दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 26.08.15

लखनऊ में युवती को बंधक बनाकर किया बलात्कार – समय लाइव

http://www.samaylive.com/regional-news-in-hindi/uttar-pradesh-news-in-hindi/324955/girl-rape-after-hostage-in-lucknow.html

हेड मास्टर ने की नाबालिक छात्राओं के साथ अश्लील हरकत – पंजाब केसरी

http://www.punjabkesari.in/news/article-389423

छात्राओं से छेड़छाड़ का एक आरोपी काबू, बाकी गिरफ्त से बाहर – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/yamuna-nagar/yamuna-nagar-crime-news/crime-news-ymn-hindi-news-2/

मनरेगा ​के तहत ग्रामीणों को दी गई मात्र 3 रूपए मजदूरी – फर्स्ट इंडिया न्यूज़

http://www.firstindianews.com/barmer/laborers-under-mnrega-scheme-given-wages-rs-3-25081.html

पिछड़ा, दलित अल्पसंख्यक समाज का लौटेगा सम्मान अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/hardoi/hardoi-hindi-news/backward-dalit-minority-community-honors-return-hindi-news/

छात्र के समर्थन में उतरे दलित संगठन – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/saharanpur-12786996.html

Please Watch:

Untouchable Country –

The Black “Dalits” of India

https://www.youtube.com/watch?v=BZ_doYiDOTc

Save Dalit Foundation:

Educate, agitate & organize! – Dr. Ambedkar.

Let us all educates to agitate & Organize to Save Dalit Foundation !

Please sign petition by click this link : https://t.co/WXxFdysoJK

समय लाइव

लखनऊ में युवती को बंधक बनाकर किया बलात्कार

http://www.samaylive.com/regional-news-in-hindi/uttar-pradesh-news-in-hindi/324955/girl-rape-after-hostage-in-lucknow.html

 लखनऊ के माल थाना क्षेत्र में शौच के लिए गयी दलित किशोरी को गांव के युवक ने बंधक बनाने के बाद उसके मुंह में कपड़ा ठूंसकर फिर बलात्कार किया.

हैवानियत के बाद आरोपित ने शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी दी और भाग निकला. पीड़िता के घर पहुंचने के बाद उसकी हालत देख परिजनों ने पूछा तो उसने सारी आपबीती बतायी.

जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची. परिजनों का आरोप कि पुलिस कार्रवाई के बजाय मामले को दबाने में जुट गयी. एसओ का कहना है कि तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज की जा रही है.

माल के एक गांव में रहने वाले दलित परिवार की पन्द्रह वर्षीय बेटी रविवार देर शाम करीब साढ़े सात बजे शौच के लिए गयी थी. खेत के पास गांव में रहने वाले युवक ने उसे रोक लिया. किशोरी ने जाने की बात कही तो उसने हाथ पकड़ लिया. यह देख किशोरी ने शोर मचाने की कोशिश की तो युवक ने उसका मुंह दबाकर खेत में खींच लिया.

पीड़िता का कहना है कि विरोध करने पर युवक ने उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया. दरिंदगी का शिकार पीड़िता को युवक ने जान से मारने की धमकी दी और भाग निकला. करीब दो घंटे बाद पीड़िता बदहवास हालत में घर पहुंची. उसकी हालत देख परिजनों ने पूछा तो उसने आपबीती बतायी. यह सुनकर परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गयी. परिजनों ने घटना की सूचना कंट्रोल रूम पर दी.

जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची. पीड़िता के परिजनों का आरोप है कि हैवान का नाम सुनते ही पुलिस उन्हें भला बुरा कहने लगी. रात भर पुलिस मामले को दबाने व मैनेज करने में जुटी रही. सोमवार सुबह परिजन थाने पहुंचे, जहां पिता ने तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की.

परिजनों का कहना है कि पुलिस ने जांच की बात कहकर उन्हें वापस भेज दिया. एसओ विनय कुमार सिंह का कहना है कि पीड़िता के पिता की तहरीर पर दुष्कर्म, पास्को, एससी-एसटी एक्ट समेत गंभीर धाराओं में नामजद रिपोर्ट दर्ज कर ली गयी है. उनका कहना है कि आरोपित भी किशोर है, उसकी उम्र 17 वर्ष है. मामले की पड़ताल की जा रही है.

