दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 19.07.15

स्कूल टीचर को किडनैप कर के जब कर पीटा, पेशाब पिलाया पंजाब केसरी

http://punjab.punjabkesari.in/news/article-379383

छात्रा की दुष्कर्म के बाद गला रेतकर हत्या अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/aligarh/aligarh-hindi-news/student-rep-after-murder-hindi-news/

दलितों को हथियार दो: आठवले नवभारत टाइम्स

http://navbharattimes.indiatimes.com/metro/mumbai/politics/Dalits-arm-Athavale/articleshow/48126426.cms

दलितों और जाटों में हिंसा, युवक की मौत दैनिक ट्रिब्यून

http://dainiktribuneonline.com/2015/07/

मालती की हत्या के मामले में दो गिरफ्तार दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/jaunpur-12616028.html

महिला का अपहरण, चार के विरुद्ध मुकदमा दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/farrukhabad-12614305.html

जिम्मेदारों की लापरवाही से ही बदसूरत हो गई गांव की तस्वीर दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/basti-12615519.html

छूटे दलित छात्र-छात्राओं को मिलेगी छात्रवृत्ति दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/kannauj-12616970.html

Please Watch :

Nonadanga Activist Says: “Upper Caste Bengalis Call Dalits Pigs When We Assert”

https://www.youtube.com/watch?v=p3BLyt6z4TM

पंजाब केसरी

स्कूल टीचर को किडनैप कर के जब कर पीटा, पेशाब पिलाया

http://punjab.punjabkesari.in/news/article-379383

अमृतसर (कमल, रणजीत): आर.टी.आई. एक्टीविस्ट एवं स्कूल टीचर को लैंड माफिया द्वारा किडनैप कर बुरी तरह से मारा-पीटा गया। उसे पेशाब पिलाने का गंभीर मामला राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के सामने आया है। 

आयोग के उपाध्यक्ष डा. राजकुमार वेरका ने मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस प्रशासन को 7 दिन के अंदर-अंदर सभी आरोपियों को पकडऩे के निर्देश दिए हैं। पुलिस ने आयोग की फटकार के बाद 4 आरोपियों को पकड़ लिया है, जबकि बाकी आरोपियों को पकडऩे के लिए धरपकड़ की जा रही है।

पीड़ित को आयोग ने पुलिस सिक्योरिटी और मुआवजे के तौर पर 1.08 लाख रुपए दिलवाए हैं। राजस्थान के जैसलमेर के गांव रणायु के रहने वाला बाबू राम नेगवाल एक आर.टी.आई. एक्टीविस्ट एवं स्कूल टीचर है। बाबू राम ने 2010 से आर.टी.आई. द्वारा दलितों की जमीन को गैर-कानूनी तरीके से हड़पने वाले लैंड माफिया का पर्दाफाश किया था और 24 एफ.आई.आर. दर्ज करवाई थीं। 

लैंड माफिया बाबू राम से बहुत परेशान था, इन माफिया लोगों के साथ कई सीनियर पुलिस ऑफिसर भी मिले हुए थे। बाबू को लगातार धमकियां भी दी जा रही थीं, जिसकी बाबू राम ने हमेशा पुलिस को जानकारी भी दी। 11 जुलाई को बाबू राम अपने स्कूल से हैडमास्टर के साथ मोटरसाइकिल पर अपने घर की तरफ जा रहा था कि तभी एक बोलैरो गाड़ी में माफिया लोगों ने बाबू राम का अपहरण कर लिया और उसे सुनसान जगह पर ले गए।

बाबू राम ने बताया कि पहले उसे जमकर पीटा गया, उसके हाथ व टांग तोड़ दिए गए और उसे जबरन पेशाब पिलाया गया। उसके मुताबिक उसका जान से मारने के लिए ही अपहरण किया गया था, इसलिए उसने बेहोश होने का नाटक किया और माफिया लोग आपस में बात करते रहे कि इसको नहर में फैंक दें। एक ने कहा कि जला दें और एक ने कहा कि यह तो यहीं मर जाएगा, इसे छोड़ दो। तभी सब चले गए और उसकी जान बच गई। 

