दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 17.08.15

स्कूल से लौट रही 8वीं की छात्रा को अगवा कर गैंगरेप – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/feature/crime-bureau/general-crime/gangrape-with-8th-class-student-hindi-news-sy/

महिला असुरक्षा – जनसत्ता

http://www.jansatta.com/editorial/womens-insecurity/36247/

प्रतिमा क्षतिग्रस्त, ग्रामीणों ने लगाया जाम – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/mau-12746584.html

शैक्षिक योग्यता हटाने की मांग – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/haryana/mewat-12746495.html

डीएम कार्यालय पर गरजा दलित विकास मंच – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/maharajganj-12748705.html

दूरदराज इलाकों में भी शान से लहराया तिरंगा – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/bihar/buxar-distance-even-gracefully-waved-tricolor-12746268.html

अमर उजाला

स्कूल से लौट रही 8वीं की छात्रा को अगवा कर गैंगरेप

http://www.amarujala.com/feature/crime-bureau/general-crime/gangrape-with-8th-class-student-hindi-news-sy/

स्कूल में आजादी का जश्न मनाकर घर लौट रही तेरह साल की एक दलित छात्रा के साथ गैंगरेप की दुस्साहसिक वारदात सामने आई है। पंद्रह अगस्त की दोपहर आठवीं की इस छात्रा को रास्ते से गांव के ही तीन युवकों ने अगवा कर लिया और ईख के खेत में ले जाकर उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया।

छात्रा के घर नहीं लौटने पर परिजनों ने ग्रामीणों के साथ खोजबीन की तो छात्रा बेहोशी की हालत में ईख के खेत में नग्न अवस्था में पड़ी मिली। पुलिस ने तीन युवकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है, जिनमें दो सगे भाई है। घटना से पूरे इलाके में रोष है। घटना छजलैट थाना क्षेत्र के एक गांव की है।

आठवीं की एक तेरह वर्षीय दलित छात्रा स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए गांव के बाहर स्थित अपने स्कूल गई थी। दोपहर में स्कूल से घर लौटते वक्त रास्ते से उसे गांव के ही सोनू जाट पुत्र मुन्ना, उसके बड़े भाई नीशू व गांव के ही महेश पुत्र नौबत ने अगवा कर लिया।

जनसत्ता

महिला असुरक्षा

http://www.jansatta.com/editorial/womens-insecurity/36247/

किसी भी आपराधिक वारदात के बाद पुलिस से उम्मीद होती है कि वह आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित करके उसे सजा दिलाएगी। लेकिन जब खुद पुलिस महकमे में तैनात किसी महिला के सामने यौन प्रताड़ना से तंग आकर खुदकुशी की नौबत आ जाए तो अंदाजा लगाया जा सकता है कि स्त्रियों के लिए समाज से लेकर शासन तक का कौन-सा कोना सुरक्षित है!

करनाल स्थित मधुबन की हरियाणा पुलिस अकादमी में पिछले हफ्ते एक महिला कांस्टेबल ने अपने ही अफसरों से तंग आकर जान देने की कोशिश की। सवाल है कि जब पुलिस महकमा अपनी महिला कांस्टेबल तक की सुरक्षा और उसके साथ इंसाफ सुनिश्चित नहीं कर पा रहा है तो आम महिलाओं के उत्पीड़न की शिकायतों को लेकर वह कितना गंभीर होता होगा! कांस्टेबल अनीता राष्ट्रीय एथलेटिक्स मुकाबलों में हरियाणा की अगुआई कर चुकी हैं और खेलकूद में उन्होंने काफी सुर्खियां बटोरीं।

लेकिन उनकी काबिलियत को स्वीकार करने के बजाय कुछ अधिकारियों ने उन्हें प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। आरोपों के मुताबिक अफसरों ने अनुशासन का पालन नहीं करने के बहाने अनीता का चरित्रहनन किया और फोन पर गालियां तक दीं। अकादमी में प्रशिक्षण हासिल कर रही कुछ अन्य महिला खिलाड़ियों ने भी अफसरों पर तंग करने के आरोप लगाए हैं। जाहिर है, अफसरों का रवैया अनीता की सहन-सीमा से बाहर चला गया होगा, तभी उन्होंने जहरीला पदार्थ खाकर जान देने की कोशिश की। अगर वक्त रहते इलाज नहीं मिल पाता तो शायद उनका जिंदा बचना मुश्किल था। यह उन पुलिस अधिकारियों का चेहरा है जिन पर आम नागरिकों और खासतौर पर महिलाओं की सुरक्षा की जिम्मेदारी है।

