दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 22.07.15

गर्भवती महिला की दबंगों की पिटाई से मौत दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/faizabad-12630927.html

यूपी : दलित छात्र के कॉलेज हैंडपंप से पानी पीने पर स्कूल प्रिंसिपल ने जमकर पिटाई की ! – खोजी न्यूज़

http://khojinews.com/news-details.php?id=1628

दुष्कर्म और हत्या में ग्राम प्रधान समेत पांच गिरफ्तार नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/national-head-arrested-including-five-in-the-village-for-rape-and-murder-429370

गैंगरेप का आरोपी दबोचा गया अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/bahraich/bahraich-crime-news/the-accused-was-nabbed-gangrep-hindi-news/

हत्यारोपी के सरेंडर के बाद भी पकड़े नहीं गए दो दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/noida-12628881.html

भेदभाव की शिकायत लेकर कलेक्टोरेट पहुंचे बिलौनिया के दलित दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/MP-GUNA-MAT-latest-guna-news-023006-2300296-NOR.html

जींद : घर लौटे 40 दलित परिवार नवभारत टाइम्स

http://navbharattimes.indiatimes.com/state/punjab-and-haryana/jind/jind-40-dalit-families-returned-home/articleshow/48164904.cms

दलितों-गरीबों से धक्केशाही कर रही कमिश्नरेट पुलिस दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/punjab/jalandhar-city-12629982.html

केंद्र ने एससी स्कालरशिप बंद नहीं की : सांपला दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/punjab/hoshiarpur-12631447.html

स्टूडेंट यूनियन ने संघर्ष की चेतावनी दी दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/punjab/hoshiarpur-12628866.html

मंदिर निर्माण का रोका काम दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/amroha-city-12630326.html

 Please Watch:

हाशिये के लोग  | दलित उत्पीडन

https://www.youtube.com/watch?v=rcqV8rMPoOE

दैनिक जागरण

गर्भवती महिला की दबंगों की पिटाई से मौत

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/faizabad-12630927.html

जानाबाजार (फैजाबाद): हैदरगंज थाना क्षेत्र के कोरोराघवपुर के मजरे गड़ी में एक गर्भवती दलित महिला आशादेवी (35) पत्नी दिनेश कुमार की दबंगों की पिटाई से मौत हो गई। इतनी बेहरमी से उसे पीटा गया कि वह अचेत हो गई। गंभीर हालत में इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तारुन ले जाते समय रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। गौर करने की बात यह है कि इस मामले में पुलिस ने पिटाई का मुकदमा पहले ही दर्ज कर लिया था। मौत होने पर बाद में पुलिस ने गैरइरादतन हत्या की धारा और बढ़ा दी है। इस पर सवाल उठ रहे हैं कि जब निर्ममता से पिटाई की गई और मुकदमा भी पहले से दर्ज है तो गैरइरादतन हत्या की धारा का मतलब क्या है? थानाध्यक्ष पीएन तिवारी के अनुसार दूसरे नामजद आरोपी की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है। दरअसल शिवकुमार ¨सह पुत्र सत्यनारायन ¨सह व सत्येंद्र ¨सह पुत्र उदयराज ¨सह दलित उत्पीड़न के दर्ज एक मुकदमे में सुलह करने के लिए उस पर दबाव डाल रहे थे।

रोंगटे खड़ी कर देने वाली यह वारदात सोमवार की शाम लगभग छह बजे की है। आशा देवी घर से 50 मीटर दूर इंडिया मार्का हैंडपंप पर पानी भरने गयी थी। कोरोराघवपुर निवासी शिवकुमार ¨सह व सत्येंद्र ¨सह ने उसे देखकर आपा खो बैठे। पिटाई शुरू कर दी। पास में पड़ी लकड़ी उठाकर सिर पर प्रहार कर दिया। भाभी को पिटते देख ननद शन्नू चीखने चिल्लाने लगी। शोर सुन पास में धान की रोपाई कर रहे परिवार के लोग पहुंचते तब तक दोनों मोटरसाइकिल से भाग निकले। अचेतावस्था में महिला को सीएचसी तारुन ले जाने पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। महिला के तीन छोटे बच्चे हैं। महिला की सास ने बताया कि बहू को पांच माह का गर्भ रहा।