अपनी जान बचाने के लिए वह गुजरात के जिला पालनपुर के अस्पताल में जाकर दाखिल हुआ। उसकी टांग और पैर जख्मी हो गया था। आयोग ने अपनी टीम को तुरंत मौके पर भेजा। उन्होंने राजस्थान के आई.जी. से बात की और 7 दिन के अंदर-अंदर सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए।

25 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। आयोग के कहने पर बाबू राम को सिक्योरिटी भी दी गई है। उन्होंने बताया कि अगर पुलिस आयोग द्वारा दिए गए समय के अंदर-अंदर कोई कार्रवाई नहीं करती तो आयोग पुलिस के उच्च अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करेगा।

अमर उजाला

छात्रा की दुष्कर्म के बाद गला रेतकर हत्या

http://www.amarujala.com/news/city/aligarh/aligarh-hindi-news/student-rep-after-murder-hindi-news/

अलीगढ़। महानगर के आगरा रोड स्थित गांव नगला मंदिर में शनिवार शाम एक पड़ोसी रिश्ते के मामा ने 13 वर्षीय छात्रा की दुष्कर्म के बाद गला रेतकर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी अपनी मां के साथ लाश को बेड के नीचे छिपाकर गायब हो गया। कुछ घंटे बाद जब आरोपी के मकान के जंगले से खून की गंध बाहर आई तो लोगों को शक हुआ। तब दरवाजा तोड़कर देखा गया तो बेड के नीचे नंगी लाश पड़ी थी और एक बाल्टी व पारात में खून भरा पड़ा था।

खबर पर दौड़ी पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। आरोपी के प्रति ग्रामीणों में आक्रोश है। आगरा रोड बाईपास पर बसे दलित आबादी वाले गांव नगला मंदिर में एक दलित परिवार मजदूरी करता है। घर में माता-पिता व बड़े बेटे के अलावा छोटी  बेटी जो गांव के ही स्कूल में छठवीं क्लास में पढ़ती थी। इनके पड़ोसी मकान में एक रिश्तेदार भी रहता है।

करीब 30 वर्षीय विवाहित रिश्तेदार की पत्नी विवाद के चलते मायके में रह रही है। यहां आरोपी व उसकी बुजुर्ग मां रहती है। वाकया शाम करीब 4 बजे का है, जब आरोपी ने अपनी पड़ोसन किशोरी को दुकान से कुछ सामान मंगाने के बहाने अपने घर बुलाया और उसके बाद अंदर ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। इस दौरान विरोध व चीखने-चिल्लाने पर शिकायत के भय से धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी। बाद में लाश को बेड के नीचे छिपाया और कमरे में बिखरे खून की पानी से सफाई करते हुए एक बाल्टी व परात में भरकर मां के साथ गायब हो गया।

करीब 7 बजे तक जब किशोरी घर नहीं लौटी और आरोपी का दरवाजा बाहर से बंद देखा तो कुछ शक हुआ। इसी बीच किशोरी के भाई को आरोपी के घर के जंगले से खून की गंध आई। बस इस पर दरवाजा तोड़कर देखा तो अंदर का नजारा देख सभी की आंखें फटी रह गईं। कुछ ही देर में खबर पूरे गांव में फैल गई और सूचना पर मडराक पुलिस, सीओ इगलास, एसपीआरए और बाद में एसएसपी जे रविंदर गौड़ भी पहुंच गए। आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। शव पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया।

मौके से पुलिस ने फॉरेंसिक टीम की मदद से सभी साक्ष्य जुटाए। आरोपी पासू पुत्र लालाराम की तलाश के लिए उसकी रिश्तेदारियों और संभावित ठिकानों की जानकारी कर पुलिस ने दबिश देना भी शुरू कर दिया। एसपीआरए संसार सिंह के अनुसार प्रथम दृष्टया दुष्कर्म होना प्रतीत हो रहा है। गला रेता गया है। मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