अगर कोई महिला इन हालात में खुदकुशी के फैसले तक पहुंचती है, तो उसके भीतर उपजे दुख और तनाव का अंदाजा लगाया जा सकता है। जब उसे अपने सामने विरोध और संघर्ष के सारे विकल्प खत्म हो गए लगते हैं, तभी वह ऐसा कदम उठाती है। हाल ही में पंजाब में संगरूर जिले के कालबंजारा गांव में डॉक्टर बनने की ख्वाहिश लिए दसवीं कक्षा में पढ़ने वाली एक दलित बच्ची ने वहां की दबंग जाति के कुछ युवकों की छेड़छाड़ और प्रताड़ना से तंग आकर आग लगा कर खुदकुशी कर ली।

एक तरफ अभाव से जूझते हुए भी डॉक्टर बनने का सपना लेकर पढ़ाई करती एक दलित लड़की, दूसरी ओर खुद पुलिस महकमे में तैनात महिला के सामने भी जब ऐसी ही लाचारी के हालात हैं तो फिर उम्मीद की कौन-सी सूरत बचती है! अगर स्त्री और उसके सपनों की इस तरह मौत एक हकीकत है तो इसे किस आधार पर एक सभ्य और आधुनिक व्यवस्था कहा जाए! यह समाज से लेकर पुलिस महकमे तक में महिलाओं के खिलाफ गहरे पैठी संवेदनहीनता और पुरुषवादी सोच का एक जटिल मामला है। सख्त कानूनी कार्रवाई के साथ जब तक सामाजिक विकास नीतियों के स्तर पर भी ठोस पहल नहीं की जाएगी, तब तक ऐसी स्थितियों से पूरी तरह निपटना मुश्किल बना रहेगा।

दैनिक जागरण

प्रतिमा क्षतिग्रस्त, ग्रामीणों ने लगाया जाम

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/mau-12746584.html

घोसी कोतवाली क्षेत्र के अमिला के अकटहा दलित गांव में सोमवार की सुबह डाक्टर भीम राव अंबेडकर की टूटी प्रतिमा को देखकर ग्रामीण आक्रोशित हो उठे। क्षुब्ध लोगों ने अमिला-बोझी व अमिला-लाटघाट मार्गों पर सुबह आठ बजे जाम कर दिया। इससे दोनों सड़कों पर तीन घंटे तक आवागमन बाधित रहा।

17_08_2015-17mau04-c-2

राहगीरों को काफी दुश्वारियों का सामना करना पड़ा। जाम की सूचना मिलते ही मौके पर घोसी एसडीएम साहब लाल, सीओ वंशीधर मिश्रा व कोतवाल राकेश जायसवाल अपने हमराहियों के साथ मौके पर पहुंच गए। अधिकारियों ने आरोपी को गिरफ्तार कर उस पर कानूनी कार्रवाई तथा प्रतिमा की मरम्मत करने का आश्वासन दिया। तब जाकर लोगों ने जाम को समाप्त किया।

अमिला कस्बा से पश्चिम अकटहा दलित बस्ती के चौक पर लगी अंबेडकर प्रतिमा के एक हाथ की अंगुली अराजक तत्वों ने रविवार की देर रात किसी समय तोड़ दी। सोमवार की सुबह लगभग छह बजे चौराहे पर लोग चाय पीने पहुंचे तभी उनका ध्यान वहां लगी अंबेडकर प्रतिमा पर गया। प्रतिमा क्षतिग्रस्त होने की सूचना जंगल में आग की तरह पूरे गांव में फैल गई। जिसने भी खबर सुनी, आक्रोशित हो उठा।

लगभग आठ बजे सैकड़ों की संख्या में महिलाएं व पुरुष चौक पर पहुंच गए और उन्होंने अमिला-बोझी व अमिला-लाटघाट दोनों मार्गों पर चक्का जाम कर दिया तथा नारेबाजी करने लगे। सूचना पाते ही घोसी कोतवाल राकेश जायसवाल अपने हमराहियों के साथ मौके पर पहुंचे और जामकर्ताओं को समझाने का काफी प्रयास किए लेकिन आक्रोशित लोगों ने कोतवाल की कोई बात नहीं मानी और उच्चाधिकारियों को मौके पर बुलाने के जिद पर अड़े रहे।

