दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 14.10.15

चाका में दलितों को वोट डालने से रोका, हंडि‍या में प्रत्‍याशी का अपहरण करने की कोशि‍श – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/UP-ALAH-dalits-prevented-from-voting-and-candidate-tried-to-kidnap-in-allahabad-5140806-PHO.html

होमगार्ड जवानों ने महिला से किया गैंग रेप, एक गिरफ्तार न्यूज़ 18

http://hindi.news18.com/news/madhya-pradesh/homeguards-gangraped-lady-in-tikamgarh-882716.html

ये है यूपी पुलिस!, बयान दर्ज कराने के लिए पीड़िता को दस दिनों से रोक रखा है थाने में न्यूज़ 18

http://hindi.news18.com/news/uttar-pradesh/up-police-has-kept-victim-ten-days-in-police-station-880319.html

दलित छात्राओं के लिए परोसा जाता है अलग खाना, किचन में प्रवेश निषेध – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/shivpuri-for-dalit-students-are-served-different-food-kitchen-restricted-506926

इंसाफ के लिए भटक रहा मजबूर परिवार – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/PUN-OTH-MAT-latest-sangrur-news-054537-2840956-NOR.html

उत्तरप्रदेश में दलितों को निर्वस्त्र घुमाने का विरोध – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-harda-news-035540-2839704-NOR.html

दबंगों के खौफ से समाहरणालय गेट पर महादलितों ने गुजारी रात – प्रभात खबर

http://www.prabhatkhabar.com/news/madhepura/story/557789.html

दलित आंदोलन के लिए प्रभारी नियुक्त – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-OTH-MAT-latest-chouhtan-news-052051-2841066-NOR.html

Please Watch:

Untouchable Country – The Black “Dalits” of India (Full Documentary)

https://www.youtube.com/watch?v=BZ_doYiDOTc

Save Dalit Foundation:

Educate, agitate & organize! – Dr. Ambedkar.

Let us all educates to agitate & Organize to Save Dalit Foundation !         

Please sign petition for EVALUATION of DF by click this link : https://t.co/WXxFdysoJK

दैनिक भास्कर

चाका में दलितों को वोट डालने से रोका, हंडि‍या में प्रत्‍याशी का अपहरण करने की कोशि‍श

http://www.bhaskar.com/news/UP-ALAH-dalits-prevented-from-voting-and-candidate-tried-to-kidnap-in-allahabad-5140806-PHO.html

 इलाहाबाद. पंचायत चुनाव के द्वितीय चरण में यमुनापार के चाका ब्लॉक में दलितों को वोट न डालने देने को लेकर जमकर वि‍वाद हुआ। ऐसे में अधि‍कारि‍यों को मतदान रोकना पड़ा। देर शाम जिला प्रशासन ने देवहरा स्थित स्कूल में हुई पोलिंग को निरस्त करने की भी मांग की। उधर , गंगापार के हंडिया इलाके में एक प्रत्याशी के घर में घुसकर हमलावरों ने उसका अपहरण अपहरण कर लि‍या। हालांकि‍, पुलिस के सक्रीय होने पर अपहरणकर्ता प्रत्याशी को छोड़ कर भाग नि‍कले। इन दोनों घटनाओं को लेकर पुलि‍स प्रशासन में देर रात तक हड़कंप मचा रहा।

जानकारी के अनुसार , हंडिया में बीडीसी के लिए तीन प्रत्याशी मैदान में हैं। इनमें प्रकाश चंद्र त्रिपाठी का आपराधिक रिकॉर्ड है और ये कई दिनों से बीडीसी प्रत्याशी जयशंकर मिश्र को चुनाव मैदान से हटने के लिए धमकी दे रहे थे। जब जयशंकर मिश्र चुनाव मैदान से नहीं हटे, तो प्रकाश चंद्र त्रिपाठी ने अपने समर्थकों के साथ उनके घर में घुसकर उन पर हमला कर दिया। बताया जाता है कि‍ बदमाशों ने उनकी पत्‍नी और बच्चों को भी मारा पिटा और घर में रखी नकदी लूट ले गए।