नवभारत टाइम्स

दलितों को हथियार दो: आठवले

http://navbharattimes.indiatimes.com/metro/mumbai/politics/Dalits-arm-Athavale/articleshow/48126426.cms

प्रसं, मुंबई : दलित अत्याचार रोकने के लिए रिपब्लिकन नेता रामदास आठवले ने दलितों को हथियारों के लाइसेंस दिए जाने की मांग की है। वे शनिवार को एक प्रेस सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह कठोर यथार्थ है कि महाराष्ट्र में भी दलितों के खिलाफ भी जवखेड़ा, खऱडा और खैरलांजी जैसे कांड हो रहे हैं। देशभर में हर दिन 27 दलितों पर अत्याचार की घटनाएं होती हैं। हर रोज तीन महिलाओं पर बलात्कार होता है। हर सप्ताह 11 दलितों पर हमले होते हैं और 13 दलितों की हत्या होती है। उन्होंने बताया कि लगातार बढ़ रहे दलित अत्याचारों के विरोध में 27 जुलाई की दोपहर उनकी आरपीआई पार्टी मुंबई के आजाद मैदान में प्रदर्शन करेगी।

दैनिक ट्रिब्यून

दलितों और जाटों में हिंसा, युवक की मौत

http://dainiktribuneonline.com/2015/07/

जिले के धरौदी गांव में पंचायती जमीन पर बीपीएल परिवारों के लिए प्लाट काटने के मामले को लेकर  शनिवार को जाट और दलित समुदाय के लोग आपस में भिड़ गये, जिसमें एक युवक की मौत हो गई, जबकि कई लोग घायल हो गये। युवक की मौत से गुस्साये लोगों ने न केवल नरवाना-टोहाना मार्ग पर जाम लगा दिया, बल्कि हरियाणा रोडवेज की एक बस को फूंक डाला। आरोप है कि युवक की मौत के बाद भड़के लोगों ने दलितों के घरों पर हमला किया और उनकी महिलाओं और बच्चों से मारपीट की। घटना के बाद क्षेत्र की खाप पंचायतों के प्रतिनिधि भी गांव में जुटना शुरू हो गये हैं।

उधर, भय के चलते दलित समुदाय के कई लोग भूमिगत हो गये हैं। बताया गया है कि गांव से करीब 2 दर्जन दलित लोगों ने पलायन कर लिया है। परंतु पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है। तनाव को देखते हुए डीएसपी नरवाना के नेतृत्व में गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। धरौदी गांव में करीब डेढ़ सौ बीपीएल परिवारों को सौ-सौ गज के प्लाट आवंटित किये गये हैं, लेकिन कुछ दबंग परिवारों द्वारा उनकी जमीन पर कब्जा किया हुआ है। इसकी शिकायत पीड़ित लोगों ने शुक्रवार को जींद पहुंचे राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के सदस्य ईश्वर सिंह को भी की।

SAMSUNG CAMERA PICTURES

SAMSUNG CAMERA PICTURES

आयोग के निर्देश पर शनिवार को बीडीपीओ सुुुरेंद्र कुमार पुलिस के साथ उस जमीन को साफ करवाने गए थे, जिसमें बीपीएल परिवारों को प्लाट दिये जाने हैं, लेकिन वहां पर कई दबंग लोगों को इस जमीन पर प्लाट काटने को लेकर एतराज था। इस जमीन से बाजरे की फसल को हटाने के लिए ट्रैक्टर चलाया गया, जिससे दोनों गुटों में झगड़ा हो गया।

पुलिस की मौजूदगी में ही देखते ही देखते यह झगड़ा हिंसा में बदल गया। दोनों गुटों ने एक-दूसरे पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिये। बताया गया है कि इसी दौरान जाट समुदाय के 26 वर्षीय युवक बिक्रम को चाकुओं से गोद डाला गया, जिससे उसकी मौत हो गयी। इसी गुट के संदीप को भी चाकू लगे हैं। दूसरे गुट के सुखीराम सहित कई लोगों के चोटें बताई गई हैं।

