दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 19.09.15

ब्याज नही दिया तो बाप-बेटे ने पीट-पीटकर मार डाला – न्यूज़ ट्रैक

http://www.newstracklive.cm/news/Father-son-murder-Muzaffarnagar-uttar-pradesh-1016441-1.html

तमिलनाडु : दलित की हत्या के मामले की जांच कर रही महिला डीएसपी ने की आत्महत्या – एनडी टीवी इंडिया

http://khabar.ndtv.com/news/india/tamil-nadu-women-dysp-investigating-murder-of-dalit-youth-committs-suicide-1219221

दलितों के लिए खुलेंगे अलग थाने, योजना तैयार – अमर उजाला

http://m.amarujala.com/lucknow/feature/city-news-lkw/separate-police-stations-in-up-for-dalit-hindi-news/

पांचा लाख रुपए वार्षिक आय वाले दलित परिवार क्रीमिलेयर में हो शामिल – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/MP-MUR-MAT-latest-morena-news-034542-2675086-NOR.html

जिले के अनुसूचित जनजाति वर्ग के 17 हितग्राही लाभान्वित होंगे, ऋण देंगे – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-shajapur-news-051542-2676164-NOR.html

उद्यमी बनने के लिए मांगे आवेदन – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-datia-news-021005-2671677-NOR.html

पदावनत के विरोध में सांसदों का होगा घेराव – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/hardoi/hardoi-hindi-news/mps-will-be-demoted-to-protest-blockade-hindi-news/

Save Dalit Foundation:

Educate, agitate & organize! – Dr. Ambedkar.

Let us all educates to agitate & Organize to Save Dalit Foundation !

Please sign petition for EVALUATION of DF by click this link : https://t.co/WXxFdysoJK

न्यूज़ ट्रैक

ब्याज नही दिया तो बाप-बेटे ने पीट-पीटकर मार डाला

http://www.newstracklive.com/news/Father-son-murder-Muzaffarnagar-uttar-pradesh-1016441-1.html

उत्तर प्रदेश: एक दलित को पैसे उधर लेना इतना महंगा पड़ा की उसे अपनी जान से हाथ धोना पड़ा. यह सनसनीखेज मामला उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले का है जहा बाप-बेटो ने ब्याज के पैसे नही चुकाने पर दलित की पीट-पीट कर हत्या कर दी. मामला मुजफ्फरनगर जिले के बेहदाथ्रू गांव का है. मृतक की पत्नी ने पुलिस को केस दर्ज करते हुए वारदात की कहानी बताई. उसने बताया कि एक हफ्ते पहले उसके पति नरेश ने वहीं रहने वाले मिन्टू और उसके बेटे मीनू से 40,000 रुपये का कर्ज लिया था जो उसने चुकता कर दिया. मृतक की पत्नी ने बताया की मिंटू और मीनू उस पैसे पर ब्याज की मांग का दवाब बना रहे थे. पुलिस सूत्रों के मुताबिक नरेश ने ब्याज देने से इनकार कर दिया था जिसके बाद दोनों आरोपियों ने कुछ दिन पहले नरेश को बुरी तरह से पीटा.

07-murder-crime-600_55fc6d8233c10

जिसकी वजह से उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां शुक्रवार को उसने दम तोड़ दिया. नरेश की मौत के बाद मामले पर कार्रवाई की मांग करते हुए दलित समुदाय के लोगों ने पुलिस थाने का घेराव भी किया और जमकर नारेबाजी के साथ प्रदर्शन भी किया. पुलिस ने लोगों को किसी तरह समझाइश देकर शांत कराया. मिंटू और मीनू के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर लिया गया है. लेकिन दोनों आरोपी पिता पुत्र फरार हैं.

