दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 25.07.15

सपा पार्षद ने एसओ के सामने दलित को पीटा – नवभारत टाइम्स

http://navbharattimes.indiatimes.com/metro/lucknow/other-news/sp-councilor-dalit-beaten-in-front-of-the-so/articleshow/48208840.cms

उत्तर प्रदेश में व्यापारी की गोली मारकर हत्या भाषा

http://www.bhasha.ptinews.com/news/1281501_bhasha

मंदबुद्धि दलित किशोरी से दुष्कर्म – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/news/state-12645063.html

नाबालिग को बंधक बनाकर ज्यादती करने वाला गिरफ्तार नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/morena-news-431216

गैंग रेप के आरोपी विष्णु ने किया कोर्ट में सरेंडर दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/MP-MUR-MAT-latest-morena-news-043524-2323573-NOR.html

खौफ के साये में दुष्कर्म पीड़िता का परिवार – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/mainpuri-12643400.html

कोर्ट के आदेश पर दलित उत्पीड़न की रिपोर्ट दर्ज अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/pilibhit/pilibhit-crime-news/court-dalit-reported-harassment-hindi-news/

साजिशन तैयार किया गया रैपिड सर्वे – दैनिक जागरण 

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/sidharth-nagar-12644812.html

डांगावास हत्याकांड : जो मारे गए वही सन्देह के घेरे में – हस्तक्षेप

http://www.hastakshep.com/hindi-news/khoj-khabar/2015/07/24/

विशेष समिति ने की शिकायतों की जांच – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/jharkhand/giridih-12643771.html

चर्च को जाते रास्ते को लेकर विवाद – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/punjab/tarantaran-12646257.html

गंगा कटान से सहमे छेछुआ, भुर्रा के लोग – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/bhadohi/ganga-cecua-struck-by-intersection-bhurra-people-hindi-news/

न पीछा किया न प्यार किया, फिर भी मिला मौत का लव-लेटर – वन इंडिया हिंदी

http://hindi.oneindia.com/news/india/story-of-a-dalit-boy-allegedly-killed-for-delivering-a-love-letter-for-an-upper-caste-367343.html

Please Watch:

Prime Time: Untouchability

still prevalent in Varanasi?

https://www.youtube.com/watch?v=DurQuuGq0pA

नवभारत टाइम्स

सपा पार्षद ने एसओ के सामने दलित को पीटा

http://navbharattimes.indiatimes.com/metro/lucknow/other-news/sp-councilor-dalit-beaten-in-front-of-the-so/articleshow/48208840.cms

 कानपुर, कल्याणपुर थाने में शुक्रवार शाम समाजवादी पार्टी के पार्षद ने एसओ का चैंबर बंद कर दलित को पीटा। इस दौरान थाने में कुर्सी-मेज भी जमकर चले। बाद में किसी तरह पुलिस ने दलित को छुड़ाया और आरोपी धमकी देता हुआ भाग निकला। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी संजय यादव समेत 2 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट लिख ली। थाने से इसकी पुष्टि की गई है। वहीं काफी कोशिशों के बावजूद एसएसपी शलभ माथुर से बात नहीं हो सकी।

संजय यादव पुराना हिस्ट्रीशीटर और पार्षद है। आरोप है कि वह बारासिरोही में कांग्रेस कार्यकर्ता संजय पासवान के प्लॉट पर कब्जा करना चाहता है। शुक्रवार दोपहर बाद यादव ने 30-40 लोगों के साथ पासवान के प्लॉट पर कब्जे की कोशिश की। विरोध में दोनों पक्षों में मारपीट हुई। पुलिस पासवान को कल्याणपुर थाने ले आई। पीछे से संजय यादव कई लोगों के साथ थाने पहुंचा और इंस्पेक्टर अजय प्रकाश श्रीवास्तव का चैंबर बंदकर संजय पासवान को बुरी तरह पीटा। उसके समर्थक थाने में कुर्सी और मेजें चलाते रहे, जबकि थाने की पुलिस तमाशा देख रही थी। काफी हंगामे के बाद पुलिस ने यादव समर्थकों को रोका। इसके बाद वे भाग निकले। संजय पासवान की तहरीर पर संजय यादव और एक अन्य के खिलाफ रिपोर्ट लिखी गई है।

