दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 07.09.15

बिहार से अगवा दलित किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/lucknow-city-gang-rape-in-shahjahanpur-12848486.html

दुष्कर्म पीडि़ता का जबरन पोस्टमार्टम – पत्रिका

http://rajasthanpatrika.patrika.com/story/rajasthan/forcefully-postmortem-of-rape-victim-1283579.html

दलित पिछड़ा वर्ग के जिला उपप्रधान ने लगाया मारपीट व लूट का आरोप – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/haryana/sirsa-12849021.html

श्मशान तक पीछा नहीं छोड़तीं समस्याएं – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/firozabad-12846170.html

सामाजिक जागरूकता के लिए युवाओं को मुहिम में किया जाएगा शामिल : ढिलोड़ – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/haryana/jind-12846257.html

चाटकी में बीमारी बनी महामारी – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/saharanpur/saharanpur-hindi-news/the-disease-remains-epidemic-chatki-hindi-news/

बी.टी.एफ ने किया फूंक प्रदर्शन – पंजाब केसरी

http://www.punjabkesari.in/news/article-392675

Please Watch:

The Stream – India’s ‘untouchables’ reclaim the past with #DalitHistoryMonth

https://www.youtube.com/watch?v=ny5D4juT9EI

Save Dalit Foundation-DF:

Educate, agitate & organize! – Dr. Ambedkar.

Let us all educates to agitate & Organize to Save Dalit Foundation !

Please sign appeal for Evaluation of DF by click this link : https://t.co/WXxFdysoJK

दैनिक जागरण

बिहार से अगवा दलित किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/lucknow-city-gang-rape-in-shahjahanpur-12848486.html

लखनऊ। बिहार से अगवा दलित किशोरी को बंधक बनाकर दुष्कर्म करने का मामला प्रकाश में आया है। अपहर्ताओं के चंगुल में एक माह से छटपटा रही पीडि़ता किसी तरह छूटकर भागी तो पड़ोस के लोगों ने सच जाना। शाहजहांपुर पुलिस ने आरोपी दंपती को गिरफ्तार कर लिया। किशोरी की बरामदगी की सूचना बिहार पुलिस के जरिये पीडि़त परिवार को दे दी गयी है।

बंडा के गायत्री नगर निवासी राम सिंह की शादी बिहार के मोतिहारी जिला निवासिनी संजू से हुई है। आरोप है कि एक माह पूर्व बिहार गए दंपती ने एक किशोरी को अगवा कर लिया। बंडा में अपने घर पहुंचे राम ङ्क्षसह उसकी पत्नी संजू ने किशोरी को बंधक बना लिया। किशोरी से राम सिंह व उसके परिचित दुष्कर्म करते थे। राम सिंह दुष्कर्म के एवज में लोगों से रुपये वसूलता था। रविवार तड़के 4 बजे पीडि़त किशोरी राम ङ्क्षसह के चंगुल से छूटकर पास के पहुंच गयी। सूचना पर पुलिस ने गायत्री नगर में दबिश देकर आरोपी राम सिंह उसकी पत्नी संजू को दबोच लिया। एसओ राजीव मिश्रा ने बताया कि पीडि़ता की तहरीर मुताबिक रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। मेडिकल कराया जा रहा है।

विरोध पर करता था मारपीट

राम सिंह की कैद से छूटने के बाद किशोरी ने महिला पुलिस को बताया कि आरोपी उसके साथ दुष्कर्म करता था। जब भी वह इसका विरोध करती तो वह उसके साथ मारपीट भी करता था। कई बार विरोध करने पर उसे तेजाब से जलाने का भी प्रयास किया गया।

बिहार पुलिस ने नहीं लिया संज्ञान

पश्चिमी चंपारण जिला निवासिनी किशोरी एक माह पूर्व अगवा हुई थी। अनहोनी की आशंका से परेशान परिजनों ने इलाकाई थाने को इत्तला सिंह के पास एक दो वर्षीय मासूम बालक भी है। उसके बारे में लोग कई तरह के कयास लगा रहे हैं। आशंका व्यक्त की जा रही है कि मासूम को कहीं से अगवा कर लाया गया है। राम ङ्क्षसह उसकी पत्नी को बच्चा न होने से मासूम के बारे में लगाए जा रहे कयासों को बल मिल रहा है।

पत्रिका

दुष्कर्म पीडि़ता का जबरन पोस्टमार्टम

http://rajasthanpatrika.patrika.com/story/rajasthan/forcefully-postmortem-of-rape-victim-1283579.html