एनडी टीवी इंडिया

तमिलनाडु : दलित की हत्या के मामले की जांच कर रही महिला डीएसपी ने की आत्महत्या

http://khabar.ndtv.com/news/india/tamil-nadu-women-dysp-investigating-murder-of-dalit-youth-committs-suicide-1219221

 चेन्नई: तमिलनाडु के नमक्कल जिले में महिला डीएसपी की लाश उनके कमरे में फंदे से झूलती पाई गई। इस महिला अधिकारी का नाम विष्णुप्रिया था। यह अधिकारी एक दलित की कथित हत्या के गंभीर मामले की जांच कर रही थी। इस दलित का नाम गोकुलराज था।

सलेम रेंज की डीआईजी विद्या कुलकर्णी ने इस मामले पर कहा कि हमें मौके से सुसाइड नोट मिला है, हम जांच कर रहे हैं और फिलहाल कोई ज्यादा जानकारी नहीं दे सकते।

मिला है सुसाइड नोट

सूत्र बता रहे हैं कि महिला अधिकारी ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि वह इस नौकरी के लायक नहीं है और कहा है कि उसकी मौत को किसी भी तरह से गोकुलराज की हत्या से जोड़कर न देखा जाए।

पुलिसवालों के परिवार से थी यह अधिकारी

विष्णप्रिया कुड्डालोर जिले की रहने वाली थी और उनके परिवार में कई लोग पुलिस में हैं। उनके पिता और बहन भी पुलिस विभाग में अधिकारी हैं।

क्या है मामला

बता दें कि गोकुलराज की कथित हत्या की गई थी और लाश रेलवे के ट्रैक पर मिली थी। जून की इस घटना से ठीक पहले एक मंदिर के सीसीटीवी में यह कैद हुआ कि गोकुलराज किसी ऊंची जाति की महिला से बात कर रहा है और इसके बाद कुछ ऊंची जाति के लोग उसे वहां से घसीटते हुए ले जा रहे हैं। इसी घटना के बाद गोकुलराज की लाश रेलवे लाइन पर मिली थी।

इस घटना को अंजाम देने वाले लोगों का सरगना युवराज अभी भी फरार है, लेकिन पुलिस ने बाकी अन्य को गिरफ्तार कर लिया है।

गोकुलराज का मैसेज

जांच में गोकुलराज के मोबाइल से एक व्हाट्सऐप वीडियो रिकॉर्डिंग मिली थी जो एक प्रकार का सुसाइड नोट था जिसमें वह कह रहा है कि उसकी मौत का कारण प्यार में हार है। वहीं, कुछ लोगों का कहना है कि यह रिकॉर्डिंग जबरदस्ती करवाई गई है और उसकी हत्या उसी गैंग ने की है जो उसे घसीटता हुआ कैमरे में कैद हुआ था। लोगों का आरोप है कि यह मैसेज जांच को भटकाने के लिए आरोपियों ने जानबूझकर तैयार करवाया था।

अमर उजाला

दलितों के लिए खुलेंगे अलग थाने, योजना तैयार

http://m.amarujala.com/lucknow/feature/city-news-lkw/separate-police-stations-in-up-for-dalit-hindi-news/

अफसरों ने तैयार कर लिया है मसौदा

सूबे में महिला थानों की तर्ज पर दलितों के लिए अलग थाने खुलेंगे। इसके लिए पुलिस व समाज कल्याण विभाग के अफसरों ने मसौदा तैयार कर लिया है।

अनुसूचित जाति/जनजाति कल्याण योजना के तहत थानों का आधा खर्च राज्य और आधा केंद्र सरकार वहन करेगी। फिलहाल यह व्यवस्था बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में है।

सूबे में दलित उत्पीड़न व एससी/एसटी के लोगों की थानों पर सुनवाई न होने की शिकायतों के चलते उनके लिए अलग थाने खोलने का मसौदा तैयार किया गया है। इन थानों पर इंस्पेक्टर/एसओ के साथ कम से कम दो हेड कांस्टेबल व सिपाहियों के अलावा महिला कांस्टेबल की तैनाती होगी।

यहां दलित उत्पीड़न के न सिर्फ मुकदमे दर्ज होंगे, बल्कि समझौते के जरिये मामले भी सुलझाए जाएंगे। डीएसपी नोडल अधिकारी होगा और एएसपी जोनल स्तर पर ब्यौरा एकत्र करके शासन व आला अफसरों को देंगे।