महिला के पति का लगभग पांच साल पहले ट्रेन हादसे में एक पैर भी कट गया था जिससे परिवार चलाने की पूरी जिम्मेदारी उसी पर थी। मजदूरी करके वह किसी तरीके से परिवार का पालन पोषण कर रही थी। साल भर पहले दबंग सत्येंद्र ¨सह के भाई सत्यप्रकाश ¨सह उर्फ ललऊ ने दिनेश एवं उसके परिवार की पिटाई की थी। उनके खिलाफ दलित उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज हुआ था। उसी मुकदमे में सुलह के लिए आए दिन दबाव बनाने के लिए गाली-गलौज एवं सुलह न करने पर मारने पीटने की धमकी दिया करते थे। थानाध्यक्ष पीएन तिवारी ने बताया कि सोमवार की शाम को ही रामकेवल की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया था। एसपी ग्रामीण कुलदीप नारायण का कहना है कि महिला की मौत पिटाई के कुछ घंटों बाद हुई है, इसलिए गैर इरादतन हत्या की धारा बढ़ा दी गई।

खोजी न्यूज़

यूपी : दलित छात्र के कॉलेज हैंडपंप से पानी पीने पर स्कूल प्रिंसिपल ने जमकर पिटाई की !

http://khojinews.com/news-details.php?id=1628

झांसी. मऊरानीपुर में स्थित एक इंटर कॉलेज में दलित छात्र को हैंडपंप से पानी पीना महंगा पड़ गया। छात्र को पानी पीता देख कॉलेज के प्रिंसिपल ने उसे पीटना शुरू कर दिया। छात्र का कहना है कि स्कूल में दलितों के लिए पानी की अलग व्यवस्था की गई है। छात्र के परिजनों ने इस मामले की शिकायत एसडीएम से की है, जिन्होंने कार्रवाई का आश्वासन दिया।

1437546224principal

झांसी से 45 किलोमीटर दूर मऊरानीपुर के मोहल्ला गांधी गंज में ही दीपक मेमोरियल इंटर कॉलेज है। बताया जाता है कि कॉलेज में दो हैंडपंप लगे हुए हैं। एक हैंडपंप कॉलेज कैंपस में बीच में मुख्य जगह पर लगा हुआ है, जबकि एक कॉलेज में बिलकुल साइड में लगवाया गया है। कॉलेज में 12वीं में पढ़ने वाले दलित छात्र मोहित ने कॉलेज कैंपस के बीच में लगे हैंडपंप से पानी पी लिया। वह पानी पी ही रहा था कि वहां से गुजर रहे कॉलेज प्राचार्य की नजर उस पर पड़ गई और उन्होंने उसे गालियां देना शुरू कर दिए। इसके बाद उन्होंने डंडा मंगाया और पीटना शुरू कर दिया। प्राचार्य का कहना था जब दलितों के लिए अलग हैंडपंप लगाया गया है तो बीच में लगे हैंडपंप से पानी क्यूं पीया।

सबके सामने दी 40 डंडे मारे जाने की सजा

दलित छात्र मोहित ने बताया कि प्राचार्य ने सबके सामने उसे 40 डंडे मारे। यह सजा दिए जाने के बीच काफी छात्र आसपास थे। मोहित के अनुसार, एक अन्य अध्यापक ने बीच बचाव कर प्राचार्य को रोक लिया।

एसडीएम ने दिया कार्रवाई का आश्वासन

कॉलेज से घर पहुंचे मोहित ने अपने परिजनों को यह बात बताई। इस पर पिता दिनेश कुमार इस पूरे मामले की एसडीएम अमित कुमार से शिकायत की। एसडीएम अमित कुमार ने मामले में तुरंत ही कार्रवाई के आदेश दिए हैं। थाना प्रभारी विक्रम सिंह ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी, जिसकी प्रक्रिया चल रही है।

नईदुनिया

दुष्कर्म और हत्या में ग्राम प्रधान समेत पांच गिरफ्तार

http://naidunia.jagran.com/national-head-arrested-including-five-in-the-village-for-rape-and-murder-429370

 आगरा। नईदुनिया के सहयोगी प्रकाशन दैनिक जागरण के सनसनीखेज खुलासे पर जागी पुलिस ने दलित महिला से दुष्कर्म और हत्या के मामले में कार्रवाई आगे बढ़ा दी। अपनी ओर से दर्ज किए गए मुकदमे में ग्राम प्रधान समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। इसके साथ ही महिला के पति को लेने सतना (मप्र) गई पुलिस टीम देर रात वापस लौट आई।