 ग्रामीणों ने 100 नंबर पर दी पुलि‍स को सूचना

इसकी जानकारी मि‍लते ही ग्रामीणों ने पुलिस को 100 नंबर पर सूचना दे दि‍या। इस बीच प्रकाश चंद्र त्रिपाठी ने अपने साथियों के साथ मि‍लकर जयशंकर मिश्र का अपहरण कर लिया। प्रत्‍याशी के अपहरण की सूचना मि‍लने के बाद पुलि‍स सक्रि‍य हो गई। यह देखते ही बदमाश जयशंकर मि‍श्र को छोड़कर फरार हो गए। घटना की सूचना के बाद सीओ रविशंकर प्रासाद ने बताया कि प्रत्याशी प्रकाश चंद्र त्रिपाठी हंडिया थाने का हिस्ट्रीशीटर है। उसके खिलाफ अपहरण और लूट जैसी संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जल्द ही उसे गि‍रफ्तार कर लि‍या जाएगा।

चाका में दलि‍तों को वोट डालने से रोका

उधर, चाका ब्लॉक में कुछ दलित वोटरों को वोट डालने से रोक दि‍या गया। इसके बाद कुछ लोगों ने पुलिस को 100 नंबर पर इसकी सूचना दी। घटना की जानकारी मिलने ही डीएम संजय कुमार और एसएसपी केएस इमैनुएल भारी पुलि‍स फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। शाम को जिला प्रशासन ने चाका ब्लॉक के देवहरा में स्थित स्कूल के बूथ पर फि‍र से मतदान कराने की अनुशंसा की।

जि‍ले में 55.17 फीसदी पड़े वोट

जिला प्रशासन की जानकारी के अनुसार , पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में औसत मतदान का प्रतिशत चाका ब्लॉक में 51.82 फीसदी, कौधियारा ब्लॉक में 60 फीसदी, जसरा ब्लाक में 60.21 फीसदी, शंकरगढ़ ब्लॉक में 60.01 फीसदी, कौड़ि‍हार ब्लॉक में 51 फीसदी रहा, जबकि‍ जि‍ले का कुल औसत मतदान 55.17 फीसदी रहा। डीएम संजय कुमार, एसएसपी केएस ईमैनुएल और मुख्य विकास अधिकारी अटल कुमार राय ने सुबह साढ़े छह बजे से देर शाम तक मतदान केंद्रों का का जायजा लिया। प्रेक्षक सुधीर कुमार गर्ग ने भी मतदान केंद्रों पर स्थिति का जायजा लेते हुए पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश देते रहे।

न्यूज़ 18

होमगार्ड जवानों ने महिला से किया गैंग रेप, एक गिरफ्तार

http://hindi.news18.com/news/madhya-pradesh/homeguards-gangraped-lady-in-tikamgarh-882716.html

टीकगमढ़ में होमगार्ड के दो जवानों पर दलित महिला से गैंगरेप का आरोप लगा है. पुलिस ने केस दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

टीकमगढ के देहाथ थाने के तखा गांव में राजेंद्र घोष और रविंद्र घोष नाम के होमगार्ड के दो जवानों पर महिला के साथ हैवानियत का आरोप लगा है.

पीड़िता ने देहात थाने पर दर्ज अपनी शिकायत में बताया है कि वह किराए के मकान में अकेली रहती है. आरोपी भी उसी मकान के एक अन्य हिस्से में किराये से रहते है.

आरोप है कि सोमवार रात को महिला के अकेले होने का फायदा उठाते हुए आरोपियों ने महिला के साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया.

पीड़िता के मुताबिक, आरोपी जबरन उसके कमरे में घुस गए और उसके साथ रेप किया. आरोप है कि घटना को अंजाम देने के बाद आरोपियों ने महिला को पुलिस को शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी दी थी.

देहात थाना प्रभारी मधुरेश पचौरी ने बताया कि महिला की शिकायत पर रविंद्र और राजेंद्र घोष के के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.