भाषा

उत्तर प्रदेश में व्यापारी की गोली मारकर हत्या

http://www.bhasha.ptinews.com/news/1281501_bhasha

मुजफ्फरनगर :उप्र:, 25 जुलाई :भाषा: आज अज्ञात लोगों ने 40 वर्षीय एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी। यह घटना उत्तर प्रदेश में शामली जिले के कांधला शहर में हुई।

पुलिस ने बताया कि धर्मपाल नाम के एक दलित व्यक्ति की हत्या उस समय कर दी गयी जब वह गगेर गांव से शहर में आया था।

उन्होंने बताया कि उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

पुलिस को हत्या के पीछे आपसी रंजिश होने का संदेह है।

दैनिक जागरण

मंदबुद्धि दलित किशोरी से दुष्कर्म

http://www.jagran.com/news/state-12645063.html

वजीरगंज (बदायूं) : द¨रदगी और हैवानियत की घटनाओं के लिए बदनाम बदायूं की सरजमीं पर एक और कलंकित वारदात घट गई। इस बार वजीरगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में बहशीपन की हदें पार करते हुए युवक ने गांव की ही रहने वाली मंदबुद्धि दलित किशोरी की आबरू तार-तार कर दी। घर में अकेली किशोरी को देखकर बंधक बना लिया और दुष्कर्म किया। घटना की जानकारी होने पर परिजन उसे लेकर थाने पहुंचे, जहां पुलिस ने आरोपी अमित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा है। आरोपी की गिरफ्तारी अभी नहीं हो पाई है।

द¨रदगी की यह वारदात थाना क्षेत्र में गुरूवार की सुबह घटी। मंदबुद्धि दलित चौदह वर्षीया किशोरी घर में अकेली थी। परिजन खेतों पर काम करने गए थे। इसी दौरान मौका पाकर आरोपी अमित घर में घुस आया। उस वक्त किशोरी चारपाई पर बैठी थी। आरोपी ने आते ही किशोरी को जमीन पर गिरा लिया। विरोध किया तो वह उसको खींचकर कमरे में ले गया। बंधक बनाने के बाद दुष्कर्म किया। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गया। दोपहर के वक्त किशोरी के परिजन जब घर पहुंचे तो उसकी हालत देखकर उनके होश उड़ गए। पूछने पर पीड़िता ने घटना के बारे में बताया। पड़ोसियों ने आरोपी का नाम बताया तो पीड़िता के परिजन उसको लेकर थाने पहुंचे, जहां घटना की तहरीर पुलिस को दी। सूचना मिलने के बाद पुलिस काफी देर तक पुलिस पीड़ित परिवार को टहलाती रही। शुक्रवार को घटना की जांच कराई गई, जहां सत्यता पाने पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया। आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया है। दलित किशेारी से दुष्कर्म की वारदात को 24 घंटे तक दबाए रखने पर पुलिस पर सवालिया निशान खड़े हो गए हैं।

नई दुनिया

नाबालिग को बंधक बनाकर ज्यादती करने वाला गिरफ्तार

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/morena-news-431216

मुरैना। अंबाह पुलिस ने पिछले दिनों दलित नाबालिग किशोरी को जंगल में बंधक बनाकर ज्यादती करने वाले तीन हजार के इनामी आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के मुताबिक अंबाह निवासी विष्णु परमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने अपने साथियों के साथ एक किशोरी का अपहरण कर जंगल में बंधक बनाकर रखा और सामूहिक रूप से ज्यादती की। पुलिस ने आरोपी पर तीन हजार का इनाम घोषित किया था। हालांकि बताया जाता है कि आरोपी ने न्यायालय में आत्मसमर्पण किया है। पुलिस ने आरोपी को पांच दिन के रिमांड पर लिया है।