महानगर से शुरू होगी व्यवस्था

विभागीय सूत्रों का कहना है कि महिला थाने की तर्ज पर पहले चरण में महानगरों में दलितों के लिए अलग थाने खोले जाएंगे। इसके बाद प्रदेश के सभी जिलों में व्यवस्था शुरू करने पर विचार किया गया है।

थाना खोलने में कोई अतिरिक्त बोझ नहीं

देश के छह राज्यों में चल रहे दलित थानों की समीक्षा में पाया गया कि अलग थाने खुलने से प्रदेश सरकार पर कोई अतिरिक्त बोझ नहीं पड़ेगा। एक आला अफसर ने बताया कि पुलिस लाइन या अन्य स्थानों पर ड्यूटी कर रहे इंस्पेक्टर, दरोगा, हेड कांस्टेबल व सिपाहियों में से कुछ को चुनकर दलितों के थाने पर तैनाती की जाएगी।

मौजूदा समय में एसपी/एसएसपी ऑफिस में संचालित विशेष जांच प्रकोष्ठ के कक्ष को थाने के रूप में इस्तेमाल करने से भवन की भी समस्या नहीं होगी। इसी तरह प्रकोष्ठ का सरकारी वाहन थाने को उपलब्ध कराया जा सकता है। यानी जो व्यवस्था है, उसी में थाना संचालित किया जा सकता है। उस पर भी आधा खर्च केंद्र सरकार वहन करेगी।

आसानी से पहुंच सकेंगे थाना

दलितों के लिए थाने ऐसे स्थान पर खोले जाएंगे, जहां वे आसानी से पहुंच सकें। इसके लिए एसपी/एसएसपी के ऑफिस या शहर के बीच स्थित भवन को चुना जाएगा, जो रेलवे स्टेशन या बस अड्डे से ज्यादा दूर न हो और आवागमन के साधन सुलभ हो। आरोपियों की गिरफ्तारी व अन्य जरूरतों पर संबंधित थाने की टीम भी मदद करेगी।

पीड़ितों को मिलेगा यात्रा भत्ता

पीड़ित को बयान दर्ज कराने या अन्य कार्रवाई के लिए थाने पर बुलाए जाने की स्थिति में उसे यात्रा भत्ता देने के साथ जलपान की भी व्यवस्था कराई जाएगी। किसी को अनावश्यक रूप से बार-बार थाने पर तलब किए जाने पर संबंधित पुलिसकर्मी पर कार्रवाई होगी।

दैनिक भास्कर

पांचा लाख रुपए वार्षिक आय वाले दलित परिवार क्रीमिलेयर में हो शामिल

http://www.bhaskar.com/news/MP-MUR-MAT-latest-morena-news-034542-2675086-NOR.html

मुरैना| पांच लाख रुपए वार्षिक आय वाले दलित परिवार को क्रीमिलेयर में शामिल किया जाए। यह मांग महा दलित सभा की बैठक में की गई। बैठक का आयोजन शुक्रवार को संजय पार्क में हुआ। जिसमें निर्णय लिया गया कि आरक्षण की विसंगति को दूर करने के लिए महा दलित सभा द्वारा हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की जाएगी जिसका विषय होगा कि पांच लाख रुपए वार्षिक आए वाले दलित परिवार क्रीमिलेयर में शामिल किया जाए। क्योंकि गरीब दलित और गरीब हो रहे हैं जबकि आर्थिक रूप से संपन्न दलित और सम्पन्न हो रहा है। इस विसंगति को दूर किया जाना चाहिए। बैठक में संजय जाटव, भूपेन्द्र जाटव, अनिल जाटव, रामहेत बाल्मीक, उपेन्द्र खटीक, रामवीर कोरी, राजाराम छारी, राजेन्द्र जाटव, रूप सिंह, राजू खटीक, सुनहरी बाल्मीक आदि शामिल रहे। 

दैनिक भास्कर

जिले के अनुसूचित जनजाति वर्ग के 17 हितग्राही लाभान्वित होंगे, ऋण देंगे

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-shajapur-news-051542-2676164-NOR.html