युवक की मौत से गुस्साये लोगों ने आरोपियों एवं पुलिस कर्मचारियों पर भी कार्रवाई करने की मांग को लेकर दोपहर बाद गांव में जाकर जाम लगा दिया। जाम के समय गांव में पहुंची रोडवेज की बस को लोगों ने आग के हवाले कर दिया। हरियाणा रोडवेज की बस नरवाना से वाया धमतान नारायणगढ़ जा रही थी। ग्रामीणों ने बस को रोककर सवारियों को बस से उतार दिया और उसके बाद आग लगा दी। धरौदी में झगड़े की सूचना पर डीएसपी आदर्शदीप सिंह के नेतृत्व में पुलिस बल मौके पर पहुंचा और स्थिति को नियंत्रित करने का प्रयास किया, लेकिन लोगों में भारी गुस्सा है। पुलिस को माहौल को शांत करने में काफी संघर्ष करना पड़ा। लोगों में इस मामले काे लेकर बड़ा राेष है। इसके चलते उन्हें समझाने में बड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है।

धरोदी गांव के सरपंच महेंद्र पूनिया ने कहा कि गांव के 146 बीपीएल परिवारों के प्लाट इस जगह पर कटने हैं। उन्हीं का कब्जा दिलवाने के लिए प्रशासन गांव में पहुंचा था, लेकिन गांव के कुछ लोगों ने इसका विरोध कर दिया। इससे कई लोग घायल हो गए हैं। कुछ लोग इस पंचायती जमीन को हड़पना चाहते हैं। इसी कारण प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में यह हमला हुआ।

पुलिस को लिखित शिकायत नहीं

डीएसपी आदर्शदीप सिंह ने बताया कि धरौदी में पंचायती जमीन पर बीपीएल परिवारों के लिए प्लाट काटने को लेकर 2 गुटों में झगड़ा हो गया, जिसमें चाकू चलने से एक युवक की मौत हो गई, जबकि एक युवक घायल हो गया। फिलहाल किसी के खिलाफ कोई कार्रवाई करने के लिए शिकायत नहीं दी गयी है।

दैनिक जागरण

मालती की हत्या के मामले में दो गिरफ्तार

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/jaunpur-12616028.html

शाहगंज (जौनपुर): मालती हत्याकांड में कोतवाली पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर उनका चालान न्यायालय प्रेषित कर दिया।

शुक्रवार को कौड़िया गांव में दलित मालती देवी की धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में मृतका के पुत्र पंकज गौतम की तहरीर पर चेयरमैन जितेंद्र ¨सह, कौड़िया गांव निवासी प्रदीप यादव, पति समुझ, सौतेला पुत्र मुकेश व सुशील उर्फ ¨पटू, सोमारू, रोशन, भोला, कुमारी रेनू, संजय, ¨रकू व भानुमती के खिलाफ हत्या व हत्या की साजिश का मुकदमा दर्ज किया गया। पुलिस ने आरोपियों में से रेनू व भानुमती को गिरफ्तार करके शनिवार को उनका चालान न्यायालय को प्रेषित कर दिया।

दैनिक जागरण

महिला का अपहरण, चार के विरुद्ध मुकदमा

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/farrukhabad-12614305.html

कायमगंज, संवाद सहयोगी : कोतवाली क्षेत्र के गांव अहमदगंज में चचेरी बहन के साथ खेत में गयी विवाहिता को चार लोग जबरन उठा ले गये। चचेरी बहन के चिल्लाने पर ग्रामीण व परिजन पहुंचे। पिता ने दो नामजद व दो अज्ञात लोगों के विरुद्ध अपहरण की रिपोर्ट दर्ज करायी।