दैनिक भास्कर

गैंग रेप के आरोपी विष्णु ने किया कोर्ट में सरेंडर

http://www.bhaskar.com/news/MP-MUR-MAT-latest-morena-news-043524-2323573-NOR.html

अंबाह कस्बा की एक दलित किशोरी से गैंग रेप करने के आरोपी विष्णु परमार ने शुक्रवार की दोपहर कोर्ट में सरेंडर कर दिया। सरेंडर किए जाने के बाद आरोपी को पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर पूछताछ की। अंबाह थाने में दर्ज मुकदमे के मुताबिक तीन लोगों ने किशोरी को जबरन पकड़कर उसे बोलेरो जीप डाला और एकांत जगह पर ले गए। आरोपियों के कब्जे से छूटने के बाद किशोरी ने गैंग रेप की शिकायत दर्ज कराई है।

 गैंग रेप का आरोपी विष्णु परमार।

दैनिक जागरण

खौफ के साये में दुष्कर्म पीड़िता का परिवार

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/mainpuri-12643400.html

मैनपुरी, बिछवां: एक सप्ताह पहले दुष्कर्म का शिकार बनी दलित किशोरी का परिवार खौफ में है। पीड़ित परिवार ने आरोपी पक्ष पर भय का वातावरण पैदा करने तथा खौफजदा कर समझौता कराने की कोशिश करने का आरोप लगाया है।

18 जुलाई की रात 8 बजे बिछवां क्षेत्र के एक गांव की निवासी दलित किशोरी अपनी भाभी के साथ शौच के लिए खेत पर गई थी। तभी गांव का निवासी रहीस खां वहां पहुंच गया। उसने किशोरी के साथ दुष्कर्म किया। बचाने पहुंची भाभी को तमंचा दिखाते हुए गोली से उड़ाने की धमकी दी। बाद में अन्य ग्रामीणों को देख आरोपी फरार हो गया।

24_07_2015-24man10

रात में ही पीड़ित परिवार थाना बिछवां पहुंचा। जहां छेड़खानी के आरोप में मामला दर्ज किया गया। सुबह होने पर गांव के लोगों ने एसपी आवास का घेराव करते हुए हंगामा किया। परिजनों का कहना था कि किशोरी के साथ दुष्कर्म हुआ है। एसओ बिछवां ने पीड़ित किशोरी व उसके पिता को काट डालने की धमकी देकर छेड़खानी के आरोप में रिपोर्ट दर्ज की थी। पुलिस अधीक्षक ने किशोरी के मेडिकल रिपोर्ट तथा बयान के आधार पर दुष्कर्म की धारा बढ़ाने का आश्वासन दिया, तो ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ था।

वहीं, गुरुवार आधी रात को पीड़ित परिवार तथा गांव के लोग उस समय सहम गए, जब पीड़ित किशोरी के घर के पास दो दर्जन से अधिक संदिग्ध लोग दिखाई पड़े। उनके हाथ में लाठियां व टॉर्च थीं। किशोरी के परिजनों ने गांव के लोगों को जानकारी दी। थोड़ी देर में दर्जनों ग्रामीण इकट्ठे हो गए। संदिग्धों की घेराबंदी की तो वे गालियां देते हुए खेतों की ओर चले गए। अंधेरा होने के कारण गांव के लोगों ने उनका अधिक दूर तक पीछा नहीं किया।

शुक्रवार को एडीएम सूर्यमणि लालचंद गांव पहुंचे तथा पीड़ित परिवार का हाल जाना। पीड़िता के परिजनों ने बताया कि वे आरोपी पक्ष से भयभीत हैं। आरोपी पक्ष के लोग उनकी पुत्री की हत्या कर मामले को कमजोर करना चाहते हैं।

इस पर एडीएम ने पीड़ित परिवार को सुरक्षा का भरोसा दिया तथा गांव में तैनात पुलिस कर्मिर्यों को मुस्तैद रहने के निर्देश दिए।

