दलित मीडिया वांच – न्यूज़ अपडेट 30.09. 15

उधारी मांगने पर दबंगों ने युवक को मार डालाअमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/fatehpur/the-young-man-killed-on-demand-borrowings-hindi-news/

दुष्कर्म के बाद दलित महिला की हत्या अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/budaun/budaun-crime-news/dalit-woman-killed-after-rape-hindi-news/

यहां जाति देखकर कुएं से मिलता है पीने का पानी न्यूज़ 18

http://hindi.news18.com/news/madhya-pradesh/well-distributed-according-to-caste-in-tikamgarh-mp-809754.html

विदेशों में गूंजा रहा बागपत खाप पंचायत का रेप फरमान, पुलिस को मिले 249 पत्रन्यूज़ 18

http://hindi.news18.com/news/uttar-pradesh/baghpat-khap-panchayats-rape-diktate-gets-viral-in-foreign-police-received-over-249-letters-812423.html

जुलूस व प्रसाद बांटने के लिए रोकादैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-shajapur-news-045036-2747202-NOR.html

साहब! गांव में बिजली नहीं है, ट्रांसफार्मर लगवाओदैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-sheour-news-050544-2744953-NOR.html

Save Dalit Foundation:

Educate, agitate & organize! – Dr. Ambedkar.

Let us all educates to agitate & Organize to Save Dalit Foundation !         

Please sign petition for EVALUATION of DF by click this link : https://t.co/WXxFdysoJK

अमर उजाला

उधारी मांगने पर दबंगों ने युवक को मार डाला

http://www.amarujala.com/news/city/fatehpur/the-young-man-killed-on-demand-borrowings-hindi-news/

उधारी मांगने से गुस्साएं दबंगों ने बीते सोमवार देर रात दलित युवक की पीट-पीट कर हत्या कर दी। बीच बचाव करने पहुंची युवक की पत्नी को भी जमकर पीटा गया। सीओ और थाना पुलिस ने घटनास्थल की छानबीन के बाद आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। आरोपी फरार बताए गए हैं। जिनकी तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है।

जाफरगंज थानाक्षेत्र के पांडेयपुर निवासी मुनेश (40) लकड़ी कटान का काम करता था। उसके साथ गांव के रवींद्र ऊर्फ छुन्ना, उसका छोटा भाई अरविंद ऊर्फ छोटू भी पार्टनर थे। मुनेश लकड़ी कटाई कराने के बाद रवींद्र के लोडर से सप्लाई कराता था। 

करीब एक साल पहले काम बंद हो गया। उस समय हिसाब के बाद 50 हजार रुपये रवींद्र और उसके भाई पर पर बकाया था। इस रकम को रवींद्र ने कुछ दिनों में चुकता करने के लिए मुनेश से वादा किया था लेकिन तय समय बीत जाने के बाद भी जब रकम नहीं लौटी गई तो मुनेश रुपयों की मांग करने लगा। कई बार उसे रवींद्र ने टरकाया। 

मुनेश ने मामले को गांव वालों के बीच तक रखा। ग्रामीणों ने भी रवींद्र पक्ष को उधारी वापस करने के लिए कहा। इससे कर्जदार रवींद्र और उसके घर के लोग गांव वालों के बीच बेइज्जत होने से नाराज हो गए। जिसके चलते सोमवार देर रात दबंगों ने मुनेश को रुपये देने के बहाने बुलवाया और घर में रुपये देने की बात को लेकर चर्चा शुरू हुई।

बातचीत के दौरान ही रवींद्र ने अपनी पत्नी राधा, भाई अरविंद और साथी भोला यादव को बुला लिया। बातचीत के दौरान यह सभी मुनेश सेे गाली गलौज करते हुए उसे लाठी-डंडे से पीटना शुरू कर दिया। युवक की चीख पुकार सुनकर उसकी पत्नी रूपा बचाने पहुंची। परिवार के लोगों ने रूपा की भी जमकर पीट दिया।

पिटाई से मुनेश की हालत ज्यादा गंभीर हो गई। यह देख हमलावर परिवार समेत भाग निकला। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और गंभीर अवस्था में मुनेश को सीएचसी लेकर पहुंची। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने हमलावरों के घर ताला बंद कर दिया है। मृतक के भाई रामकिशुन की तहरीर पर पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

जाफरगंज थानाक्षेत्र में मुनेश की पीट-पीटकर की गई हत्या के मामले में रिपोर्ट दर्ज करते वक्त पुलिस ने खेल कर दिया। पुलिस ने हत्या के मामले में मृतक के परिजनों को गुमराह करते हुए हमलावरों के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने इन धाराओं में रिपोर्ट क्यों दर्ज की इसका कोई ठोस साक्ष्य भी नहीं है। पुलिस की कार्यशैली सवालों के घेरे में है।