अहमदगंज की एक 20 वर्षीय युवती की शादी एक वर्ष पहले गांव कासगंज जिले के थाना सिकंदरपुर वैश्य क्षेत्र के गांव बघराई में हुई थी। वह कुछ दिन पहले मायके अहमदगंज में आयी थी। शुक्रवार रात वह अपनी 13 वर्षीय चचेरी बहन के साथ खेत पर गयी थी। तभी अहमदगंज निवासी भूरे व रामलडै़ते व दो अज्ञात लोग विवाहिता युवती को उठा ले गए। साथ गयी बालिका के शोर मचाने पर अपहर्ताओं ने तमंचे से फायर कर दिया। जानकारी होने पर परिजन व ग्रामीण पहुंच गए। युवती की तलाश की गयी, लेकिन जब उसका पता नहीं लगा तो रात परिजन सूचना देने कोतवाली पहुंचे। युवती के अपहरण की सूचना पर पुलिस हरकत में आ गई। सभी थानों को वायरलेस पर एलर्ट किया गया। रात में ही चे¨कग की गई। लेकिन कहीं कुछ पता नहीं चला। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक रूम ¨सह यादव ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जांच कर कार्रवाई की जायेगी।

अपहृत युवती के भाई व अन्य परिजनों से आरोपी भूरे के परिजनों में 21 मई को मारपीट हुई थी। भूरे के भाई फौजदार ने युवती के भाई सहित 7 लोगों के विरुद्ध मारपीट व दलित उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कराया था। तभी से दोनों परिवारों के बीच रंजिश चल रही है। इस मुकदमे में युवती का भाई एक सप्ताह पहले गिरफ्तार हुआ था।

दैनिक जागरण

जिम्मेदारों की लापरवाही से ही बदसूरत हो गई गांव की तस्वीर

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/basti-12615519.html

बस्ती : जिम्मेदारों की लापरवाही के चलते पड़री गांव की तस्वीर बदसूरत हो गई। पिछले छह महीने से दो दर्जन से अधिक परिवारों को बदहाली का जीवन व्यतीत करना पड़ रहा है। गांव के मुख्य रास्ते पर जमा गंदा पानी, कीचड़ व उससे उठ रही बदबू संक्रामक रोगों को न्योता दे रही है।

सल्टौआ गोपालपुर विकास खंड के पड़री गांव के सौ परिवारों के लगभग एक हजार लोगों को जल निकासी समेत अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। मुख्य सड़क से दक्षिण होकर गांव में जाने वाली कच्ची सड़कें बरसात में मुसीबत का सबब बन गई हैं। दलित व पिछड़ी जाति की बस्ती की गलियों में भी खड़ंजा नहीं लगा है।

उपजिलाधिकारी लवकुश त्रिपाठी का कहना है कि समस्या संज्ञान में है। समाधान के लिए प्रयासरत हूं। दुर्गध से गांव में रहना मुश्किल जलनिकासी की व्यवस्था न होने से पूरे गांव का पानी दक्षिण तरफ मुख्य रास्ते पर पिछले छह महीनों से भरा है। मुख्य मार्ग पर जलजमाव, कीचड़ व दुर्गध से लोगों का रहना दुश्वार हो गया है। घरों से निकलने वाले छोटे-छोटे बच्चे उसी गंदे पानी व कीचड़ में गिर कर चोटहिल हो रहे है। गांव की सभी गलियां बजबजा रही हैं, जिससे पूरे गांव के लोग दुर्गध भरे माहौल में जीने को विवश हैं।

तहसील व थाना दिवस पर कर चुके हैं फरियाद समस्या समाधान के लिए ग्रामीण पिछले छह महीने से तहसील दिवस व थाना दिवस पर चक्कर लगा रहे हैं। उनकी शिकायत के बावजूद जिम्मेदारों ने समस्या के समाधान के लिए कुछ नहीं किया। जलनिकासी की समस्या के समाधान के लिए तत्कालीन तहसीलदार जंगबहादुर यादव व थानाध्यक्ष सोनहा मौके पर गए थे पर समस्या का समाधान नहीं हो सका।