अमर उजाला

कोर्ट के आदेश पर दलित उत्पीड़न की रिपोर्ट दर्ज

http://www.amarujala.com/news/city/pilibhit/pilibhit-crime-news/court-dalit-reported-harassment-hindi-news/

 पुलिस ने अदालत के आदेश पर दलित दंपति और उसकी पुत्री को मारने पीटने के साथ जाति सूचक शब्दों का प्रयोग कर अपमानित करने के मामले में चार लोगों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज की है।
थाना क्षेत्र के ग्राम इमलिया निवासी दलित बेचेलाल की पत्नी शिवदेई ने अदालत में दिए प्रार्थना पत्र में कहा है कि गांव स्थित उसकी पुश्तैनी जगह में पाकड़ का पेड़ खड़ा है। जहां वह पशु बांधने के साथ अन्य सामान रखती है। आरोप है कि गांव निवासी जयंती प्रसाद उर्फ जंतरी इस जगह पर जबरन कब्जा करनेे की कोशिश करते रहते हैं। 26 मई को अपनी जगह पर सफाई करने गई तभी जयंती प्रसाद व उसके भाई भूपराम, गेंदनलाल व उसकी पत्नी तुलसा देवी आ गए और गालियां देते हुए जातिसूचक शब्दो का प्रयोग करने लगे। विरोध करने पर उसे लात घूसों व थप्पड़ों से मारने पीटने लगे।
विवाहिता के चिल्लाने पर उसकी पुत्री गोदावरी व पति बेंचेलाल ने बचाने का प्रयास किया तो हमलावरों ने उन्हें भी मारा पीटा व जान से मारने की धमकी दी। आरोप है कि शिकायत पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की उल्टे उसके पति व आरोपी जयंतीप्रसाद को शांतिभंग की आशंका में गिरफ्तार कर चालान कर दिया। एसओ सुुरेश कुमार सिंह ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर चारों आरोपियों के विरुद्ध धारा 323, 504, 506 व एससी एसटी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली है।
पति समेत छह पर डकैती की रिपोर्ट
घर में घुसकर मारपीट कर सोने की चेेन व कुंडल छीन लेने के मामले की अदालत के आदेश पर पुलिस ने पीड़ित की ओर से उसके सास ससुुर सहित छह लोगों के विरुद्ध डकैती की धारा में रिपोर्ट दर्ज की है।
थाना क्षेत्र के ग्राम भैंसहा सतरापुुर निवासी सुुरेशचंद्र की पत्नी लज्जावती ने कोर्ट में दिए प्रार्थ्रना पत्र में कहा है कि उसके पति मजदूरी करने पीलीभीत चले जाते हैं। आरोप है कि 22 अप्रैल को प्रात: उसके ससुर ख्यालीराम ने जानवर बांधने के खूंटे उखाड़कर फेंक दिए औेर उसके पड्डे को भगा दिया। उसकी पुत्री नीलम दोबारा खूंटे लगाने गई तभी ख्यालीराम और उनकी पत्नी प्रेमवती ने उसे मारपीट कर भगा दिया।
इस मामले की शिकायत जिरौनिया पुुलिस चौकी पर की। जिससे क्षुब्ध होकर उसके ससुुर पांच अन्य लोगों के साथ घर में घुस आए और बाल पकड़कर लात घूूसों से मारा पीटा। सोने के कुंडल व चेन छीन ली। आइंदा जानवर बांधने पर जान से मारने की धमकी दी।
एसओ सुुरेश कुमार ङ्क्षंसह ने बताया कि अदालत के आदेश पर ग्राम भैंसहा सतरापुुर निवासी ख्यालीराम, उनकी पत्नी प्रेमवती, रमेश चंद्र, सरोजा देेवी तथा जनपद बरेली के थाना नवाबगंज के ग्राम निगोही पिपरा निवासी प्यारेलाल और शिवम के विरुद्ध धारा 395 के तहत रिपोर्ट दर्ज की है।

