पर शामिल होंगे।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s