 रायसिंहनगर.  दुष्कर्म के आरोपित को क्लीन चिट देकर सवालों के घेरे में आई पुलिस ने रविवार को सारी हदें पार कर दी। सामुहिक दुष्कर्म की शिकार हुई युवती के शव का बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में दोपहर बाद करीब तीन बजे पीडि़ता के कथित रिश्तेदारों की सहमति से जबरन पोस्टमार्टम करवा दिया गया। विरोधस्वरूप पीडि़ता का पिता और चचेरा भाई कस्बे में बस स्टैंड के पास बने जलदाय विभाग के ओवरहैड टैंक पर चढ गए।

उधर पोस्टमार्टम के तुरंत बाद धरनास्थल पर सुरक्षा बढा दी गई तथा अंतिम संस्कार की तैयारियों के लिए बैठकों का दौर शुरू हो गया। परिजनों का आरोप है कि पोस्टमार्टम की सहमति देने वाले 54 एनपी निवासी हीरालाल, दोदियांवाली निवासी सहीराम और मलोट निवासी प्रभुराम उनके रिश्तेदार नहीं है। आरोप है कि पुलिस अपने जांच अधिकारी के बचाव के लिए हर जगह झूठ का सहारा ले रही है।

पोस्टमार्टम के साथ ही सक्रिय हुई पुलिस

उधर बीकानेर से युवती के पोस्टमार्टम की सूचना मिलते ही धरनास्थल के आसपास पुलिस बल तैनात कर दिया गया। पुलिस बल की तैनाती के बावजूद पीडि़ता के परिजन सुरक्षा इंतजामों को धत्ता बताते हुए धरनास्थल से बस स्टैंड पहुंच गए तथा जलदाय विभाग के ओवर हैड टैंक पर चढ गए। परिजनों के ओवर हैड टैंक पर चढने की सूचना मिलते ही पुलिस के हाथ पांव फूल गए तथा थानाधिकारी अरविन्द बिश्रोई जाब्ते सहित मौके पर पहुंच गए।

चलता रहा नाटक

धरनास्थल पर परिजन गोपनीय योजना बनाते रहे वहीं दूसरी ओर पुलिस अधिकारी भी पोस्टमार्टम के बाद शव के अंतिम संस्कार की तैयारी में जुटे रहे। इसके लिए पुलिस की रणनीति के तहत करीब शाम चार बजे धरनास्थल के आसपास महिला और पुरुष पुलिस कर्मियों को तैनात कर दिया गया, लेकिन परिजन पुलिस को गच्चा देने में कामयाब हो गए। माकपा नेता श्योपत मेघवाल और रायसिंहनगर संघर्ष समिति के अध्यक्ष राजेश सिकरवाल भी धरनास्थल पर मौजूद थे।

आज होगा पुलिस का घेराव

माकपा नेता श्योपत मेघवाल ने बताया कि जिलेभर में पुलिस उप अधीक्षक कार्यालय और पुलिस थानों के घेराव की तैयारियां कर ली गई है। पूर्व में दलित युवती के साथ दुव्र्यवहार के मामले में घेराव की योजना थी लेकिन अब ततारसर प्रकरण में गिरफ्तारी की मांग को प्राथमिकता में रखा गया है। उन्होने बताया कि सोमवार को ही धरनास्थल पर जनसभा भी होगी।

दैनिक जागरण

दलित पिछड़ा वर्ग के जिला उपप्रधान ने लगाया मारपीट व लूट का आरोप

http://www.jagran.com/haryana/sirsa-12849021.html

सिरसा :गाव रघुआना के नजदीक दलित पिछड़ा वर्ग के जिला उपप्रधान गुरजंट सिंह के साथ मारपीट और छीनाझपटी का मामला सामने आया है। संघ ने इस मामले में सोमवार को एसपी से मिलकर शिकायत देने का उल्लेख किया है।

जानकारी अनुसार घुकावाली निवासी गुरजंट सिंह देशी दवाईयों को बेचने का काम करता है। शनिवार को वह दवाईया बेचकर साइकिल से देर रात घर आ रहा था। रघुआना गाव से चार किलोमीटर दूर कुछ लोगों ने उसे मोटरसाइकि से उसे घेर लिया। आरोप है कुछ युवकों ने उसके साथ मारपीट शुरू कर दी और उनका बैग, सोने की चेन, हाथ की घड़ी व 3500 रुपये की नकदी से भरे पर्स को छीन लिया। आरोप है कि उन्होंने साइकिल भी छीन ली। किसी तरह उसने भागकर पास की ढाणी में अपनी जान बचाई।