दैनिक जागरण 

साजिशन तैयार किया गया रैपिड सर्वे

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/sidharth-nagar-12644812.html

सिद्धार्थनगर : रैपिड सर्वे पूरी तरह गलत है, इसे दुबारा कराए जाना न्याय संगत होगा। ऐसा प्रतीत होता है कि यह सर्वे एक जगह बैठ कर साजिशन तैयार किया गया है। प्रशासन इसकी खुली जांच निष्पक्षता से कराए तो असलियत सामने आ जाएगी। यदि ऐसा नही हुआ तो अनारक्षित, सामान्य व दलित वर्ग का आरक्षण सही रूप से नही हो पाएगा।

उक्त बातें बसपा प्रत्याशी सैयदा खातून ने कही। वे शुक्रवार को स्थानीय कार्यालय पर आयोजित कार्यकर्ता की बैठक को संबोधित कर रही थी। पूरे विधान सभा क्षेत्र में 2012 में कुल मतदाताओं की संख्या 353500 थी, जिसमें सामान्य 182500, पिछड़ी 80000, दलित 71500, 20500 अन्य मतदाता है, ऐसे में रैपिड सर्वे में केवल पिछड़ी को 154446 पहुंचा देना कहा तक विश्वसनीय माना जा सकता है। उन्होंने जिलाधिकारी से इस सर्वे रिपोर्ट की निष्पक्ष जांच कराकर इस साजिश में लिप्त लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है। अन्य वक्ताओं ने रैपिड सर्वे रिपोर्ट कर जम कर विरोध करते हुए इसे सरकार की साजिश करार देते फिर से सर्वे कराने पर जोर दिया। बच्चाराम बौद्ध, मिश्रीलाल गौड़, चंद्रिका प्रसाद, अवध बिहारी, जमालुद्दीन, मदन चौधरी, अकबाल अहमद मलिक, बालकृष्ण ओझा, विजय ¨सह, हिरावन, बीपत आदि तमाम कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

हस्तक्षेप

डांगावास हत्याकांड : जो मारे गए वही सन्देह के घेरे में

http://www.hastakshep.com/hindi-news/khoj-khabar/2015/07/24/

 राजस्थान का नागौर जिला सूखा प्रभावित क्षेत्र है। 2011 की जनगणना के अनुसार नागौर की जनसंख्या 27,75,058 है जिसमें से 22,97,721 जनसंख्या गांवों में रहती है। यह जिला जाट (पिछड़ा वर्ग) बहुल है। दूसरे स्थान पर मेघवाल (दलित) आते हैं। इसके अलावा दलित जातियों में चैकीदार, रेगर, खटीक इत्यादि जातियां आती हैं। जाट और दलित के अलावा राजपूत, ब्राह्मण, बुनकर, मारू, बढ़ई, जैन और मुसलमान भी हैं। मुसलमानों को छोड़कर जमीन सभी जातियों के पास थोड़ा बहुत है। जाट, मेघवाल, राजपूत, ब्राह्मण के पास जमीन ज्यादा है। जाट और मेघवाल ही ज्यादा संख्या में नौकरियों में हैं।

इस इलाके में जाति बहुत ही मजबूत है। इस इलाके में जाने पर जाति जरूर पूछी जाती है। भारत में दलितों के पास जमीन नाम मात्र की है, लेकिन इस इलाके में दलितों के पास जमीन होना मेरे लिए आश्चर्य का विषय था। मैंने जानकारी इकट्ठा करने के लिए मेघवाल समुदाय के धर्माराम डेवाल से बात कि तो उन्होंने बताया जाट और मेघवाल दोनों राजा के पास बेगार का काम किया करते थे। राजा बलदेवराज मिरदा जब इस इलाके में घूम रहे थे तो उनके साथ जाट और मेघवाल जाति के लोग थे, इसलिए जाट और मेघवाल के पास जमीन ज्यादा है। यह इलाका सूखा प्रभावित था, इसलिए दबंग जातियों को जमीन को लेकर पहले लालच नहीं था और जोर-जबरदस्ती से जमीन नहीं छीनी गई।