फ्यूज हो गए स्ट्रीट लैंपों के बल्ब ग्राम पंचायत द्वारा अंधेरा दूर करने के लिए गांव के विद्युत पोलों पर स्ट्रीट लैंप लगवाया गया था। ग्रामीणों का कहना है कि लगने के कुछ ही दिनों बाद सभी बल्ब फ्यूज हो गए। तबसे किसी ने इनको बदलने की सुध नहीं ली।

ग्रामीणों ने बताई पीड़ा

गांव के चन्दन शर्मा, ओमनाथ शर्मा, रामपाल, विश्वनाथ, राजकुमार, शैलेश आदि का कहना है कि गांव में समस्याएं ही समस्याएं हैं, पर सबसे बड़ी समस्या जलनिकासी की है। मुख्य रास्ते पर छह महीनों से पानी भरा है जिससे उन्हें नारकीय जीवन जीना पड़ रहा है। समस्या समाधान के लिए उपजिलाधिकारी, तहसीलदार, खण्ड विकास अधिकारी व थानाध्यक्ष से फरियाद कर चुके हैं। आश्वासन तो सबने दिया, पर निवारण किसी ने नहीं किया।

दैनिक जागरण

छूटे दलित छात्र-छात्राओं को मिलेगी छात्रवृत्ति

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/kannauj-12616970.html

कन्नौज, जागरण संवाददाता : शासन के नवीन आदेश से दशमोत्तर में अनुसूचित जाति के छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूíत से वंचित छात्र-छात्राओं को सीधा लाभ मिलेगा। इसमें छह ¨बदुओं की शर्त पूरी करने वाले छात्रों को लाभान्वित किया जाएगा। इस मामले में डीआईओएस से 27 जुलाई तक कालेज व महाविद्यालयों से ऐसे छात्रों की सूची मांगी गई है।

जिला समाज कल्याण अधिकारी शैलेन्द्र गौतम ने जिला विद्यालय निरीक्षक को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने कहा कि दशमोत्तर में अनुसूचित जाति के वह छात्र जो छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूíत से वंचित कर दिए गए। उन्हें नवीन आदेश के बाद लाभान्वित किया जाएगा। इसमें यह तय कि जाए कि शासन से निर्धारित किए गए छह ¨बदुओं को वह छात्र पूरा कर रहे हैं। उन्होंने डीआईओएस से सभी कालेज व महाविद्यालयों से 27 तक सूची मंगवाकर कार्यालय को उपलब्ध कराने को कहा है, जिससे छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूíत की अग्रिम कार्रवाई की जा सके। विभाग के मुताबिक नवीन आदेश का जनपद के करीब ढाई हजार छात्र-छात्राओं को लाभ मिलेगा।

इन छात्र-छात्राओं की मांगी गई सूची

गलत आईएफएस कोड व गलत खाता संख्या भरने वाले छात्रों की सूची।

ऐसे छात्र जिनके स्टेटस में धनराशि स्वीकृत है ¨कतु बैंक खातों में अंतरित नहीं हुई है।

ऐसे छात्र जिनमें बैंक द्वारा सीपीएमएस मास्टर की आपत्ति प्रदर्शित हो रही है।

ऐसे माता-पिता जिनके दो या इससे अधिक बच्चे हैं और उनके आय प्रमाण पत्र के आधार पर छात्रवृत्ति निरस्त कर दी गई हो।

ऐसे छात्र जिनका आय व जाति प्रमाण पत्र तहसील से जारी होने के बाद सत्यापित हो गया लेकिन राजस्व परिषद की वेबसाइट साइट पर शो नहीं कर रहा है।

24 तक प्राप्त कर लें पासवर्ड

जिला समाज कल्याण अधिकारी ने कहा कि नवीन शैक्षिक सत्र में जिन नवीन शैक्षिणिक संस्थानों ने अभी तक आईडी व पासवर्ड प्राप्त नहीं किया है। वह 24 जुलाई तक हरहाल में इसे प्राप्त कर लें। ऐसा न करने पर उन्होंने अध्ययनरत छात्र-छात्राओं द्वारा ऑनलाइन आवेदन करने के बाद भी छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूíत का लाभ नहीं मिल सकेगा।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s