शाजापुर | जिले के अनुसूचित जनजाति वर्ग के 17 बीपीएल हितग्राहियों को आय सृजन के लिए लाभान्वित किया जाएगा। जिला संयोजक आर.पी. भद्रसेन ने बताया छापीहेड़ा गांव के चयनित हितग्राहियों को हाथठेला व्यवसाय के लिए ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। बेरछा, टुकराना के हितग्राही को किराना व्यवसाय के लिए ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। पीरखेड़ी, छापीहेड़ा, टुकराना, तिलावद, चकखेड़ा दुधाना को भी व्यवसाय के लिए ऋण एवं पीरखेड़ी के हितग्राही को रेडिमेड कपड़ा व्यवसाय के लिए ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। सभी हितग्राहियों को बैंक की पासबुक एवं पासपोर्ट साइज के दो नए फोटो के साथ जिला संयोजक ने 28 सितंबर को दोपहर 12.30 बजे तक कलेक्टोरेट स्थित विभागीय कार्यालय में आने को कहा है।

दैनिक भास्कर

उद्यमी बनने के लिए मांगे आवेदन

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-datia-news-021005-2671677-NOR.html

दतिया | मध्यप्रदेश शासन के कुटीर एवं ग्रामोद्योग विभाग में उद्यमियों हेतु मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के लिए खाद्य प्रसंस्करण उद्योग स्थापित के लिए आवेदन मांगे गए हैं। इस योजना में परियोजना लागत अधिकतम 10 लाख तक होगी। योजना में मार्जिन मनी सहायता 15 प्रतिशत अनुदान अधिकतम एक लाख रुपये होगी। इसके अलावा अनुसूचित जाति, जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, महिला, अल्प संख्यक एवं निशक्तजन हेतु 30 प्रतिशत अधिकतम दो लाख रुपये मार्जिन मनी अनुदान सहायता दी जाएगी।

अमर उजाला

पदावनत के विरोध में सांसदों का होगा घेराव

http://www.amarujala.com/news/city/hardoi/hardoi-hindi-news/mps-will-be-demoted-to-protest-blockade-hindi-news/

रदेश सरकार ने सूबे में एससी के हजारों अफसरों, कर्मियों को पदावनत कर बदले की भावना को प्रदर्शित किया है। जिसका विरोध करने को आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति रैली निकालेगा। समिति अध्यक्ष राजकुमार कपिल ने शुक्रवार को पत्रकारों को बताया कि  महासम्मेलन में जिले की भूमिका अहम रहेगी।

कपिल ने पत्रकारों को 20 सितंबर को होने वाले विरोध प्रदर्शन के बारे में बताया। कहा कि प्रदेश में अनुसूचित जाति व जनजाति के अफसर, कर्मियों के साथ उचित नहीं किया जा रहा है। प्रदेश भर में 10 हजार और जिले में करीब सवा सौ अफसर, कर्मियों को पदावनत कर दिया गया।

जिनमें से तमाम ऐसे थे जो ज्येष्ठता सूची में शामिल हो चुके थे, पर उन्हें भी रिवर्ट कर दिया गया। कहा कि समिति ने इसलिए ही 20 सितंबर को गांधी भवन में महासम्मेलन का आयोजन किया, जिसमें समिति के राष्ट्रीय संयोजक राज्य उपभोक्ता परिषद चेयरमैन अवधेश कुमार वर्मा।

पूर्व निदेशक मध्यांचल विद्युत वितरण निगम केबी राम, डा. राम शव्य जैसवार तथा आरपी केन समेत प्रदेश स्तरीय तमाम पदाधिकारी मौजूद रहेंगे। बताया कि समिति द्वारा पूरे प्रदेश में सांसद व विधायकों की पोल खोल कार्यक्रम की शुरुआत हरदोई से की गई है।

बताया कि महासम्मेलन के बाद अनुसूचित जाति व जनजाति के सांसद व विधायकों का घेराव भी किया जाएगा और प्रोन्नतियों में आरक्षण बहाल कराने की मांग होगी। इस मौके पर संजय दत्त, प्रदीप गौतम, अवनींद्र वर्मा, अमित कुमार, शिव गोपाल व संतोष कुमार आदि मौजूद थे।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s