दैनिक जागरण

श्मशान तक पीछा नहीं छोड़तीं समस्याएं

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/firozabad-12846170.html

फीरोजाबाद : शहर का मुहल्ला रविदास नगर। निगम की लापरवाही का दर्द यहां की जनता को हर पग पर झेलना पड़ रहा है। नगर निगम में होने के बाद भी क्षेत्र के हालात बदतर हैं। सड़कों पर गड्ढे ठोकरें दे रहे हैं तो रही बची कसर बिजली विभाग पूरी कर रहा है। बिजली के पोल यहां नजर नहीं आते। जनता खुद ही दूर से तार खींच कर लाती है जो आए दिन टूट कर हादसो का भी सबब बनते हैं। हाल यह है निगम की ओर से पाइप लाइन के लिए सड़क खोद कर डाल दी है, इसके बाद इसकी सुध नहीं ली।

रविदास नगर सैलई में अधिकांशत: दलित आबादी रहती है। ऐसा नहीं है नगर निगम ने यहां पर विकास कार्य नहीं कराए, लेकिन इन विकास कार्यों को नगर निगम ने अधूरा छोड़ दिया। कुछ गलियां पक्की बन गई हैं, लेकिन इन पक्की गलियों के ऊंची हो जाने से यहां पर कच्ची गलियां काफी नीची हो गई हैं। इससे बरसात के बाद यहां पर कई-कई दिन तक पानी भरा रहता है। नाली निर्माण भी अनदेखी का नतीजा है। घरों से निकलने वाला गंदा पानी घरों के आसपास भर रहा है जो क्षेत्रीयजनों का राह गुजरना दूभर कर रहा है। बीमारियों का भी सबब बन सकता है। जलभराव की समस्या एक-दो गलियों में नहीं बल्कि लगभग पूरे क्षेत्र से होते हुए श्मशान तक जाती है।

06_09_2015-06fzb03

मरघट के आसपास भी ऊंची-ऊंची गलियां पक्की करने के बाद यूं ही छोड़ दी गई हैं। इससे यह स्थान अब गड्ढेनुमा हो गया है। हल्की सी बरसात में ही यहां जलभराव हो जाता है। क्षेत्रीयजनों का कहना है कि शव यात्रा में आने वाले लोगों को शमशान तक पहुंचने में काफी दिक्कत होती है।

मुहल्ले में पेयजल की भी कोई व्यवस्था नहीं है। विद्युत विभाग ने कनेक्शन बांटने के साथ घरों में मीटर तो लगा दिए, लेकिन क्षेत्र में विद्युतीकरण नहीं किया है। गलियों में पोल नहीं होने से कई लोगों को कनेक्शन तक नहीं मिल सके हैं। क्षेत्रीयजन आधा से एक किमी दूर से तार खींचकर बिजली जला रहे हैं। तारों के आए दिन टूटने से समस्याएं खड़ी होती हैं।

जनता का दर्द

‘लंबे वक्त से गली का निर्माण नहीं हुआ। बरसात में जलभराव हो जाता है, जिससे हम घर से बाहर भी नहीं निकल पाते। बच्चों की पढ़ाई भी प्रभावित होती है। कई परिवारों को अपना मकान छोड़कर जाना पड़ता है।’

सावित्री देवी फोटो संख्या 5

‘दो महीने से पानी का संकट है। रक्षाबंधन के दिन भी पूरा मुहल्ला बूंद-बूंद पानी को तरसता रहा। बाद में पानी के दो टैंकर मंगाए गए। रोज तो टैंकर मंगा नहीं सकते। ट्यूबवेल पर जाते हैं तो वहां कोई मिलता नहीं है।’

मीरा देवी फोटो संख्या 6

‘पूरे क्षेत्र में पेजयल की समस्या है। बिजली के खंभे कहीं लगे नहीं है। कई बार संबंधित अधिकारियों से कहा भी, लेकिन अभी तक सुनवाई नहीं हुई। पाइप लाइन ठीक करने के नाम पर कई दिन से गली खुदी पड़ी है।’

मुकेश बाबू फोटो संख्या 7

‘सड़क और नाली का ढलान मरघट की तरफ करने से स्थिति काफी खराब हो गई है। शवयात्रा में आने वाले लोग परेशान होते हैं। मरघट में एक हैंडपंप तक नहीं है। मुहल्ले में सफाई के लिए कोई इंतजाम नहीं है।’

रामसनेही फोटो संख्या 8

इनकी भी सुनो–

‘गलियों का निर्माण कराने के लिए कई बार नगर निगम को लिखकर दिया है, लेकिन आज तक नगर निगम ने इस क्षेत्र के विकास के लिए टेंडर पास नहीं किया। मरघटी में भी समस्या हैं। बाउंड्री तक नहीं है। जलभराव और पेयजल की भी दिक्कत है। पानी की समस्या दूर करने के प्रयास हो रहे हैं।’