पंजाब केसरी

हेड मास्टर ने की नाबालिक छात्राओं के साथ अश्लील हरकत

http://www.punjabkesari.in/news/article-389423

हांसी, (विमल) : गांव रामायण के राजकीय माध्यमिक विद्यालय में कक्षा 6 से 8 तक की नाबालिग छात्राओं से स्कूल के मुख्याध्यापक द्वारा अश्लील हरकत करने का मामला प्रकाश में आया है। 

2015_8image_21_35_370672528hh1-ll

यह मामला पिछले कई दिनों से चल रहा था, परंतु छात्राओं ने इसका भंडाफोड़ शुक्रवार को किया। मुख्याध्यापक ने एक नाबालिग छात्रा से छेड़छाड़ की। इस घटना की जानकारी उसने अपने परिजनों को दी इससे रोषित परिजनाें ने गांव में पंचायत का आयोजन किया जिसमें जांच अधिकारी जयबीरसिंह व बीईओ सुभाष वर्मा ने पंचायत में शामिल हो कर उक्त मुख्याध्यापक पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। सदर पुलिस ने इस मामले में रामायण निवासी राकेश के ब्यान पर हेड मास्टर गिरीराज पर आईपीएस 354 व पॉसको के तहत मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है।

गौरतलब है कि छात्राओं ने उक्त मुख्याध्यापक की करतूतों की पोल शनिवार को पंचायत के सामने खोल दी। उन्होंने बताया कि किस प्रकार मुख्याध्यापक अपने कमरे में एक-एक छात्रा को बुलाता है तथा उनके साथ अश्लील हरकतें करता है। एक छात्रा ने बताया कि वह हमसे पीने के लिए पानी मंगाता है और इस बहाने उनके हाथ को पकड़ता है। रोषित ग्रामीणों ने सोमवार को स्कूल पर ताला जड़ दिया। ग्रामीण, महिलाएं व स्कूल की छात्राएं प्रदर्शन करती हुई सदर थाना में पंहुची और वहां पर जम कर नारेबाजी की। 

इस अवसर पर गांव के सरपंच जगमेंद्र ने बताया कि मुख्याध्यापक ने जिन छात्राओं के साथ अश्लील हरकतें कीं हैं वे सभी दलित समुदाय से संबंध रखती हैं। प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं ने बताया कि सरकार लड़कियों को पढ़ाई करवाने की बात करती है, मगर उनके स्कूल में महिला स्टाफ क्यों नहीं लगाती है। ग्रामीणों ने मांग की कि जब तक उक्त मुख्याध्यापक गिरीराज काे निलम्बित नहीं किया जाता और स्कूल में महिला स्टाफ नहीं लगाया जाता हम इसका ताला नहीं खोलेंगे।

ह्यूमन राइट लॉ नेटवर्क के प्रदेश संयोजक रजत कल्सन ने बताया कि यह घटना दुखदायी है। नाबालिग लड़कियों से छेड़छाड़ का मामला बहुत गंभीर है। पुलिस को इस मामले में तुरंत एफआरआई दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार करना चाहिए। 

सदर थाना प्रभारी जगवीर सिंह ने बताया कि उक्त मुख्याध्यापक के खिलाफ उक्त गांव निवासी राकेश की शिकायत पर मामला दर्ज किया है। पुलिस इस मामले की गंभीरता से जांच कर रही है। 

स्कूल के मुख्याध्यापक गिरीराज ने बताया कि उन पर लगाए गए सभी आरोप झूठे और बेबुनियाद हैं। स्कूल के एक अन्य अध्यापक का तबादला हो गया था जिसे मैंने रिलीव कर दिया इस कारण लोग मुझ पर दबाव बनाने की कौशिश कर रहे थे कि उक्त अध्यापक को रिलीव नहीं करें।

अमर उजाला

छात्राओं से छेड़छाड़ का एक आरोपी काबू, बाकी गिरफ्त से बाहर

http://www.amarujala.com/news/city/yamuna-nagar/yamuna-nagar-crime-news/crime-news-ymn-hindi-news-2/

सदर थाना क्षेत्र के गांव मंडौली के निजी स्कूल में दलित छात्राओं से छेड़छाड़ करने और विरोध करने छात्राओं और उनके भाइयों के साथ मारपीट करने के मामले में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया है। बाकी आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं। पकड़े गए आरोपी को पुलिस ने कोर्ट में पेश कर अंबाला जुवेनाइल जेल भेज दिया गया।

छात्राओं से छेड़छाड़ के मामले में थाना सदर पुलिस ने आरोपियों की सोमवार शाम से तलाश शुरू कर दी थी। एक नाबालिग लड़का पुलिस के हाथ लगा। 