मलपुरा के ककुआ में हाईवे पर स्थित ओम गार्डन में दलित चौकीदार की पत्नी के साथ सामूहिक दुष्कर्म कर हत्या की गई थी। लाश के चार टुकड़े कर गांव के दबंगों ने उसे जला दिया था। इसके बाद उसके पति को धमकाकर सतना भेज दिया गया। जघन्य हत्याकांड को पूरी तरह दबा दिया गया था, मगर जागरण के खुलासे के बाद हकीकत सामने आ गई।

एसपी पश्चिम बबीता साहू ने बताया कि दुराचार, हत्या और सुबूत मिटाने के मुकदमे में ग्राम प्रधान सुखपाल समेत सात नामजद और अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। जिसमें महिला के अंतिम संस्कार में शामिल हुए ग्राम प्रधान सुखपाल चाहर, विक्रम चाहर, राजेंद्र चाहर, मनीष और श्यामवीर को गिरफ्तार कर लिया गया है।

अमर उजाला

गैंगरेप का आरोपी दबोचा गया

http://www.amarujala.com/news/city/bahraich/bahraich-crime-news/the-accused-was-nabbed-gangrep-hindi-news/

कोतवाली मुर्तिहा के एक गांव निवासी दलित किशोरी के साथ पूर्व प्रधान पुत्र व एक अन्य सहयोगी ने बंधक बनाकर दो दिनों तक रेप किया था। इस मामले में किशोरी ने पूर्व प्रधान पुत्र समेत दो को नामजद करते हुए कोतवाली में तहरीर दी थी। पुलिस ने मुख्य आरोपी को मंगलवार रात उसके घर से पकड़कर जेल भेज दिया है। जबकि एक आरोपी फरार है।

कोतवाली मुर्तिहा अंतर्गत एक गांव निवासी 14 वर्षीय किशोरी को पूर्व प्रधान कमलावती यादव के पुत्र रामप्रवेश उर्फ छोटू व गांव निवासी रामजी यादव ने 17 जुलाई को घर के सामने से अगवा कर लिया था। इसके बाद सभी ने पूर्व प्रधान के आवास की छत पर कमरे में बंधक बनाकर गैंगरेप किया था। 

किशोरी द्वारा पुलिस को जानकारी देने की बात पर सभी ने उसे खंभे से बांधकर पीटा भी था। शोर सुनकर ग्रामीणों ने किशोरी को पूर्व प्रधान के घर से किसी तरह छुड़ाया था। इसके बाद कोतवाली पहुंचकर पूर्व प्रधान पुत्र रामप्रवेश और रामजी यादव को नामजद करते हुए तहरीर दी थी। पुलिस ने गैंगरेप की रिपोर्ट दर्ज कर किशोरी को चिकित्सीय परीक्षण के लिए भेज दिया था। 

कोतवाल राजाराम यादव ने बताया कि मुख्य अभियुक्त रामजी यादव सोमवार रात कहीं बाहर जाने की फिराक में था। इस पर छापेमारी कर उसे घर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। जबकि पूर्व प्रधान पुत्र की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

दैनिक जागरण

हत्यारोपी के सरेंडर के बाद भी पकड़े नहीं गए दो

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/noida-12628881.html

जागरण संवाददाता, नोएडा : शोरगुल के विरोध में दलित युवक की हत्या मामले में एक आरोपी के सरेंडर के बाद भी दो को पुलिस नहीं पकड़ सकी है। अब तक सरेंडर किए आरोपी को रिमांड पर भी नहीं लिया गया। इस कारण हत्या में प्रयुक्त हथियार अब तक बरामद नहीं हो सका है।

ध्यान रहे कि सर्फाबाद गांव में पेंटर सोहित (18) रहता था। 14 जुलाई की रात अन्य साथियों के साथ वह छत पर सो रहा था। देर रात करीब एक बजे सर्फाबाद के रहने वाले तीन भाई मुनेश यादव, उमेश यादव और काले मकान के पास शराब पी रहे थे। वह काफी शोरगुल कर रहे थे। जिसका सोहित ने विरोध किया था। इसपर काले ने उसे गोली मार दी। गोली लगने के बाद एक भाई ने पेंटर को अस्पताल ले जाने की बात कही थी। तभी मौके पर पिता चंद्रमल आ गया था। उसने तीनों को तत्काल मौके से भागने को कहा।