-संजय देवी, निवर्तमान सभासद

निगम की बात-

‘जो गलियां नहीं बनी हैं, उनका सर्वे कराया जा रहा है। पानी की समस्या दूर करने के लिए काम चल रहा है। मरघट में यदि कोई समस्या है तो हम खुद जाकर वहां का जायजा लेंगे।’

-रामऔतार रमन, नगर आयुक्त

दैनिक जागरण

सामाजिक जागरूकता के लिए युवाओं को मुहिम में किया जाएगा शामिल : ढिलोड़

http://www.jagran.com/haryana/jind-12846257.html

नरवाना : हरियाणा वाल्मीकि महासभा की केंद्रीय कार्यकारिणी की बैठक मुख्य संगठन सचिव सत्यवान ढिलोड़ की अध्यक्षता में रविवार को निजी होटल में हुई। बैठक में सर्वसम्मति से यह प्रस्ताव पास किया गया कि सभा से जुड़े जो सदस्य विभिन्न राजनीतिक दलों की राजनीति कर रहे हैं तथा जो निष्क्रिय हैं, उन्हें केंद्रीय कार्यकारिणी से बाहर किया जाए।

इसके अलावा बैठक में महासभा को नए सिरे से सुसंगठित करने व भावी रणनीति बनाने पर भी विचार किया गया। इस बैठक में वाल्मीकि समाज में शिक्षा के गिरते स्तर पर गहरी ¨चता व्यक्त की गई। उन्होंने कहा कि संगठन में सामाजिक जागरूकता पैदा करने के लिए अधिक से अधिक युवाओं को इस मुहिम में शामिल करने की जरूरत है। मुख्य संगठन सचिव ने हरियाणा सरकार से शिक्षण संस्थानों में बाल्मीकि समाज के युवाओं को दाखिले में विशेष आरक्षण की मांग की। उन्होंने कहा कि दलितों के आरक्षण को समाप्त करने के लिए कुछ लोग बड़े ही सुनियोजित तरीके से समाज में माहौल खराब करने का काम कर रहे हैं। मगर वाल्मीकि समाज संगठित होकर उनकी इस मंशा को कभी पूरी नहीं होने देगा।

महासभा के कार्यकारी अध्यक्ष राकेश बहादुर ने कहा कि हरियाणा वाल्मीकि महासभा जाति आधारित आरक्षण का समर्थन करती है। उन्होंने कहा दलित समाज के साथ सदियों से छुआछूत व असमानता का भेदभाव होता आया है। जो आज भी जारी है। समाज में आरक्षण का विरोध सामंती मानसिकता के लोग ही कर रहे हैं, जिन्होंने हमेशा ही दलित समाज के साथ भेदभाव किया है। राकेश बहादुर ने आरक्षण का विरोध करने वालों को चेताते हुए कहा कि जो लोग आरक्षण का विरोध कर रहे हैं, सबसे पहले उन्हें दलितों के प्रति अपनी मानसिकता बदलनी होगी। उन्होंने कहा कि जब भी देश में जातीय भेदभाव और असमानता समाप्त हो जाएगी, उसी समय वाल्मीकि समाज के लोग स्वयं ही आरक्षण लेना छोड़ देंगे महासभा के उपाध्यक्ष सुरेश कलौदा ने हरियाणा सरकार से मांग करते हुए कहा कि वाल्मीकि समाज के लोगों को बीपीएल में शामिल किया जाए। इसके अतिरिक्त हुसन लाल यमुनानगर, डॉ. बलजीत, दलीप कंडारा, विशाल, रलदू राम, मदन सैंथली, दिलबाग लौन, दीपक कुमार, अश्वनी सौदा ने भी अपने विचार रखे।

अमर उजाला

चाटकी में बीमारी बनी महामारी

http://www.amarujala.com/news/city/saharanpur/saharanpur-hindi-news/the-disease-remains-epidemic-chatki-hindi-news/

चाटकी गांव की दलित बस्ती में उल्टी-दस्त और बुखार का कहर जारी है। शनिवार की शाम और रविवार की सुबह 27 और मरीजों को सीएचसी बेहट लाया गया। इनमें से 9 को गंभीर हालत के चलते हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। महामारी पर अभी तक नियंत्रण नहीं किया जा सका। हालांकि स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि धीरे-धीरे मरीजों को रिलीफ मिल रहा है। एक दो दिन में स्थिति नियंत्रण में आ जाएगी।