पुलिस ने रविंद्र को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि राजेंद्र की गिरफ्तारी के लिए उसके संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है.

न्यूज़ 18

ये है यूपी पुलिस!, बयान दर्ज कराने के लिए पीड़िता को दस दिनों से रोक रखा है थाने में

http://hindi.news18.com/news/uttar-pradesh/up-police-has-kept-victim-ten-days-in-police-station-880319.html

पुलिस की कार्यशैली को लेकर लगातार सरकार पर सवाल उठते रहते है. इस बार आजमगढ़ जिले में दलित किशोरी को पिछले 10 दिनों से बयान दर्ज कराने के नाम से थाने में बैठा रखा है.

इस मामले में परिजनों का आरोप है कि दरोगा रुपये लेकर समझौता करने का दबाव बना रहा है. इसको लेकर कुछ संगठनों ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पर जमकर प्रदर्शन किया और थानाध्यक्ष को बर्खास्‍त करने की मांग की.

Azamghar-victime-

आजमगढ़ जिले के मुबारकपुर थाने के कस्बे की एक दलित किशोरी का एक दो माह पूर्व अपहरण हो गया था. किशोरी के परिजनों ने थाने में किशोरी के अपहरण करने का मुकदमा दर्ज कराया. पुलिस ने किशोरी को 2 अक्टूबर को बरामद कर लिया. दलित किशोरी के बरामदगी के बाद पुलिस ने किशोरी को बयान दर्ज कराने के नाम पर उसको पिछले 10 दिनों से थाने में बैठाये रखा है. यहीं नहीं पुलिस उल्टे पीड़ित के परिजनों को ही रुपये ले देकर मामले को समाप्त करने का प्रयास भी कर रही है.

परिजनों का आरोप है कि पुलिस समझौता कराने के लिए उनको धमका रही है और समझौता न करने पर उनकी बेटी को उन्हें नहीं सौंपा जा रहा है.

वहीं मामले की जानकारी जब हिन्दू संगठनो को हुई तो पहले उन्होंने अपने स्तर से कोशिश की लेकिन मामला जब नहीं बना तो उन्होंने गोरखपुर के सांसद योगी आदित्यनाथ को मामले की जानकारी दी जिसके बाद सांसद योगी आदित्यनाथ ने पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर मामले में उचित कार्रवाई किए जाने की मांग की लेकिन आजमगढ़ पुलिस ने सांसद के पत्र को भी कूड़े में डाल दिया. जिसके बाद हिन्दू संगठनों ने मुबारकपुर थानाध्यक्ष के खिलाफ मोर्चा खोल दिया और पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया.

वहीं आजमगढ़ के पुलिस अधीक्षक रमेश चन्द्र साहू का कहना है कि मामले उनके संज्ञान में आया है. पूरे मामले की जांच के लिए एसपी सिटी को सौंप दी गयी है. अगर जांच में कोई पुलिसकर्मी दोषी पाया गया तो सख्त कार्रवाई की जाएगी.

नई दुनिया

दलित छात्राओं के लिए परोसा जाता है अलग खाना, किचन में प्रवेश निषेध

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/shivpuri-for-dalit-students-are-served-different-food-kitchen-restricted-506926

 शिवपुरी। शिक्षा विभाग द्वारा खनियांधाना में संचालित आरएमएसए के छात्रावास में रहने वाली दलित छात्राओं के साथ छात्रावास की अधीक्षिका प्रेमलता पाठक छुआछूत जैसा दुर्व्यवहार करतीं हैं। दलित छात्राओं को अलग भोजन परोसा जाता है। उन्हें पानी की टंकी को छूने नहीं दिया जाता।  AAA13octshiv8_13_10_2015

यह शिकायत कलेक्टर से करते हुए दलित छात्राओं ने कहा कि हम लोगों को किचन में घुसने नहीं दिया जाता। हम लोगों के खाने के लिए बर्तन अलग रखे जाते हैं। छात्रावास में रहने वाली छात्राओं राजवती, रामकुंवर, कमलेश, विशाखा, सूरज ने कलेक्टर राजीवचंद्र दुबे से इस भेदभाव और छुआछूत की शिकायत की है।

