दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 20.10.15

जब पिता ने देखा बेटी के रेप का पॉर्न वीडियो न्यूज़ 18

http://hindi.news18.com/news/uttar-pradesh/when-the-father-saw-the-daughter-rape-porn-video-in-up-909139.html

फरीदाबादः दबंगो ने दलित परिवार के घर में लगाई आग, 2 बच्चों की मौत, पति-पत्नी गंभीर – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/c-85-1144625-pa0345-NOR.html

मामी का पोस्टर चिपका रहे भांजे की पीटकर हत्या – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/azamgarh/azamgarh-hindi-news/aunt-nephew-of-the-posters-are-glued-knockout-murder-hindi-news/

दलित युवक की फांसी लगाकर दी जान – तरुण मित्र

http://tarunmitra.in/news.php?id=13207&title=Dalit%20youth%20was%20killed%20by%20hanging#.ViW8RSbzzOc

दलित समाज के लोगों ने समस्याओं के समाधान को लेकर की बैठक – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/HAR-OTH-MAT-latest-jind-news-024003-2876319-NOR.html

Please Watch:

BY THE SIDE OF A RIVER 1

https://www.youtube.com/watch?v=bMMa6DEAF80

Save Dalit Foundation:

Educate, agitate & organize! – Dr. Ambedkar.

Let us all educates to agitate & Organize to Save Dalit Foundation !         

Please sign petition for EVALUATION of DF by click this link : https://t.co/WXxFdysoJK

न्यूज़ 18

जब पिता ने देखा बेटी के रेप का पॉर्न वीडियो

http://hindi.news18.com/news/uttar-pradesh/when-the-father-saw-the-daughter-rape-porn-video-in-up-909139.html

यूपी में बलात्‍कार के सैकड़ों मामले सामने आते है लेकिन ये मामला और मामलों से बहुत अलग है. इसमें एक दलित लड़की के बलात्‍कार का उसके पिता को तब लगा जब उसकी बेटी की पॉर्न वीडियो देखा.

न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स के निकोलस डी क्रिस्‍टॉफ एक वार्षिक विन-ट्रिप जर्नी पर आए हुए थे. इस दौरे में वह यूनिवर्सिटी के छात्रों को विकासशील देशों की सैर में लेकर आए थे. इस दौरान यूपी में उनकी मुलाकात एक लड़की से हुई जो यौन हिंसा की शिकार थी. भारतीय कानून के मुताबिक रेप विक्टिम का नाम नहीं बता सकते इसलिए निकोलस ने इस लड़की को बिटिया का काल्‍पनिक नाम दिया है.

निकोलस ने बताया कि दलित समुदाय की इस 13 साल की बिटिया का साल 2012 में उच्‍च जाति के कुछ लोगों ने उसका रेप किया था. इस दौरान इन आरोपियों ने उसका वीडियो भी बना लिया था और बिटिया को धमकी दी थी कि अगर उसने इसके बारे में किसी को कुछ भी बताया तो वह इस वीडियो को गांव में सब लोगों को दिखा देंगे. इतना ही नहीं उसके भाई को भी मार देंगे. इसके चलते बिटिया ने अपने ऊपर बीती इस घटना के बारे में किसी को कुछ भी नहीं बताया.

इस घटना के छह हफ्ते बाद बिटिया के पिता ने गांव के एक लड़के को पॉर्न वीडियो देखते हुए पकड़ा. जब उसने उस वीडियो को देखा तो उसके पैरों के नीचे की जमीन खिसक गई. क्‍योंकि उस वीडियो में उसकी बेटी थी. रेप करने वाले आरोपी ने यह वीडियो 60 रुपये में एक स्‍थानीय दुकानदार को बेच दिया था. इस मामले की रिपोर्ट करने के लिए जब पीड़ित पिता थाने गया तो पुलिस ने कोई मामला दर्ज ही नहीं किया.

इसके गांव के बुजुर्ग लोगों ने बिटिया के स्‍कूल जाने पर रोक लगा दी लेकिन लोगों के दवाब में वह दोबारा से स्‍कूल जाने लगी. इस घटना के बाद बिटिया की जिंदगी बदल गई और उसके परिवार  को सरकारी राशन लेने से रोक लगा दी गई. समाज के लोगों के दबाव के चलते पुलिस ने इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया लेकिन वह जमानत पर रिहा हो गए. रेप का यह मामला अभी अदालत में चल रहा है और इस बीच बिटिया के पिता की मौत हो गई.