गौरतलब है कि शुक्रवार की रात चाटकी गांव की दलित बस्ती में उल्टी-दस्त और बुखार का कहर बरपा था। एक साथ बस्ती के सभी 50 परिवार उल्टी-दस्त और बुखार से पीड़ित हो गए थे। करीब 200 लोग उल्टी-दस्त और बुखार से पीड़ित होने पर स्वास्थ्य विभाग से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों में हड़कंप मच गया था। शनिवार की शाम करीब साढे़ छह बजे 108 एंबुलेंस आठ और पीड़ितों को हालत अधिक बिगड़ने पर सीएचसी लेकर आई।

इसके बाद रविवार की सुबह पांच बजे फिर से 108 पर सूचना दी गई कि चाटकी गांव की दलित बस्ती में और लोगों की हालत बिगड़ गई है। इस पर एंबुलेंस को चाटकी गांव की दलित बस्ती के लिए दौड़ाया गया। एंबुलेंस 19 मरीजों को लेकर सीएचसी पहुंची। आनन-फानन में उनका उपचार शुरू किया गया।

इन मरीजों में 9 मरीजों को गंभीर होने पर हायर सेंटर रेफर करना पड़ा। सीएचसी के डॉक्टरों ने बताया कि उपचार के बाद मरीजों को रिलीफ मिल रहा है, जो ठीक हो रहे उन्हें डिस्चार्ज किया जा रहा है और जो गंभीर हैं, उन्हें हायर सेंटर रेफर किया जा रहा है।

शनिवार और रविवार को सीएचसी में भर्ती कराए गए मरीज

बेहट। शनिवार की शाम करीब साढे़ छह बजे 108 एंबुलेंस द्वारा सरोज, माया, शांति देवी, प्रियंका, विशु, शिवानी, देवेंद्र, राज्जो देवी और रविवार की सुबह लीलावती, उपासना, रेशमा, अमृता, अंशुल, सोनिया, बिरमो, संजीव, आकाश, नर सिंह, केला देवी, कुमार, सिद्धार्थ, कल्पना, रेशमा, हिमांशी, अंकित, योगेश आदि हालत बिगड़ने पर सीएचसी में भर्ती कराए गए। इनमें से संजीव, सोनिया, नरसिंह, केला देवी, कुमा, अंकुश, उपसाना, रेमशा और लीलावती को प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर हालत के चलते हायर सेंटर रेफर किया गया।

पंजाब केसरी

बी.टी.एफ ने किया फूंक प्रदर्शन

http://www.punjabkesari.in/news/article-392675

 होशियारपुर: बेगमपुरा टाइगर फोर्स (बी.टी.एफ.) ने आज यहां संगठन के चेयरमैन तरसेम दीवाना, उप-चेयरमैन बिल्ला दियोवाल, राष्ट्रीय प्रधान अशोक सल्लन व महासचिव अवतार बसी ख्वाजू के नेतृत्व में पंजाब सरकार के खिलाफ अर्थी फूंक प्रदर्शन किया। इस मौके संगठन के कार्यकत्र्ताओं ने बादल सरकार की दलित विरोधी नीतियों के खिलाफ जमकर नारेबारी की।

चेयरमैन तरसेम दीवाना ने इस मौके कहा कि बादल सरकार के राज में दलितों के आए दिन कत्लेआम व धक्केशाही हो रही है। सरकार दलितों की खुशहाली के झूठे दावे कर रही है। उन्होंने रोषपूर्वक कहा कि पिछले दिनों जगराओं क्षेत्र में सवर्ण जाति के लोगों ने एक दलित युवक को पीट-पीट कर गला घोंट कर उसकी हत्या कर डाली। हत्यारे 5 दिन तक सरेआम दनदनाते रहे। 

बाद में पुलिस ने इसे आत्महत्या का मामला बना डाला। इसी क्षेत्र में एक अन्य दलित युवक को मौत के घाट उतार दिया गया। पुलिस प्रशासन द्वारा अभी तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया।

वक्ताओं ने कहा कि दलितों पर हो रहे अत्याचार अब और बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर दलितों को आरक्षण के दिए गए अधिकारों के साथ छेडख़ानी की गई तो पूरे देश में दलित समाज संघर्ष शुरू करेगा। इस मौके प्रदेश प्रधान ताराचंद, सोमदेव संधी, नरेन्द्र नेहरू, प्रिंस सन्नी, कर्ण, देवराज, अजय हीर, सर्वजीत बद्दन व हरप्रीत हैप्पी भी मौजूद थे।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s