दैनिक जागरण

विशेष समिति ने की शिकायतों की जांच

http://www.jagran.com/jharkhand/giridih-12643771.html

गिरिडीह : विधानसभा की विशेष समिति ने शुक्रवार को यहां जिला मुख्यालय स्थित पुराने परिसदन में शिक्षा अधिकारियों के साथ शिकायतों पर बिन्दुवार चर्चा की और फिर स्थल अध्ययन दौरा में इसकी पड़ताल भी की।

बता दें कि विधानसभा में स्थानीय भाजपा विधायक निर्भय कुमार शाहाबादी ने कस्तूरबा आवासीय विद्यालय, मूक-बधिर विद्यालय और दलित-आदिवासी आवासीय विद्यालयों में व्याप्त कुव्यवस्था को लेकर सरकार का ध्यानाकृष्ट कराया था।

इससे पहले समिति ने अनुसूचित जाति आवासीय विद्यालय प्रतापपुर जमुआ और खरगडीहा का स्थल निरीक्षण का वस्तुस्थिति का जायजा लिया था। समिति की संयोजिका सह मांडर विधायक गंगोत्री कुजूर ने शिकायतों पर अधिकारियों की जमकर क्लास ली।

इस मामले में भाजपा नेता कामेश्वर पासवान ने भी समिति को विद्यालयों में व्याप्त अनियमितता को लेकर ज्ञापन सौंपा। खोरीमहुआ एसडीओ की ओर से भी जिला प्रशासन को इन विद्यालय से संबंधित जांच प्रतिवेदन दिया गया था जिसमें शिकायतों की पुष्टि करते हुए संबंधित प्रधानाध्यापकों एवं वार्डन से स्पष्टीकरण की मांग की गई थी। सर्वाधिक शिकायत बच्चों के भोजन और आवासीय सुविधाओं को लेकर थी।

समिति के साथ भाजपा नेत्री संजू देवी ने आदिवासी छात्रावास, कस्तूरबा विद्यालय सहित मूक-बधिर विद्यालय का निरीक्षण कर संयोजिका सह विधायक को सतही जानकारी दी। विशेष जांच समिति ने शिकायतों की गंभीरता को देखते हुए दोषियों के खिलाफ सरकार को रिपोर्ट देने और विधानसभा के मानसून सत्र में इस पूरे प्रकरण को रखने की बात कही। इस दौरान भाजपा विधायक शाहाबादी के अलावा उमेश दास, मेघलाल तुरी, राजकुमार तुरी, सुरेश मोहली, गोविन्द साव सहित कई कार्यकर्ता भी निरीक्षण में शामिल थे।

दैनिक जागरण

चर्च को जाते रास्ते को लेकर विवाद

http://www.jagran.com/punjab/tarantaran-12646257.html

जागरण संवाददाता, गांव ठ्ठा (तरनतारन) : गांव ठ्ठा में बने चर्च के पंचायती रास्ते को लेकर ईसाई समुदाय के लोग और दलित भाईचारे के लोग आमने-सामने हो गए। मामला प्रशासन के ध्यान में आया तो पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुंच कर दोनों गुटों को शांत करवाया।

गांव ठ्ठा निवासी वरिंदर सिंह सेठ, नंबरदार हरजिंदर सिंह व भोला सिंह ने बताया कि गांव ठ्ठा निकट बनी कालोनियों में ईसाई समुदाय द्वारा जमीन लेकर चर्च बनाया गया था। इसके आगे पंचायत की जमीन खाली पड़ी होने कारण उसे चर्च के रास्ते के तौर पर प्रयोग किया जाता था, मगर अब कालोनी में रहते दलित भाईचारे द्वारा धर्मशाला बना दी गई है। चर्च को छह फुट का रास्ता पंचायत की जमीन से छुड़वा दिया है। उन्होंने बताया कि रास्ते पर की गई दीवार को दलित भाईचारे द्वारा तोड़ दिया गया। दूसरी ओर ईसाई समुदाय के पक्ष में उतरे बख्शीश सिंह, लक्ष्य मसीह, राजविंदर सिंह, अध्यक्ष हरजिंदर सिंह व रूत गिल ने बताया कि उक्त चर्च करीब 20 वर्ष पहले की बनी है।