 छात्राओं ने ये भी लगाए आरोप

– छात्रावास अधीक्षिका हमारे साथ करती हैं अमानवीय व्यवहार।

– हमें छात्रावास में भरपेट भोजन तक नहीं दिया जाता, एक समय में चार से पांचवीं रोटी नहीं दी जाती।

– अधीक्षिका हम पर ट्यूशन आने का बनाती हैं दबाव, ट्यूशन न जाने पर छात्रावास व स्कूल से निकालने की देती हैं धमकी।

– छात्रावास अधीक्षिका ने बीते रोज हमें आधी रात को छात्रावास से बाहर निकाल दिया।

– हम अपने बिस्तर भी अपने घर से ही लेकर आए हैं।

– हमें उस टंकी से पानी नहीं पीने दिया जाता, जिससे अन्य छात्राएं पानी पीती हैं।

– अभी छात्रावास में रहने वाली कुछ छात्राएं मेरे पास आई थीं। उन्होंने मुझे छात्रावास अधीक्षिका की शिकायत दर्ज कराई है। मैंने एसडीएम को तत्काल मामले की जांच करने के निर्देश दिए हैं। यदि शिकायत सही पाई गई तो कठोर कार्रवाई की जाएगी।

 राजीव चंद्र दुबे, कलेक्टर शिवपुरी

– पुरानी छात्रावास अधीक्षिका का स्थानांतरण हो जाने पर प्रेमलता को 1 अक्टूबर को ही छात्रावास का चार्ज दिया गया है। वह महज दस दिन में इतना सब कैसे कर सकती हैं, यह समझ से परे है। फिर भी आरोप काफी गंभीर हैं, हम मामले की जांच करवाने के बाद उचित कार्रवाई करेंगे।

परमजीत सिंह गिल, जिला शिक्षा अधिकारी।

दैनिक भास्कर

इंसाफ के लिए भटक रहा मजबूर परिवार

http://www.bhaskar.com/news/PUN-OTH-MAT-latest-sangrur-news-054537-2840956-NOR.html

संगरूर|किशनपुरा बस्तीनिवासी दलित परिवार इंसाफ की मांग के लिए दर-दर की ठोकरें खाने के लिए मजबूर है। आरोप है कि पुलिस ने बेटों पर हमला करने वाले आरोपियों को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया है। बड़े बेटे पर 16 सितंबर को छोटे बेटे पर 10 अक्टूबर को हमला हुआ था लेकिन अभी तक आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं।

परिवार ने चेतावनी दी है कि यदि इंसाफ मिला तो आत्महत्या करने के लिए मजबूर होंगे।किशनपुरा बस्ती निवासी अवतार सिंह प|ी जसवीर कौर ने बताया कि 16 सितंबर की रात गुरप्रीत सिंह पर जानलेवा हमला करके बुरी तरह से घायल कर दिया गया। 

दैनिक भास्कर

उत्तरप्रदेश में दलितों को निर्वस्त्र घुमाने का विरोध

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-harda-news-035540-2839704-NOR.html

हरदा | अंबेडकर विचार मंच ने उत्तरप्रदेश में दलित परिवार के लोगों को निर्वस्त्र कर बेरहमी से पिटाई कर पीड़ितों को ही जेल में बंद करने के विरोध में एतराज जताते हुए राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन तहसीलदार वैद्यनाथ वासनिक को दिया। ज्ञापन देते समय एडवोकेट सुखराम वामने, लखन पटेल, दुर्गेश डोंगरे, रामबिलास आदि मौजूद रहे।

प्रभात खबर

दबंगों के खौफ से समाहरणालय गेट पर महादलितों ने गुजारी रात

http://www.prabhatkhabar.com/news/madhepura/story/557789.html

प्रतिनिधि : मधेपुरा सदर प्रखंड के बराही हसनपुर पंचायत स्थित वार्ड नंबर चार महादलित टोला में सोमवार की शाम हुई मारपीट के बाद दबंगों के खौफ से सहमे महादलित अपने घर जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे. खौफजदा लोग आधी रात तक समाहरणालय गेट पर बैठ कर रात गुजारने के लिए मजबूर थे.