शेष आधा दर्जन युवकों की तलाश में पुलिस देर रात और मंगलवार को पूरा दिन दबिश देती रही। पुलिस ने जिन सात आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया है उनमें से छह माइनर हैं। थाना सदर एसएचओ राजेंद्र सिंह का कहना है कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। 

यह था मामला 

मंडौली के निजी स्कूल में क्षेत्र के एक गांव की तीन लड़कियां नौंवी व दसवीं कक्षा में पढ़ती हैं। सोमवार को कुछ लड़के स्कूल में घुस आए और इन छात्राओं के साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी। लड़कियों ने यह बात स्कूल में पढ़ रहे अपने भाइयों को बताई। आरोपियों ने छात्राओं और उनके भाइयों को पीटा। यह भी आरोप है कि आरोपियों ने छात्राओं के कपड़े भी फाड़ दिए। इसके बाद थाने में परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी करने की मांग को लेकर हंगामा किया था।

फर्स्ट इंडिया न्यूज़

मनरेगा ​के तहत ग्रामीणों को दी गई मात्र 3 रूपए मजदूरी

http://www.firstindianews.com/barmer/laborers-under-mnrega-scheme-given-wages-rs-3-25081.html

 बाड़मेर। आमतौर पर गांवो मे बसने वाले कमजोर और दलित तबके के लोगो के शोषण के मामले मे पढने सुनने मे आते रहते है। लेकिन सरकारी अमले द्वारा सरकारी योजनाओं के लाभ मे दलितों के शोषण का मामला कभी कभार ही सुनने को मिलता है। ऐसा ही चौंकाने वाला मामला भारत पाक सीमा से सटे बाड़मेर के जैसिन्धर गांव का सामने आया है। जहां के ग्रामीणों को मनरेगा के तहत प्रतिदिन महज 3 रुपए की मजदूरी दी गई है। ताजुब यह है की ऐसा एक व्यक्ति के साथ नही बल्कि करीब सैंकड़ों मजदूरों के साथ हुआ है। वह भी ऐसे समय मे जब हाल ही मे सरकार ने नरेगा मे न्यूनतम मजदूरी की दर बढ़ाकर 173 रुपए कर दी है।

बाड़मेर जिले के आखिरी छोर पाकिस्तान से लगते गांव जैसिन्धर गांव निवासी लूणी देवी और उनकी साथी अन्य महिलाएं जिन्होंने नरेगा में करीब दो सप्ताह मजदूरी की लेकिन उसका परिणाम यह रहा की दो सप्ताह की मजदूरी मात्र 21 रुपए ही मिली है। लूणी देवी के साथ अन्य महिलाओं ने बताया की आखिर प्रशासनिक अधिकारियों ने प्रतिदिन की तीन रूपये मजदूरी देकर हमे शर्मिदा किया है।

दरअसल जैसिन्धर मुनाबाव ग्रेवल सड़क निर्माण कार्य मनरेगा के तहत किया जा रहा है। उक्त कार्य के लिए 11 मई से 25 मई तक कुल 10 मस्ट्ररोल जारी किए गये जिसमे प्रत्येक करीब 9-10 मजदूरों ने कार्य किया। जब मजदूरी का समय आया तो कनिष्ठ अभियंता द्वारा ग्रामीणो को प्रति मजदूर को प्रतिदिन की मजदूरी 3 रुपए से भी कम बनने का नाप बताया। हालांकि इस मामले मे पीड़ित मजदूरों ने उच्च स्तर पर शिकायत भी की लेकिन कोई सुनवाई नही हुई।

 इतनी मज़दूरी में तो एक आदमी का पेट पालना भी मुश्किल

पीड़ित महिला मजदूरों से बात करने के बाद मनरेगा मे लगे मेट ईश्वर राम से बात की तो उन्होने कहा की करीब सौ से अधिक लोगो ने ग्रेवल सड़क कार्य के दौरान मजदूरी की थी और मैने बकायदा कनिष्ठ अभियंता को मजदूरों की उपस्थित के बारे मे अवगत करवाया लेकिन कनिष्ठ अभियंता ने द्वेष भावना से काम करते हुए एक मजदूर को प्रतिदिन की 3 रूपये ही मजदूरी दी है जो की कई श्रमिकों ने लेने से इनकार कर दिया है।