इसका रास्ता उस समय के सरपंच की सहमति से सड़क की ओर रखा गया था। इस रास्ते को तोड़कर माहौल बिगाड़ा जा रहा है। इस मामले को लेकर जब दोनों गुट आमने-सामने हुए तो डीसी बलविंदर सिंह धालीवाल ने एसएसपी मनमोहन कुमार शर्मा को मौके पर सुरक्षा के बंदोबस्त करने को कहा। इस पर डीएसपी सब डिवीजन तरनतारन सुखविंदर सिंह व थाना झब्बाल के प्रभारी इंस्पेक्टर सुखबीर सिंह पुलिस पार्टी सहित पहुंचे व मौके पर दोनों गुटों को शांत करवाया।

बीडीपीओ अमनइंद्र सिंह ने कहा कि उक्त मामले को लेकर राजस्व विभाग का रिकार्ड देखा जाएगा व पटवारी से रिपोर्ट भी ली जा रही है। डीएसपी सुखविंदर सिंह ने कहा कि दोनों गुटों को अमन-शांति कायम रखने के लिए कहा गया है।

अमर उजाला

गंगा कटान से सहमे छेछुआ, भुर्रा के लोग

http://www.amarujala.com/news/city/bhadohi/ganga-cecua-struck-by-intersection-bhurra-people-hindi-news/
 छेछुआ के एक दलित परिवार के आशियाने पर संकट के बादल मंडांने लगे हैं। उसके घर से गंगा की धारा चंद फर्लांग की ही दूरी पर है। कटान से अब तक इस दलित परिवार की एक बीघे की जमीन गंगा में समा चुकी है।
 जिले में छेछुआ-भुर्रा से लेकर औराई के कठारी, बाबूसराय तक 40 किमी से अधिक दूरी तक गंगा प्रवाहित होती है। बारिश के सीजन में जलस्तर बढने से तटीय गावों के ग्रामीणों की परेशानी बढ़ जाती है। हालांकि सबसे अधिक नुकसान कोनिया इलाके के छेछुआ और भुर्रा के लोगों को उठाना पड़ता है। तीन तरफ गंगा से घिरे इन गावों में कटान काफी तेजी से होती है। पिछले कुछ दिनों से हो रही बारिश से जलस्तर बढने लगा है। इससे छेछुआ भुर्रा गावों में कटान शुरू हो गई है। छेछुआ निवासी शोभनाथ गौतम के परिवार पर संकट के बादल मंडांने लगा है। करीब एक दशक पूर्व गंगा से करीब 500 मीटर दूर बना घर अब महज चंद फीट की दूरी पर रह गया है। इस परिवार की एक बीघा जमीन गंगा में पहले ही समा चुकी है।
 परिवार में 12 सदस्य रहते हैं। पीड़ित शोभनाथ ने बताया कि उसके पास एक धूर जमीन नहीं है ताकि अन्यत्र मकान बनवा सके। ग्रामीणों की मानें तो तीन दशक पूर्व उनका करीब 2900 सौ एकड़ का रकबा था, जो अब करीब 900 एकड़ बचा है। तीन दशक पूर्व जहां उनके आशियाने रहते थे, वहां गंगा की विकराल धारा बह रही है। जहां कोनिया के किसानों को भारी नुकसान हो रहा है, उनका रकबा कम होता जा रहा है वहीं गंगा के दूसरी तरफ इलाहाबाद जिले के बामपुर और उसके सटे गावों का रकबा दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। उल्लेखनीय है कि छेछुआ और भुर्रा गांव के किनारे गंगा का किनारा करीब दो किमी तक फैला है। बारिश के दिनों में जैसे ही गंगा का जलस्तर बढ़ता है, कटान शुरू हो जाती है। सीतामढ़ी स्थित केंद्रीय जल आयोग के अनुसार वर्तमान समय में गंगा का जलस्तर 70.300 मीटर है। यह आंकड़ा जब 72 मीटर के पार पहुंचता है गंगा से सटे कई गावों में कटान शुरू हो जाता है।
 ग्रामीणों के मुताबिक पांच दशक पूर्व छेछुआ से सटा हरिहरपुर गांव कटान के चलते समाप्त हो चुका है। छेछुआ गांव के अमर बहादुर सिंह, रामजी सिंह, सुरेश सिंह, जितेंद्र बहादुर सिंह आदि ने आरोप लगाया कि कटान से प्रत्येक वर्ष गांव का रकबा कम होता जा रहा है। बाढ़ आने पर प्रशासन के लोग नजर आते हैं और कागजी कोरम पूरा कर लौट जाती है। समाजसेवी आदर्श पांडेय और ओम प्रकाश दूबे ने जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कटान रोकने की मांग की है।