साथ ही पुलिस से बचकर रहने की नसीहत दी। कोतवाली सेक्टर 49 पुलिस मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही थी। इसी बीच मुनेश ने जिला न्यायालय में आत्म समर्पण कर दिया। उसे सरेंडर किए पांच दिन बीत गए हैं। इसके बाद भी पुलिस ने अब तक उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ नहीं की। साथ ही उसके फरार हो भाईयों को गिरफ्तार कर सकी। इस कारण हत्या में इस्तेमाल तमंचा को भी बरामद नहीं किया गया है। सीओ अरविंद यादव का कहना है कि पुलिस टीम फरार आरोपियों को पकड़ने में लगी है। जल्द ही दोनों को गिरफ्तार कर हत्या में प्रयुक्त हथियार को बरामद किया जाएगा।

दैनिक भास्कर

भेदभाव की शिकायत लेकर कलेक्टोरेट पहुंचे बिलौनिया के दलित

http://www.bhaskar.com/news/MP-GUNA-MAT-latest-guna-news-023006-2300296-NOR.html

गुना| बिलौनिया गांव के दलितों ने गांव में उनसे भेदभाव करने की शिकायत दर्ज की है। इसके लिए मंगलवार को एक बार फिर से गांव के दलित बड़ी संख्या में एकत्रित होकर कलेक्टोरेट आए। जहां उन्होंने मुक्तिधाम और हैंडपंप पर पानी भरने को लेकर हो रहे भेदभाव और मारपीट की शिकायत की है। दरअसल दलितों को दंबगों द्वारा गांव के मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार नहीं करने दिया जाता है और न ही हैंडपंप से पानी भरने दिया जाता है। ऐसे में उन्हें परेशान होना पड़ रहा है। दलितों ने उनसे न्याय कराने की मांग की है।

नवभारत टाइम्स

जींद : घर लौटे 40 दलित परिवार

http://navbharattimes.indiatimes.com/state/punjab-and-haryana/jind/jind-40-dalit-families-returned-home/articleshow/48164904.cms

जींद बीते शनिवार को धरौदी गांव में प्लाटों को लेकर हुए झगड़े में हुई युवक की हत्या के बाद डर के मारे गांव छोडऩे वाले दलित परिवार अब वापस अपने गांव में लौटने लगे हैं। मंगलवार को धरोदी गांव दलित समाज के लोगों ने बताया कि अब गांव में शांति का माहौल है। 40 परिवार वापस गांव लौट आए हैं। हालांकि अभी तक दलित बस्ती व गांव के मुख्य चौराहों पर पुलिस बल तैनात है।

दलित लोगों का भी कहना है कि फिलहाल गांव में शांति हैं। लेकिन जब तक सभी दलित परिवार वापिस अपने घर नही लौट जाते तब तक पुलिस यहां पर तैनात रहना चाहिए।गांव के लोगों ने बताया कि यह मुद्दा किसी जाति को लेकर नही था। मृतक के आरोपी डर के कारण गांव छोड़ रहे थे उन्हें देखते हुए दूसरे दलित परिवारों ने भी डरकर घर छोड़ दिया था। वहीं अब कई संगठनों के लोग गांव के लोगों से सहानुभूति रखते हुए यहां पहुंचने लगे हैं। भारतीय बाल्मीकि धर्म समाज संगठन, रोहतक के सदस्य मंगलवार को मिले। दलित परिवारों के लोगों ने कहा कि यह उनका व्यक्तिगत मामला नहीं था, बल्कि सरपंच द्वारा उनको बहला-फुसलाकर ले जाया गया था और जो भी घटनाक्रम हुआ था, पुलिस की मौजूदगी में हुआ था।

उधर, पुलिस ने इस मामले में अब तक आरोपी सरपंच सहित पांच व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया है। जल्द ही पुलिस अन्य 3 आरोपियों को गिरफ्तार करने का प्रयास करेगी। पुलिस ने गिरफ्तार किये गये खुशीराम और नरेश को कोर्ट में पेश किया है, जहां कोर्ट ने उन्हें एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