इसके बाद मौके पर पहुंचे सीओ घोसी और एसडीएम ने जब आरोपी को जल्द गिरफ्तार करने और पिकेट पर तैनात पुलिस वालों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया तो तीन घंटे बाद आक्रोशित ग्रामीण शांत हुए और जाम को समाप्त कर दिया। जाम के समाप्त होने के बाद यात्रियों ने राहत की सांस ली।

अराजक तत्वों पर मुकदमा

घोसी : कोतवाली पुलिस ने अमिला में पश्चिमी तिराहे पर डा. अंबेडकर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त होने के मामले में सोमवार की दोपहर मुकदमा दर्ज कर लिया है। अकटहवां निवासी सुग्रीव की तहरीर पर अज्ञात अराजक तत्वों के विरुद्ध प्राथमिकी पंजीकृत होने के बाद पुलिस उनकी तलाश में है।

दैनिक जागरण

शैक्षिक योग्यता हटाने की मांग

http://www.jagran.com/haryana/mewat-12746495.html

फिरोजपुर झिरका: नगर के शमशुद्दीन पार्क में वाल्मीकि समाज की मीटिंग अखिल भारतीय वाल्मीकि समाज विकास परिषद् के ब्लाक प्रधान हरदेवा की अध्यक्षता में संपन्न हुई। इस बैठक में वाल्मीकि समाज के लोगों ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से माग की कि पंचायत चुनावों में वाल्मीकि समाज पर शिक्षा अनिवार्य न की जाए। जिससे कि इस समाज के अशिक्षित लोग चुनाव लड़ सकें।

अखिल भारतीय वाल्मीकि समाज विकास परिषद् के प्रदेश महासचिव एवं गुड़गांव मंडल प्रभारी बिजेंद्र चौहान ने कहा कि आज भी इस समाज के अधिकांश व्यक्ति अशिक्षित है। शिक्षा के अभाव में वे मजदूरी कर अपने परिवारों का पालन पोषण कर रहे है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पंचायत चुनावों में शिक्षा अनिवार्य कर एक ऐतिहासिक एवं साहसी कदम उठाया है लेकिन इससे वाल्मीकि समाज के लोग चुनाव लड़ने से वंचित रह जाएंगे।

उन्होंने प्रदेश सरकार को चेतावनी भी दी कि यदि दलित समाज पर से शिक्षा की अनिवार्यता को खत्म नहीं किया गया तो दलित समाज आदोलन करने के लिए सड़कों पर उतर आएगा जिसके लिए प्रदेश सरकार स्वयं जिम्मेदार होगी। बैठक का संचालन बनवारीलाल दोहा ने किया। इस अवसर पर नूंह ब्लाक के प्रधान रमेशचंद, सतीश कुमार, पूरणचंद, रविंद्र लाल, श्यामराज होडल, प्रेमदास, फूलचंद दोहा, चरणसिंह, राजेश प्रधान, राकेश, सतीश रनियाला सहित दलित समाज के काफी लोग मौजूद थे।

दैनिक जागरण

डीएम कार्यालय पर गरजा दलित विकास मंच

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/maharajganj-12748705.html

महराजगंज : उत्तर प्रदेश दलित विकास मंच के पदाधिकारियों व सदस्यों ने सोमवार को डीएम कार्यालय पर प्रदर्शन किया। खूब गरजे और अनुसूचित जाति जन जाति की भूमि दूसरी जातियों के खरीदने की अनुमति देने पर आक्रोश जताया। प्रदर्शन के बाद डीएम को सौंपे ज्ञापन में लिखा है कि कैबिनेट की बैठक में मुख्यमंत्री ने अनुसूचित जाति की भूमि गैर जाति के लोगों के खरीदने की जो छूट दी और निर्णय लिया वह अनुचित है। अनुसूचित जाति के हित में इसे वापस लिया जाए।