अब आरोपी दबाव बना रहे हैं कि पीड़िता यह केस वापस ले ले. वहीं पीड़ित परिवार को डर है कि आरोपी कहीं उसके 16 साल के भाई की हत्‍या ना कर दें. इस मामले में आरोपियों ने बिटिया को केस वापस लेने के लिए नौ लाख रुपये की पेशकश भी की लेकिन उसने पैसे लेने से इनकार कर दिया.

बिटिया का कहना है कि वह सभी आरोपियों को जेल में देखना चाहती हूं. मैं कभी खुद को कलंकित महसूस नहीं करती हूं क्‍योंकि जिसके साथ रेप होता है वह अपमानित नहीं होते बल्कि रेप करने वाला होता है. वहीं बिटिया के दादा का कहना है कि हम कभी लालच में नहीं आएं.

दैनिक भास्कर

फरीदाबादः दबंगो ने दलित परिवार के घर में लगाई आग, 2 बच्चों की मौत, पति-पत्नी गंभीर

http://www.bhaskar.com/news/c-85-1144625-pa0345-NOR.html

फरीदाबाद के बल्लभगढ़ के गांव सनपेहड़ में मंगलवार सुबह 4 बजे एक सोए हुए दलित परिवार पर दबंगो ने हमला कर उनके घर में आग लगा दी। इस हादसे में 2 बच्चों की झुलसने से मौत हो गई, जबकि पति व पत्नी की हालत गंभीर बनी हुई है। दोनों को उपचार के लिए दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में रेफर किया गया है। घटना को अंजाम पुरानी रंजिश के चलते दिया गया है। फरीदाबाद पुलिस मौके पर पहुंची हुई है। गांव में तनाव बना हुआ है।

faridabad_14453191071

प्राप्त जानकारी के अनुसार कुछ समय पहले गांव के दो पक्षों में विवाद हुआ था। जिस दौरान गांव में गोलियां भी चली थी। मंगलवार की घटना को उसी से जोड़कर देखा जा रहा है।

अमर उजाला

मामी का पोस्टर चिपका रहे भांजे की पीटकर हत्या

http://www.amarujala.com/news/city/azamgarh/azamgarh-hindi-news/aunt-nephew-of-the-posters-are-glued-knockout-murder-hindi-news/

थाना क्षेत्र के मालपार दलित बस्ती में सोमवार की सुबह बीडीसी सदस्य का चुनाव लड़ रही मामी का पोस्टर चिपका रहे भांजे की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। जबकि लाठी-डंडे की चोट से उसके साथ के छह साथी घायल हो गए। गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस और पीएसी तैनात कर दी गई है। घटना के संबंध में उसके मामा ने तहरीर दी है। हत्या की वजह कोचिंग में साथ पढ़ने वाले छात्रों से पूर्व में हुई मारपीट बताई जा रही है।

मेंहनगर थाना क्षेत्र के खेवतीपुर गांव निवासी नितेश राजभर (18) के माता-पिता दोनों नहीं है। दो वर्ष की उम्र से ही वह मालपा में मामा गौतम राजभर के यहां रहता था। इंटरमीडियट का छात्र नितेश जयनगर बाजार में कोचिंग भी पढ़ता था। वहां साथ पढ़ने वाले कुछ लड़कों से उसका झगड़ा था। उनमें कई बार मारपीट हो चुकी थी। 

नितेश की मामी मीना देवी क्षेत्र पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रही हैं। सोमवार की सुबह नितेश अपने मुहल्ले के छह साथियों के साथ यादव बस्ती में पोस्टर चिपकाने के बाद दलित बस्ती की तरफ जा रहा था। तभी पीछे से गोलबंद होकर आए यादव बस्ती के लड़कों ने लाठी-डंडे, लोहे की सरियों से उन पर हमला बोल दिया। 

इसमें नितेश सहित प्रभाकर राजभर (19), धर्मेंद्र (30), देवेंद्र (28), सूरज (20), विनय (22), पुनीत (15) घायल हो गए। घटना के बाद गांव में तनाव व्याप्त हो गया। दोनों तरफ के लोग आमनेे-सामने हो गए।