दैनिक जागरण

दलितों-गरीबों से धक्केशाही कर रही कमिश्नरेट पुलिस

http://www.jagran.com/punjab/jalandhar-city-12629982.html

जागरण संवाददाता, जालंधर : बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की ओर से 25 जुलाई को गोराया में केंद्र व प्रदेश सरकार की खराब नीतियों के खिलाफ जिलास्तरीय धरना दिया जाएगा। इस धरने की तैयारियों संबंधी मंगलवार को बसपा की ओर से विधानसभा हलका वेस्ट व जालंधर कैंट में मीटिंगें की गई। पार्टी के जालंधर जोन इंचार्ज बलविंदर कुमार, मंडल कोआर्डिनटर जगदीश राणा, शहरी प्रधान धर्मवीर धमा ने कहा कि शहर में अकाली-भाजपा सरकार के प्रभाव में कमिश्नरेट पुलिस की ओर से दलितों-गरीबों के साथ धक्केशाही की जा रही है। बलविंदर कुमार ने कहा कि वेस्ट विधानसभा हलके में निशान सिंह के मामले में पुलिस की ओर से अकाली-भाजपा के प्रभाव में भाजपा नेता खुल्लर को गिरफ्तार नहीं किया गया। इसी तरह थाना एक की पुलिस की ओर से एक बेकसूर युवक को मकसूदां से उठाया गया और उस पर नशे का झूठा मामला दर्ज कर लिया गया। इसके अलावा थाना आठ की पुलिस भी दलितों के साथ धक्केशाही कर रही है।

इसी तरह विधानसभा हलका कैंट के तहत आते गांव दादूवाल में अकाली नेता की शह पर दलित सरपंच व उनके अन्य साथियों पर सरपंच के घर में ही हमला किया गया। दलित सरपंच के पति व उसके साथियों पर झूठा पर्चा दर्ज कर उन्हे गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस ने अपना व्यवहार नहीं बदला तो संबंधित थानों के आगे प्रदर्शन किए जाएंगे। मीटिंग में बसपा नेता जसपाल सिंह, हमीरी खेड़ा, बिंदर सल्लण, रणजीत सरहाली, विजय यादव, सु¨रदर महे, चमन लाल सोनू, सोढी चाचोवाल, जसपाल पंच, सु¨रदर पाल धनी पिंड, सतपाल पाला आदि भी शामिल थे।

दैनिक जागरण

केंद्र ने एससी स्कालरशिप बंद नहीं की : सांपला

http://www.jagran.com/punjab/hoshiarpur-12631447.html

जेएनएन, होशियारपुर : एससी विद्यार्थियों के पढ़ाई के स्तर के ऊंचा उठाने व शिक्षा आगे जारी रखने के लिए चलाई गई स्कालरशिप स्कीम केंद्र सरकार ने बंद नहीं की है। उक्त बात केंद्रीय समाजिक न्याय व अधिकारिता राज्य मंत्री विजय सांपला ने कही।

उन्होंने कहा कि कुछ राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधि जनता को गुमराह कस्कालरशिप के बंद होने की अफवाह फैला कर दलित वर्ग को भ्रमित कर रहे हैं। सांपला ने कहा कि केंद्र सरकार व पंजाब सरकार हर प्रकार से एससी वर्ग से संबंधित विद्यार्थियों के उत्थान के लिए वचनबद्ध है। साथ ही एससी स्कालरशिप स्कीम को जारी रखने के साथ-साथ और भी कई योजनाओं पर विचार कर रही है।

उन्होंने कहा कि कुछ शिक्षण संस्थान व अधिकारी एससी विद्यार्थियों को स्कालरशिप स्कीम के बारे में भ्रमित कर रहे है कि पहले विद्यार्थी अपनी फीस जमा करवाएं तथा बाद में सरकार उन्हें फीस वापस करेगी। उन्होंने कहा कि केंद्र या राज्य सरकार ने कोई ऐसी घोषणा नहीं की है व एससी बच्चों की स्कालरशिप स्कीम के तहत पहले पैसे जमा करवाने की जरूरत नहीं क्योंकि एससी स्कालरशिप का लाभ ले रहे बच्चों की फीस केंद्र सरकार सीधे स्कूल-कालेजों के खातों में भेज रही है।