इससे इस जाति के लोग भूमिहीन हो जाएंगे। क्योंकि पहले से ही पिछड़ी व अगड़ी जाति के कुछ प्रभावशाली लोग जालसाजी कर भूमि हड़पते रहे हैं अब तो वे और आजाद हो जाएंगे और अनुसूचित जाति के लोगों की भूमि पर कब्जा कर लेंगे। सीएम का यह निर्णय अन्यायपूर्ण है।इस अवसर पर मंच के सचिव धर्मेन्द्र कुमार, राजेन्द्र कुमार, शीला, संजय गौतम, अविनाश, जय¨हद, रमेश कुमार, राहुल कुमार, अवधेश कुमार आदि उपस्थित रहे।

दैनिक जागरण

दूरदराज इलाकों में भी शान से लहराया तिरंगा

http://www.jagran.com/bihar/buxar-distance-even-gracefully-waved-tricolor-12746268.html

बक्सर। स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पहली बार प्रखंड के कई महादलित बस्तियों में अधिकारियों ने स्वयं पहुंचकर झंडा फहराया। इस दौरान हेंठुआ महादलित बस्ती में बीडीओ अजय कुमार ¨सह, बारूपुर के महादलित बस्ती में पंचायती राज पदाधिकारी लोकजीत कुमार, देवढिय़ां महादलित बस्ती में अंचलाधिकारी राकेश कुमार, तियरा महादलित बस्ती में बाल विकास परियोजना पदाधिकारी नीरू बाला, राजपुर व्यापार मंडल पर अध्यक्ष मोहन दूबे, मटकीपुर पंचायत भवन पर मुखिया हरेन्द्र ¨सह, रसेन पंचायत भवन पर मुखिया सबिता देवी, देवढिय़ां पंचायत भवन पर सुनैना देवी, हरपुर पैक्स गोदाम पर अध्यक्ष संजय दूबे, नागपुर पैक्स गोदाम पर अंगद ¨सह, उतमपुर पैक्स गोदाम पर राजेश्वर ¨सह, खीरी पंचायत भवन पर मुखिया अंजनी देवी, सिकठी पंचायत भवन पर मुखिया नीतू ¨सह, रघुवंशी कुंवरी उच्च विद्यालय तियरा पर प्रधानाध्यापक राजनारायण ¨सह, दक्ष इंटरनेशनल स्कूल राजपुर में अखिलेश तिवारी, खीरी मध्य विद्यालय पर मो. रशीद ने झंडा फहराया7 झण्डोतोलन के बाद महादलित बस्ती में अधिकारियों ने सरकार के विभिन्न योजनाओं की विस्तारपूर्वक जानाकरी दी। दलित बस्ती में अधिकारियों द्वारा झंडा फहराये जाने पर लोगों में काफी खुशी देखी गई।

डुमरांव : स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अनुमंडल के पुराना भोजपुर बाजार में स्थित एक को¨चग संस्?थान में सम्?मान समारोह सह सांस्?कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान को¨चग के छात्र-छात्राओं द्वारा कई आकर्षक झाकियॉ एवं गीत संगीत की शानदार प्रस्?तुति आकर्षण का केन्?द्र विन्?दू रहा। कार्यक्रम का संचालन रवि राय ने किया एवं तमाम गणमान्?य लोगों का अभिनंदन संस्थान के निदेशक एसके राय ने किया। इस मौके पर नप के चेयरमैन मोहन मिश्रा, शिवबचन राम पूर्व मुखिया, चुनमुन प्रसाद वर्मा उप चेयरमैन, जिप अरविन्?द प्रताप शाही एवं नीरज श्रीवास्?तव सहित कई गणमान्?य लोगों ने कार्यक्रम में सफल छात्र एवं छात्राओं को पुरस्?कृत व सम्?मानित किया।

लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक कालेज परिसर में 69वें स्वतंत्रता दिवस पर महाविद्यालय के सचिव नरेन्द्र प्रसाद राय ने तिरंगा फहराया। इस मौके पर प्रभारी प्राचार्य रासिबहारी राम सहित कालेजकर्मी मौजूद थे। वहीं, दूसरी तरफ जिला कांग्रेस कमिटी के तत्वावधान में जिलाध्यक्ष तथागत हर्षव‌र्द्धन द्वारा स्थानीय श्रीचंद्र मंदिर पर स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर झंडातोलन किया गया। तत्पश्चात, शहीद भगत ¨सह की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित किया गया।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s