पीड़ित लोगों ने बताया कि शाम हुई घटना के बाद सदर थाना सहित घटना की जानकारी मधेपुरा एसपी फोन कर दिया. लेकिन देर रात तक पीडि़तों की शिकायत सुनने के बजाय सदर थाना पुलिस महादलितों को महिला थाना और एससी एसटी थाना के चक्कर कटवा रही थी. मामला पुरानी रंजीस और भूमि विवाद से जुड़ा बताया जा रहा है.

महिला को पिट कर किया अधमरा — समाहरणालय गेट पर बैठे महादलितों ने बताया कि सोमवार की शाम जलावन चुनने गयी फुलेश्वर ऋषिदेव की पत्नी संतोलीया देवी अपनी 10 वर्षीय बेटी रोशन कुमारी के साथ लोट रही थी. रोशन गलती से दबंगों के खेत में चली गयी. जिससे आक्रोशित सुरेश यादव, प्रदीप यादव सहित अन्य रोशन को पीटने लगे.

संतोलिया देवी जब अपी बेटी को अचाने पहुंची तो आरोपियों ने मां को पीट – पीट कर अधमरा कर दिया. — शाम से भटकते रहे महादलित — घटना के बाद सभी महादलित अचेत संतोलिया को लेकर सदर अस्पताल पहुंच. जहां चिकित्सकों ने उपचार प्रारंभ किया. इस दौरान आरोपी पक्ष के पैरवीकार सदर अस्पताल पहुंच कर मामले की लिपा-पोती में जुटे रहे.

रसुखदारों की पैरवी रहने के कारण मामला मारपीट का रहने के बावजूद सदर अस्पताल से ओडी स्लिप थाना नहीं भेजा गया. बार – बार कहने के बावजूद चिकित्सक ओडी स्लिप भेजने के लिए तैयार नहीं थे. — एसपी को किया कॉल — अस्पताल प्रशासन के रवैये को देखकर पीडि़त ने मधेपुरा एसपी के मोबाइल पर कॉल कर घटना की जानकारी दी.

तत्काल एसपी के आदेश पर दो पुलिस कर्मी सदर अस्पताल पहुंचे और बयान लेने के बजाय मरीज के ठीक होने पर थाना लाकर आवेदन देने की बात कह कर चले गये.

रात करीब 10 बजे सदर अस्पताल संतोलिया देवी को लेकर सभी ग्रामीण थाना गये तो उन्हें सदर थाना पर महिला थाना जाने की फरमान सुनाया गया. — समाहरणालय गेट बना आसरा — देर रात करीब 10 बजे समाहरणालय परिसर स्थित महिला थाना पहुंचे इन महादलितों को थाना में तैनात पुलिस कर्मियों ने सुबह आने का कहा.

चारों तरफ से निराश और बैठ कर रतजग्गा करने के लिए मजबुर थे. हालांकि देर राज एसड्राइव पर निकले एसटीएससी थानाध्यक्ष एनडी निराला ने महादलितों को सदर थाना ले जा कर आवेदन थाना में जमा करवाया और महादलितों को समझा बुझा कर हसनपुर गांव पहुंचाया. लेकिन सदर थाना पुलिस मंगलवार की दोपहर तक प्राथमिकी दर्ज करने बजाय मामला एससी एसटी थाना क्षेत्र का होने बात कहते रहे. — वर्जन — यह पूरा मामला हरिजन उत्पड़ीन से जुड़ा हुआ है,

इस मामले में एससी एसटी थाना में ही प्राथमिकी दर्ज होगी. मैं आवेदन वहीं भेज देता हूं. मनीष कुमार, सदर थानाध्यक्ष, मधेपुरा.— वर्जन — डॉक्टर पिं्रस कुमार सुमन सोमवार की संध्या डियूटी पर तैनात थे.