इस मामले को लेकर जब प्रशासनिक अधिकारियों से बात करनी चाही तो कुछ ने अनभिज्ञता जाहिर की तो कुछ अधिकारियों ने कन्नी ही काटनी उचित समझी। गौरतलब है की मनरेगा योजना के तहत न्यूनतम मजदूरी को लेकर सरकार ने नियम निर्धारित कर रखा है जिसमे न्युनतम मजदूरी प्रति व्यक्ति 173 रूपये प्रतिदिन के हिसाब से मजदूर को देने है। साथ ही कही पर इससे कम दर आने पर संबधित मनरेगा अधिकारियो और कर्मचारियो को चाहिए की वह इसको लेकर ग्रामीणो से बातचीत कर उन्हे जागरूक करते रहे। लेकिन इस मामले मे ऐसा नही हुआ और बिना प्रोत्साहित किए सिर्फ प्रति व्यक्ति तीन रूपये के हिसाब से मजदूरी देकर अपने कार्य की इतिश्री कर ली।

अमर उजाला

पिछड़ा, दलित अल्पसंख्यक समाज का लौटेगा सम्मान

http://www.amarujala.com/news/city/hardoi/hardoi-hindi-news/backward-dalit-minority-community-honors-return-hindi-news/

पिछड़ा दलित अल्पसंख्यक जागरण मंच के प्रथम सम्मेलन को सफल बनाने के लिए पाली नगर पंचायत के चेयरमैन रिजवान खां ने मंगलवार को अपने आवास पर पिछड़ा दलित अल्पसंख्यक समाज के लोगों के साथ बैठक की।

उधर, राज्य एससी, एसटी आयोग के सदस्य पीके वर्मा ने अहिरोरी, सुरसा विकास खंड में बैठक कर कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारियां सौंपी। 26 अगस्त को हरदोई के गांधी भवन में होने वाले सम्मेलन में नगर व क्षेत्र से सैकड़ों लोग चेयरमैन की अगुवाई में शिरकत करेंगे।

बैठक को संबोधित करते हुए चेयरमैन रिजवान खां ने कहा कि आजादी के बाद से ही पिछड़ा दलित अल्पसंख्यक समाज के साथ भेदभाव शुरू हो गया था। उन्होंने कहा कि समाज में समानता के अधिकार की बात संविधान भी कहता है, पर जब बात बराबरी का हक देने की आई तो ऐसे मौके पर संविधान को दर किनार कर दिया गया।

उन्होंने कहा कि पिछड़ा, दलित व अल्पसंख्यक समाज के साथ देश की सरकारों ने कपट किया है। उन्हें वह तमाम लाभ और सुविधाओं से वंचित रखा गया, जिसके वह हकदार है। इस मौके पर गुलाम साबिर, मलिक माशूक, मुईज महबूब, इकरार, डा. हुसैन अहमद, साबिर खां, छप्पा खां, यारअली खां, हबीब खां, तालिब खां आदि मौजूद थे।

दैनिक जागरण

छात्र के समर्थन में उतरे दलित संगठन

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/saharanpur-12786996.html

सहारनपुर : भारतीय इंटर कालेज तल्हेडी बुजुर्ग के निष्कासित छात्र के समर्थन में कई दलित संगठन सामने आए हैं। इन्होंने प्रर्दशन कर डीएम को ज्ञापन दिया और निष्कासन रद्द करने की मांग की। साथ ही इन संगठनों ने चार दिन पहले दुर्घटना में मारे गए चार लोगों को मुआवजा दिलाए जाने की मांग की है।

चौधरी चरण ¨सह विश्वविद्यालय छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष संजीव दुर्जन के नेतृत्व में दलित छात्रों के प्रतिनिधिमंडल ने डीएम से छात्र सुमित लांबा के निष्कासन को वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि छात्र ने बाबा साहब के जीवन पर गीत गाया था। कालेज प्रशासन ने मामले में न केवल छात्र को अपमानित किया गया, बल्कि उसे कालेज से निष्कासित भी कर दिया गया। उन्होंने छात्र का निष्कासन रद करने की मांग की। साथ ही दु‌र्घ्रटना में मरे चार दलितों को मुआवजा दिए जाने की मांग की। बुद्ध शिक्षा संस्थान ने भी मामले में महामहिम राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन डीएम को दिया। बामसेफ के जिलाध्यक्ष शमशेर ¨सह गौतम ने भी छात्र के निष्कासन की कडी ¨नदा की है।

अंकित कुमार, रोहित लांबा, इंद्रपाल ¨सह, गो¨वद गौतम, रजनीश, पूजा, अंजू, सविता, राहुल, राजन, सावन कुमार, बुद्ध शिक्षा संस्थान के ज्ञान आजाद, अशोक भारती, रघुवीर ¨सह बौद्ध, महेंद्र पाल ¨सह, शेर¨सह, मेन कुमार, अजीत ¨सह, जनेश्वर प्रसाद व ओमप्रकाश आदि रहे।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s