दलित मीडिया वाच – हिंदी न्यूज़ अपडेट 14.07.15

दलित मीडिया वाच

हिंदी न्यूज़ अपडेट 14.07.15

 

छेड़खानी का विरोध करने पर दबंगों ने महिला के हाथ-पैर काटे – आई बी एन खबर 7

http://khabar.ibnlive.com/news/city-khabrain/attack-on-woman-in-mp-390797.html

रेप के बाद ढाई लाख रुपए लेकर समझौता करने का दबाव – पत्रिका

http://www.patrika.com/news/bareilly/pressure-to-compromise-on-money-1068578/

दबंगों का टूटा कहर, दलित महिलाओं को जम कर पीटा – पंजाब केसरी

http://www.punjabkesari.in/news/article-378129

मौत पर मुआवजे का मरहम – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/bihar/kaimoor-12591182.html

जमीनी विवाद में दलित पर हमला – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/lalitpur-12594541.html

दलित युवक की मौत पर परिजनो ने पुलिस पर लगाया लापरवाही का आरोप – पर्दा फाश

http://hindi.pardaphash.com/news/–782906/782906.html#.VaSqk1-qqko

मंदिर में पूजा करने को लेकर मारपीट, प्राथमिकी दर्ज – प्रभात खबर

http://www.prabhatkhabar.com/news/aurangabad/story/515865.html

सुनवाई कार्यक्रम में सुनाई व्यथा – दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/deoria-12592668.html

मुरैना गांव के मुद्दों को लेकर ग्रामीणों ने घेरा कलेक्टोरेट – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/morena-morena-news-423001

पुलिसिया कहर का शिकार ने खोला सरकार खिलाफ मोर्चादैनिक जागरण

http://www.jagran.com/punjab/amritsar-12594768.html

पुलिया तोड़कर कब्जा करने का प्रयास, विरोध में प्रदर्शन – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/mirzapur/mirzapur-hindi-news/breaking-culvert-attempt-to-capture-display-virodha-hindi-news/

Please Watch:

Delhi Dalit Budget ka Paisa wapas karo…..2015

https://www.youtube.com/watch?t=120&v=CUU48k3vGfw

आई बी एन खबर 7

छेड़खानी का विरोध करने पर दबंगों ने महिला के हाथ-पैर काटे

http://khabar.ibnlive.com/news/city-khabrain/attack-on-woman-in-mp-390797.html

सतना। मध्य प्रदेश के सतना में एक दिलदहलाने वाली वारदात हुई है। दबंगों ने एक दलित महिला के हाथ-पैर कुल्हाड़ी से काट दिए हैं। महिला का दबंगों से बकरी चराने को लेकर विवाद हो गया था। महिला अस्पताल में भर्ती है और उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

satna

पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, आरोपी का कहना है कि बकरी चराने के लिए महिला को मना किया था जिसके बाद विवाद हुआ, वहीं महिला का कहना है कि दबंगों ने उसके साथ छेड़छाड़ की और जब उसने विरोध किया तो उसके हाथ पैर काट दिए गए।

वहीं इस मामले पर राजनीति भी शुरु हो गई है, कांग्रेस ने शिवराज सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस का कहना है कि एमपी में लोगों की जिंदगी की कोई कीमत नहीं है यहां दबंगों और बदमाशों का बोलबाला है। सरकार का सिर्फ पैसा कमाने से सरोकार है।

पत्रिका

रेप के बाद ढाई लाख रुपए लेकर समझौता करने का दबाव

http://www.patrika.com/news/bareilly/pressure-to-compromise-on-money-1068578/

बरेली। कैंट के जंगल में महिला से हुए दुष्कर्म के मामले में महिला की आबरू की कीमत ढाई लाख रुपये लगाई गई है। सूत्रों की मानें तो आरोपी समझौते का पूरा प्रयास कर रहे हैं जिसके चलते पीड़िता भी बार-बार बयान बदल रही है। दो दिन पूर्व कैंट के जंगल में सुभाष नगर थाने के पास रहने वाली दलित महिला से दुष्कर्म किया गया था। महिला अपनी खोई गाय ढूंढने कैंट की लोको कॉलोनी गई थी।

phpThumb_generated_thumbnail (2)