उन्हीं के द्वारा जख्मी महिला का उपचार किया गया. पुलिस जख्म प्रतिवेदन की प्रथम रिपोर्ट क्यों नहीं भेजी गयी यह जांच का विषय है. मैं जांच करने के बाद ही कुछ बता सकूंगा.

डा अखिलेश कुमार, डीएस, सदर अस्पताल, मधेपुरा. — इनसेट — पांच बीघा जमीन का है पुराना विवाद प्रतिनिधि, मधेपुराअसुरक्षा की भावना से रतजग्गा कर रहे हसनपुर बराही निवासी बाबूजी ऋषिदेव, मुनी सादा, दीपनारायण सादा, सिताबी सादा, शिवनाथ सादा, भुलाय सादा, सुजान देवी, मिरन देवी, बेचनी देवी, रघिया देवी, सकूनी देवी, मंजू देवी, फुलमैन देवी आदि ने बताया कि प्रदीप यादव सहित अन्य महादलित समुदाय के बीच वर्षों से पांच बीघा सरकारी भूमि को लेकर विवाद चलता आ रहा है.

कुछ माह पूर्व भी विवाद वदने पर डीएम गोपाल मीणा गांव में जा कर समस्या को हल करने का प्रयास किया था. लेकिन नतीजा नहीं निकल पाया. आरोपी पक्ष उसी भूमि विवाद को लेकर महादलितों को निशाने पर रखे हुए है. खौफजदा लोगों ने शंका जाहिर की अगर बिना पुलिस के गांव गये तो आरोपी फिर से मारपीट करेंगे

दैनिक भास्कर

दलित आंदोलन के लिए प्रभारी नियुक्त

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-OTH-MAT-latest-chouhtan-news-052051-2841066-NOR.html

दलितअत्याचार निवारण समिति के बैनर तले 5 अक्टूबर 15 से दो सूत्री मांगों को लेकर चल रहे बेमियादी धरना प्रकरण में त्वरित एवं गंभीर कार्रवाई नहीं होने पर जिला मुख्यालय पर जारी बेमियादी धरना 9वें दिन भी जारी रहा। दलित अत्याचार निवारण समिति के जिला संयोजक उदाराम मेघवाल की अध्यक्षता में धरनास्थल पर हुई बैठक में तालसर सरपंच इंद्रादेवी के संवैधानिक अधिकारों का हनन करने वाले रोजगार सहायक को नहीं हटाने एवं हाथमा की दलित महिला के साथ दुष्कर्म के आरोपी की गिरफ्तारी धारा 376 भादस में नहीं होने से दलितों में रोष व्याप्त है।

दलित आंदोलन को तेज करने के लिए जिले में ब्लाक वार प्रभारी एवं सह प्रभारियों की नियुक्तियां की गई हैं।

आगामी मुख्यमंत्री के बाड़मेर आगमन पर उन्हें काले झंडे दिखाने का निर्णय लिया है। 

आंदोलनके ब्लॉक प्रभारी

बाड़मेरशहर-श्रवण कुमार बडेरा, बाड़मेर ग्रामीण-मूलाराम मेघवाल, रामसर-हेमराज मेघवाल, शिव-हरखाराम मेघवाल, गडरारोड-नंद किशोर मेघवाल, बायतू-नगााराम सरपंच-लूनाडा, सिणधरी-घेवरचन्द गर्ग, धोरीमन्ना-दिनेश कुलदीप, चौहटन-छुगाराम पंवार पूर्व सरपंच लूणाराम, धनाउ-रावताराम सांवा, सेडवा-बगताराम भील, गुड़ामालानी-छगनलाल मेघवाल, बालोतरा-भैरूलाल नामा, सिवाना-सांवलाराम भील, समदडी-फूलाराम भील, पाटोदी-घेवरराम मेघवाल, कल्याणपुर-बाबूलाल नामा, गिडा-पेमाराम गोयल है। 

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s