उन्होंने कहा कि इस संबंधी अगर कोई कॉलेज या स्कूल प्रबंधन उनसे फीस जमा करवाने को कहता है तो वह डीसी व एसडीएम के पास शिकायत दर्ज करवाएं।

दैनिक जागरण

स्टूडेंट यूनियन ने संघर्ष की चेतावनी दी

http://www.jagran.com/punjab/hoshiarpur-12628866.html

संवाद सहयोगी, माहिलपुर : पंजाब स्टूडेंट यूनियन ने श्री गुरु गोबिंद सिंह खालसा कॉलेज प्रबंधन द्वारा पोस्ट मैट्रिक स्कीम के अंतर्गत हाईकोर्ट के आदेशों का पालन नहीं करने का आरोप लगाया। पंजाब स्टूडेंट यूनियन दोआबा जोन के अध्यक्ष बलजीत धर्मकोट ने बताया कि खालसा कालेज माहिलपुर दलित छात्रों से फीस वसूल रहा है। इस संबंध में जब कॉलेज प्रिंसीपल जंग सिंह से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने उन्होंने बात नहीं की तथा प्रो. परमिंदर सिंह से बात करने के लिए कहा। प्रो. परमिंदर सिंह ने भी यूनियन से बात करने से इंकार कर दिया।

स्टूडेंट यूनियन के नेताओं ने कहा कि कॉलेज प्रबंधन छात्राओं को गुमराह करके फीस वसूल कर रहा है जबकि सरकार के नियमों में कोई भी फीस वापिस करने की योजना नहीं है। यूनियन ने चेतावनी देते कहा कि यदि कॉलेज में पोस्ट मैट्रिक स्कीम को तुरंत लागू नहीं किया गया तो वह संघर्ष किया जाएगा। इस मौके पर यूनियन के जिला सचिव साहिल बड़ैच, जिला नेता सुरिंदर कुमार, हरप्रीत सिंह, सेती कुमार, सुनीता रानी, नीशा रानी, रिंपी, शालू, प्रवीन कौर, तथा बलजीत कौर आदि भी उपस्थित थे।

इस संबंध में कॉलेज के प्रिंसिपल जग सिंह से बात करने करने पर उन्होंने कहा कि उन्हें यूनियन के सदस्यों से मिलने पर एतराज नहीं है। उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष उन्हे डीपीआई से पत्र प्राप्त हुआ था कि पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप सीधे कालेज के खाते में डाल दी जाएगी पर इस बार सरकार ने कार्यक्रम बदल दिया है। उन्होंने कहा कि हर बच्चे का बैंक में खाता खुलवाना होगा और स्कालरशिप उसके खाते में आएगी और वह बच्चा अपने आप फीस निकाल कर कॉलेज में जमा कराएगा।

दैनिक जागरण

मंदिर निर्माण का रोका काम

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/amroha-city-12630326.html

मंडी धनौरा: गजरौला के गांव सुनपुरा मस्जिद निर्माण को लेकर चल रहा विवाद गहराता जा रहा है। दलित समाज के लोगों ने दूसरे समुदाय के लोगो पर मंदिर निर्माण में गतिरोध पैदा करने का आरोप लगाते हुए अधिकारियों से शिकायत की है।

तहसील क्षेत्र के गांव सुनपुरा खुर्द के ग्रामीण तहसील में एकत्रित हुए व गैर समुदाय के लोगों पर मंदिर निर्माण में बाधा उत्पन्न करने का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया। इस मौके पर वक्ताओं ने कहा कि गांव में माजिद का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने भी मंदिर का निर्माण करना चाहा तो गांव के ही इंसाफ, फारूख, जरीफ आदि ने मंदिर निर्माण में बाधा उत्पन्न की। इसकी शिकायत जब पुलिस तक पहुंची तो पुलिस ने गांव पहुंचकर दोनों कार्यो को रूकवा दिया। आरोप है कि उपरोक्त लोग उनके समाज के लोगों के साथ मारपीट की फिराक में है व उन पर कभी भी चढ़ाई कर सकते है। इसलिए आरोपियों के विरूद्ध कानूनी कार्रवाई की मांग की है। प्रदर्शन करने वालों में ओमी, राकेश, वीर सिंह, गंगासरन, रघुवीर, धीर सिंह, समरपाल आदि शामिल थे।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s