आरोप है कि वहां घूम रहे छह लफंगों ने महिला को जंगल में भेजा और वहां घेरकर दुष्कर्म किया। इस दौरान महिला के जेठ से मारपीट भी की गई। मामले में संजू नाम के एक नामजद समेत छह के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई। कैंट पुलिस ने तीन आरोपियों को हिरासत में लिया है। सोमवार को मामले की जांच कर रही सीओ चतुर्थ स्नेहलता ने घटनास्थल पर जाकर जांच-पड़ताल की। वहीं दूसरी ओर रिपोर्ट दर्ज होने के बाद आरोपी पक्ष के लोगों ने समझौते के प्रयास शुरू कर दिए हैं। इसके लिए बीच में पड़े लोगों ने समझौता के लिए ढाई लाख रुपये कीमत लगाई है।

पंजाब केसरी

दबंगों का टूटा कहर, दलित महिलाओं को जम कर पीटा

http://www.punjabkesari.in/news/article-378129

गुड़गांव (राशि मनचंदा): गुड़गांव के राजीव नगर जाखड़ मार्किट में दबंगों द्वारा दलित समाज के महिलाओं से मारपीट करने की घटना सामने आई है।

जानकारी के मुताबिक एक युवक और 3 दलित समाज की महिलाओं को लाठी डंडो से पीटा गया, महिलाओं और युवक को सामान्य अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहा युवक को गंभीर चोट लगने से सबदरजंग रैफर कर दिया गया था।

LONDON, UNITED KINGDOM - JULY 17:  Britain's Prime Minister David Cameron answers a question during a joint news conference with Italy's Prime Minister Enrico Letta in 10 Downing Street on July 17, 2013 in London, England. Mr Letta is here on a two-day visit and will later meet with Labour Party leader Ed Miliband at the Italian Embassy in London.  (Photo by Andrew Winning - WPA Pool/Getty Images)

LONDON, UNITED KINGDOM – JULY 17: Britain’s Prime Minister David Cameron answers a question during a joint news conference with Italy’s Prime Minister Enrico Letta in 10 Downing Street on July 17, 2013 in London, England. Mr Letta is here on a two-day visit and will later meet with Labour Party leader Ed Miliband at the Italian Embassy in London. (Photo by Andrew Winning – WPA Pool/Getty Images)

इस मामले की सूचना सदर थाने गुड़गांव पुलिस को दी गई तो गुड़गांव पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए मौके पर जाकर जांच में जुट गई और पीड़ित दलित समाज की महिलाओं की शिकायत पर विभिन धाराओ 148,149 ,323 ,354 341 व SC, ST एक्ट के तहत मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है।

दरअसल पूरा मामला दबंगाई का है, जहां राजीव कोलीनी के ये दलित परिवारों के घर है। पीड़ितों का आरोप है कि ये परिवार के लोग हमारी बहु-बेटियों को आते-जाते जाति सूचक शब्द व छेड़खानी करते है और अपमानित करते है।

पुरे मामले को इस कदर जन्म दिया गया है कि जब गली में भरे वर्षा के पानी से दलित समाज के लोग घर की थड़ी पर से गुजरते है तो इनको महिलओं के साथ गाली-गलौज की जाती है। इस विवाद ने तूल पकड़ते हुए जब उनकी महिलाओं के साथ मारपीट की तो उनको बचाने आए और लोगों को भी लाठी डंडो के साथ पीटा गया।

दैनिक जागरण

मौत पर मुआवजे का मरहम

http://www.jagran.com/bihar/kaimoor-12591182.html

कैमूर। गेहुंआ दुर्घटना में मृत महिलाओं के परिजनों को सोमवार को जिला प्रशासन द्वारा अनुग्रह राशि का चेक प्रदान किया गया। सीओ ने स्वयं पीड़ित परिवार से मिलकर राशि का चेक प्रदान किया। जिला प्रशासन की पहल से 48 घंटे के अंदर अनुग्रह राशि मिलने से पीड़ित परिवार के जख्मों पर मरहम जरूर लगा, लेकिन दर्द कितना कम हुआ कहा नहीं जा सकता।