सूचना मिलने पर एसडीएम मेंहनगर बाबूलाल, सीओ लालगंज एसपी तोमर, एसओ आदि मयफोर्स मौके पर पहुंचे और घायलों को अस्पताल भेजवाया। नितेश के सिर में गंभीर चोट लगने से उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया किंतु रास्ते में उसकी मौत हो गई। उसके बाकी साथियों का इलाज चल रहा है।

तरुण मित्र

दलित युवक की फांसी लगाकर दी जान

http://tarunmitra.in/news.php?id=13207&title=Dalit%20youth%20was%20killed%20by%20hanging#.ViW8RSbzzOc

मृतक के भाई ने बीडीसी पर लगाया हत्या का आरोप

सिढ़पुरा-कासगंज। सिढ़पुरा के ताजपुर गांव में बीते दिनों वोट डालने को लेकर बीडीसी प्रत्याशी से हुई मामूली कहासुनी के बाद 40 वर्षीय युवक ने अपने ही घर में फांसी का फंदा लगाकर जीवन लीला समाप्त कर ली। पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे मंे लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं। वहीं परिजनों द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर मामले में जांच पड़ताल शुरू कर दी है। घटना सिढ़पुरा थाना क्षेत्र के समीपवर्ती गांव ताजपुर की है।

40 वर्षीय भगवान सिंह पुत्र तेजसिंह बीते दिन हुए मतदान के दौरान जिला पंचायत एवं क्षेत्र पंचायत चुनाव को वोट डालने के लिए पोलिंग बूथ पर गया हुआ था। वहां किसी बात को लेकर बीडीसी के प्रत्याशी का विवाद हो गया। बाद में बीडीसी के समर्थकों ने मतदान समाप्ति के दौरान उसके घर पर जाकर गाली-गालौज की। इसी बात से क्षुब्ध भगवान सिंह ने अब अपने ही घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजन ने उसका शव रस्सी पर लटका हुआ देखा तो दंग रह गए। घटना चुनाव से संबंधित होने के नाते पुलिस भी मौके पर पहंुच गई। जहां पुलिस ने मृतक के शव के पंचनामे की औपचारिकताए पूर्ण करते हुए अन्तय परीक्षण के लिए एटा भेज दिया।

मृतक के भाई रामनिवास ने बताया कि उसके भाई का झगड़ा बीडीसी प्रत्याशी श्याम सिंह उर्फ करू ठाकुर से हुआ था। रामनिवास का आरोप है कि श्याम अपने साथियों के साथ रात के नौ बजे घर पर आया और उसके भाई को मारकर हत्या का रूप देने के लिए फांसी के फंदे पर लटका दिया। वहीं पुलिस ने तहरीर के आधार पर मामले में जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

दैनिक भास्कर

दलित समाज के लोगों ने समस्याओं के समाधान को लेकर की बैठक

http://www.bhaskar.com/news/HAR-OTH-MAT-latest-jind-news-024003-2876319-NOR.html

जींद | भिवानीरोड वाल्मीकि बस्ती में दलित समाज की ओर से बैठक का आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता एससी जाति दलित समाज जागृति फेडरेशन के अध्यक्ष महावीर स्वरूप टांक ने की। दलित समाज के साथ हो रहे अत्याचारों भेदभाव को देखकर सभी कमियों को ध्यान में रखकर विचार विमर्श किया गया। उन्होंने कहा कि अपनी समस्या लेकर किसी भी सरकारी कार्यालय में जाते हैं तो वहां कोई सुनवाई नहीं करता। पिछले काफी समय से वाल्मीकि कॉलोनी में सीवर लाइन जाम पड़ी है। कई बार समस्या को लेकर विभाग अधिकारियों को भी शिकायत दी जा चुकी हैं, लेकिन आज तक इस समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ। मच्छरों की भरमार रहती है। इस कारण बीमारियां फैलने का खतरा बन गया है। इस मौके पर सुनील, राजेश, मनोज, मुकेश, रामानंद, अजीत, सोनी, संजय, विक्की, शिवकुमार, सुभाष विजय मौजूद रहे। 

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s