गौरतलब है कि जाफरगंज थानाक्षेत्र के पांडेयपुर गांव निवासी मुनेश को उधारी मांगने पर गांव के रवींद्र ने अपने परिवार के साथ मिलकर सोमवार रात बर्बर पिटाई करके मौत के घाट उतार दिया था। थाना पुलिस ने रवींद्र, अरविंद, राधा और भोला यादव के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। 

जबकि मृतक की पत्नी रूपा का आरोप है कि उसके पति की मौके पर ही मौत हो गई थी। उसके पति को मरा जानने के बाद हमलावर गांव छोड़कर भागे गए थे। वह लोग एंबुलेंस से बिंदकी सीएचसी में मुनेश को लेकर पहुंचे थे। जहां  डाक्टरों ने एंबुलेंस में ही पति की हालत देखकर उसे मृत घोषित कर दिया था।

पीड़ित पक्ष का आरोप है कि पुलिस ने तहरीर में खेल किया है। इस तरह से पूरा मामला सीधे हत्या का बनता है लेकिन पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। जाफरगंज एसओ धर्मेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि परिजनों की ओर  मिली तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

तहरीर में पिटाई के बाद इलाज के लिए ले जाते समय मौत बताई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी एक दर्जन चोटों के कारण युवक की मौत होने की पुष्टि हुई है।

पांडेयपुर गांव के ग्रामीणों ने बताया कि आरोपी काफी दबंग हैं। इसी वजह से उनके मामले में कोई भी नहीं बोलता है। दलित मुनेश पर इन लोगों ने जमकर लाठी डंडे बरसाए और उसकी छाती पर चढ़कर बेरहमी से उसे पीटा। मुनेश की मौत होने के बाद भी यह लोग उसे पीटते रहे।

दलित ठेकेदार की हत्या के बाद गांव पांडेयपुर में सन्नाटा पसरा है। दबंगों के खिलाफ कोई भी जुबान खोलने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा है। सीओ बृजराज सिंह ने बताया कि हत्यारों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस की टीमें बनाई गई है। गांव में सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

दलित ठेकेदार 40 वर्षीय मुनेश की हत्या के बाद उसका परिवार बेसहारा हो गया है। घटना से उसकी पत्नी रूपा और पुत्री नंदनी उर्फ आशना, पुत्र अंश, आदर्श हाल बेहाल हैं। परिवार का भरण पोषण मृतक की कमाई से होता था। अब परिवार के सामने रोजी रोटी का भी संकट खड़ा होगा। 

अमर उजाला

 दुष्कर्म के बाद दलित महिला की हत्या

http://www.amarujala.com/news/city/budaun/budaun-crime-news/dalit-woman-killed-after-rape-hindi-news/

कादरचौक थाने के एक गांव की दलित महिला सोमवार दोपहर खेत पर लकड़ी लेने गई थी। इसके बाद वह घर नहीं लौटी। पति ने गांव वालों के साथ मिलकर उसकी तलाश की। मंगलवार सुबह जब गांव के लोग शौच को निकले, तो महिला का शव नग्नावस्था में चरी के एक खेत में पड़ा मिला। उसकी साड़ी से गले में फंदा कसा हुआ था। बाकी कपड़े भी शव से काफी दूर इधर-उधर पड़े थे। खबर मिलने पर थाना पुलिस के साथ सीओ उझानी वंशराज यादव भी मौके पर पहुंच गए। मंगलवार शाम को दो डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराया गया। पोस्टमार्टम में हत्या गला दबाकर किए जाने की पुष्टि हुई है। डॉक्टरों ने प्रथम दृष्टया महिला से दुष्कर्म की आशंका भी जताई है। उसके प्राइवेट पार्ट से स्लाइड बनाकर पैथालॉजी भेजी गई है। मामले में अभी रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है। एसपी सिटी अनिल यादव ने कहा ‌कि दलित महिला सोमवार से लापता थी। दुष्कर्म के बाद हत्या की बात से इंकार नहीं किया जा सकता। उसके साथ दुष्कर्म हुआ है या नहीं? यह तो पोस्टमार्टम और स्लाइड रिपोर्ट आने के बाद ही पता लग सकेगा। इसी आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

न्यूज़ 18

 यहां जाति देखकर कुएं से मिलता है पीने का पानी

http://hindi.news18.com/news/madhya-pradesh/well-distributed-according-to-caste-in-tikamgarh-mp-809754.html

टीकमगढ़ जिले के इकबाल पुरा गांव में जाति देखकर कुएं का पानी देने का मामला सामने आया है. यहां तीन अलग-अलग कुएं सर्वर्णों, दलित और वंशकारों के लिए बांट दिए गए हैं.

well1

दरसअल, बुंदेलखण्ड के टीकमगढ़ जिले के कई गांवों में आज भी छुआछूत की परंपरा बनी हुई है. इसी के चलते इस क्षेत्र में दलित समाज के लोगों के लिए अलग से कुएं बनाए गए हैं.