वन इंडिया हिंदी

न पीछा किया न प्यार किया, फिर भी मिला मौत का लव-लेटर

http://hindi.oneindia.com/news/india/story-of-a-dalit-boy-allegedly-killed-for-delivering-a-love-letter-for-an-upper-caste-367343.html

बैंगलोर। अनिल ने न उस लड़की का पीछा किया, न उससे एकतरफा प्यार करता था, न ही कभी गंदी नजर से देखा, फिर भी मौत का लव लेटर उसे मिल गया। वो भी सिर्फ इसलिये क्योंकि वो दलित था। आप सुनकर चौंक रहे होंगे कि अंग्रेजों को छोड़कर गए 70 साल हो गये और अभी भी दलित और उच्च वर्ग का अंतर है।

चौकिए नहीं ऐसा है और यह घटना है उत्तरी बैंगलोर के एक गांव की। 23 साल के विट्ठल मेथरी ने बैंगलोर आकर एक राज्य मंत्री से मुलाकात की और उनसे पूछा कि एक उच्च जाति के लड़के का उसकी प्रेमिका को प्रेमपत्र पहुंचाने से मना करने की कीमत उसके भाई अनिल को जान देकर क्यों चुकानी पड़ी। उल्लेखनीय है कि 17 साल के अनिल की मौत बीते 7 जुलाई को हो गई थी। आरोप है कि उसे कर्नाटक के बैगलकोट जिले के मिरजी गांव के उच्च जाति के लोगों ने जहर दे दिया था। अनिल का भाई विट्ठल ने बुधवार को जी मंजूनाथ से मुलाकत की। मुलाकात के बाद विट्ठल ने बताया कि मंजूनाथ ने उनसे वादा किया है कि वो इस मुद्दे को गंभीरता से विधानसभा में उठाएंगे।
जानकारी के मुताबिक 1 जुलाई को रात करीब 8 बजे चार लोग आए और अनिल को उठा कर ले गये। क्योंकि उसने एक उच्च जाति की लड़की को प्रेमपत्र पहुंचाया था। विट्ठल के मुताबिक‍ प्रवीण नामक एक लड़के का उसी के जाति की एक लड़की से प्रेम संबंध था। प्रवीण उसके पास आया और उसने अनिल को पत्र पहुंचाने के लिए कहा।

चुकि सभी रेड्डी जाति से संबंध रखते थे इसलिए अनिल इंकार नहीं कर पाया। अगले दिन शाम को लड़की के पिता को मामले के बारे में पता चला और वो अनिल को उसके घर से उठाकर ले गये। किसी अनहोनी की आशंका समझ अनिल के घर वालों ने लड़की के पिता का पीछा किया। अनिल कुछ दिनों तक लापता रहा फिर एक दिन बेतहाशा हालत में खेत में मिला। आनन-फानन में उसे अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई। डॉक्टरों ने बताया कि उसे जहर दिया गया है।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s