बताया जा रहा है कि इकबाल पुरा गांव में एक साथ ‌‌बने यह कुएं अलग-अलग जातियों में बांट दिए गए हैं. सवर्ण समाज के लोगों के लिए अलग से एक कुंआ बनाया गया है. इसी तरह दलित समाज और पिछड़ी बंशकार जाति के लिए सवर्णों के कुंए से दूर दो कुएं बनाए गए हैं.

आजादी के 68 साल हो जाने पर भी यहां पर पुरानी जातिप्रथा के अनुसार ही नियम बने हुए हैं. इसी वजह से इनमें से कोई भी जाति एक-दूसरे के कुएं से पानी नहीं भर सकती है.

गांव के छात्र महेन्द्र अहिरवार का कहना है कि गांव में छुआछूत की परंपरा सिर्फ पानी ही नहीं बल्कि बाकी चीजों के लिए भी है. इसी के चलते सभी जाती के लोग एक-दूसरे से दूरी बनाए रखते हैं.

वहीं सबसे ज्यादा हैरानी की बात तो ये है कि जिले के किसी भी जिम्मेदार अफसर को इस मामले की जानकारी नहीं है. हालांकि, मामले का खुलासा होने के बाद अफसर इसकी जांच करवाने की बात कह रहे हैं.

न्यूज़ 18

 विदेशों में गूंजा रहा बागपत खाप पंचायत का रेप फरमान, पुलिस को मिले 249 पत्र

http://hindi.news18.com/news/uttar-pradesh/baghpat-khap-panchayats-rape-diktate-gets-viral-in-foreign-police-received-over-249-letters-812423.html

सोशल मीडिया का असर एक बार फिर देखने को मिल रहा है. बागपत में खाप पंचायत द्वारा कथित तौर पर दलित परिवार की दो बहनों के साथ दुष्कर्म और नग्न परेड कराने के फरमान का असर देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी छाया हुआ है.

यह मामला फ्रांस, यूएसए, स्वीडन, अमेरिका, जर्मनी, न्यूजीलैंड, आस्ट्रेलिया, ब्राजील, हॉलैंड और कोरिया में चर्चा का विषय बना हुआ है. वहां से सैकड़ों पत्र बागपत पुलिस के आला अफसरों के पास पहुंच रही है, जिसमे दोनों बहनों के सम्मान और सुरक्षा की अपील की गए है.

यही वजह है कि सांकरौद प्रकरण को लेकर पुलिस के आला अफसर इन दिनों सफाई देने में जुटे हैं कि एस कोई पंचायत हुई ही नहीं. सांकरौद प्रकरण को लेकर डीजीपी के पास अभी तक 249 पत्र आ चुके हैं. पुलिस बार-बार यह बता चुकी है कि सांकरौद में खाप पंचायत नहीं हुई.

लेकिन सोशल मीडिया पर यह न्यूज़ जैसे ही वायरल हुई पूरा पप्रकरण विदेशों में भी गूंजने लगा. ब्रिटिश पार्लियामेंट में तो बाकायदा इस पर चर्चा हुई और भारत सरकार से मामले में दखल देने की अपील भी की गई.

उत्तर प्रदेश के डीजीपी जगमोहन के पास विभिन्न माध्यमों से पत्र भेज रहे हैं कि सांकरौद में खाप पंचायत ने दलित परिवार की दो बहनों को इज्जत का बदला इज्जत के नाम पर दुष्कर्म कर गांव में नग्न परेड कराने का फरमान सुना रखा है. लिहाजा उनके सम्मान और जान की सुरक्षा की जाए.

दरअसल पूरा मामला प्रेमप्रसंग का है. एक दलित युवक को जात विरादरी के लड़की से प्रेम था. परिवार वालों को जब इस बात का पता चला तो आनन-फानन में लड़की की शादी करा दी गई. लेकिन जब लड़की मायके आई तो वह अपने पूर्व प्रेमी के साथ भाग गई. इसके बाद पुलिस में लड़के के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज हुआ. बाद में पुलिस ने दोनों को दिल्ली के महरौली इलाके से पकड़ा. जिसके बाद लड़की को परिवार वालों को सौंप दिया गया जबकि लड़के को जेल भेज दिया गया.

जिसके बाद कथित तौर पर खाप पंचायत होने की बात कही गई. जिसमे इज्जत का बदला इज्जत से लेने का फरमान सुनाया गया. पंचायत ने कहा कि युवक की दोनों बहनों का रेप कर उन्हें नंगा घुमाया जाए. जिसके बाद दोनों बहनों ने सुप्रीम कोर्ट से सुरक्षा की गुहार भी लगाई.

दैनिक भास्कर

 जुलूस व प्रसाद बांटने के लिए रोका

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-shajapur-news-045036-2747202-NOR.html

शाजापुर | गणेश प्रतिमा का विसर्जन जुलूस निकालने की बात को लेकर ग्राम पतौली में विवाद हो गया। जानकारी के अनुसार ग्राम के अजा मोहल्ला में गणेशोत्सव के बाद प्रतिमा विसर्जन के लिए चल समारोह निकालना था। लेकिन इस बात से नाराज सवर्णों ने दलितों को धमकाया कि उनके घर के सामने से जुलूस नहीं निकलेगा। मामले में दलित समाज की ओर से कोतवाली पुलिस में आवेदन देकर जुलूस के दौरान पुलिस व्यवस्था करने की मांग की गई थी। गांव में पुलिस जवानों की तैनाती के बाद विसर्जन चल समारोह निकला। कोतवाली के अनुसार सोमवार रात प्रसाद वितरण के दौरान विवाद फिर उपजा। पुलिस माैके पर पहुंची। सोमवार रात हुए मामले में मंगलवार दोपहर को ग्राम के भागीरथ की शिकायत पर अनोप सिंह, अर्जुन सिंह व एलकार के खिलाफ विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है। 

एसडीएम को ज्ञापन सौंपा 

मंगलवार को ही दलित वर्ग के कई लोग कलेक्टोरेट कार्यालय पहुंचे। यहां उन्होंने एसडीएम के.के. मालवीय को एक ज्ञापन सौंपा। इसमें ग्राम लोंदिया के कुछ सवर्णों पर दलितों के साथ मारपीट और दुर्व्यवहार का आरोप लगाया। एक सप्ताह में दोषियों पर कार्रवाई की मांग की गई।

पतौली में विवाद, सवर्णों ने दलितों को धमकाया 

दैनिक भास्कर

 साहब! गांव में बिजली नहीं है, ट्रांसफार्मर लगवाओ

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-sheour-news-050544-2744953-NOR.html

सोंई का टपरा के ग्रामीणों ने जनसुनवाई में लगाई फरियाद भास्कर संवाददाता |

श्योपुर साहब! हमारी बस्ती में बिजली नहीं है, जिसके कारण काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यदि राजीव गांधी बिजलीकरण योजना से हमारे यहां सिंगल बत्ती कनेक्शन दिए जाएं तो काफी राहत मिलेगी। यह गुहार लगाई है सोंई का टपरा के ग्रामीणों ने, जिन्होंने मंगलवार को जनसुनवाई में अपनी समस्या बताई।

जनपद पंचायत अध्यक्ष दीनदयाल मीणा के नेतृत्व में जनसुनवाई में कलेक्टर को सौंपे आवेदन में ग्रामीणों ने बताया कि सोंई का टपरा में दलित समाज के लोग रहते हैं, लेकिन यहां लाइट की सुविधा नहीं है, जिसके कारण बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। ग्रामीणों का कहना है कि हमारी बस्ती से मात्र 300 मीटर दूर बिजली लाइन और खंभे लगे हुए हैं, जिससे हमारी बस्ती की बिजली सप्लाई चालू की जा सकती है। ग्रामीणों ने बिजली लगाए जाने की मांग की है। जनसुनवाई में लोगों की समस्याएं सुनते अधिकारीगण। 

जनसुनवाई में सुनी 107 नागरिकों की फरियाद

जनसुनवाई कार्यक्रम में मंगलवार को कलेक्टर पीएल सोलंकी द्वारा जनसुनवाई करते हुए आवेदनों के निराकरण के संबध में निर्देश दिए। इस दौरान अपर कलेक्टर वीरेन्द्र कुमार सिंह एवं अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अग्रवाल भी उपस्थित थे। कलेक्टर न्यायालय में आयोजित जनसुनवाई के कार्यक्रम में 107 आवेदन प्राप्त हुए जिनका पंजीयन कर पावती रसीद उपलब्ध कराई गई। 

 News monitored by KULDEEP & KALPANA BHADRA

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s