13_07_2015-13bhu08p-c-2

विदित हो कि थाना क्षेत्र के चौरी पंचायत के गेहुआं गांव में शनिवार की गांव के गली में जर्जर मकान की दीवार गिरने से शौच से लौटते समय दो महिलाओं व एक बालिका की मौत हो गई। इस घटना में शंकर सिंह की पत्‍‌नी सुशीला देवी, विनोद सिंह की पत्‍‌नी आशा देवी तथा उनकी पुत्री 12 वर्षीय ज्योति कुमारी की मौत हो गई तथा बिजेन्द्र सिंह की पत्‍‌नी माया देवी घायल होकर चंदौली के एक अस्पताल में जीवन व मृत्यु के बीच संघर्ष कर रही है। घटना की जानकारी होते ही डीएम प्रभाकर झा व एसपी एम सुनील कुमार नायक ने रात में ही मौके पर पहुंचकर न सिर्फ लोगों के दर्द को बांटा बल्कि तत्काल व्यवस्था कराकर शव का पोस्टमार्टम भी कराया। साथ ही तत्काल आर्थिक सहायता मुहैया कराने का वायदा भी किया।

वायदा के अनुसार जिलाधिकारी ने घटना की सूचना सरकार को देते हुए अनुग्रह राशि देने की स्वीकृति प्राप्त की। उनके निर्देश पर सोमवार को सीओ चांद मनोज कुमार दुबे ने गेहूआं गांव पहुंचकर मृत सुशीला देवी के पति शंकर सिंह, मृत आशा देवी के पति विनोद सिंह व मृत ज्योति कुमारी के पिता विनोद सिंह को प्रति मृतक चार – चार लाख का चेक प्रदान किया। इस मौके पर अन्य ग्रामीण व प्रतिनिधि मौजूद थे। पीड़ित परिवार के प्रति प्रशासन की पहल को आम लोग भी सराह रहे हैं।

ब्रजेश कुमार, भभुआ: गेंहुंआ की घटना के बाद जिला प्रशासन ने रिस्पांस दिखाते हुए पीड़ित परिवार को अनुग्रह राशि 48 घंटे के अंदर उपलब्ध करा दी। विदित हो कि गत 13 माह में मकान या दीवार गिरने से 13 लोगों की मौत हुयी है। प्रशासन ने हर बार पीड़ित परिवार को अनुग्रह राशि उपलब्ध करा अपने कर्तव्य की इति श्री मान ली। भविष्य में इस तरह की दुर्घटना ना हो इसे ले कोई पहल नहीं हुयी। अप्रैल माह में आये भूकंप के बाद आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा जिले भर में क्षतिग्रस्त घरों को चिंहित करने की बात कही गयी। सभी सीओ प्रखंडों के सीओ को निर्देश भी जारी किया गया। परंतु इस दिशा में क्या कार्यवाही हुयी, इसे बताने में अधिकारी टाल-मटोल करते नजर आते हैं।

विदित हो कि गत 21 जून 2014 को भभुआ प्रखंड के खैरा गांव में एक शादी समारोह में छत का छज्जा गिरने से छह लोगों की मौत हो गयी थी। वही भभुआ नगर के वार्ड 14 में गत मार्च में घर का छज्जा गिर जाने से चार लोगों की मौत हो गयी थी। जबकि 11 जून की रात्रि चांद थाना के गेहुंआ गांव में दीवार गिरने से एक बच्ची समेत तीन महिलाओं की मौत हो गयी।

प्रशासन ने इन मामलों में मुआवजे का मरहम तो लगाया, परंतु फिर इस तरह की घटना ना हो इस दिशा में कुछ करते नहीं दिखा। वार्ड 14 के महादलित बस्ती में कई मकान क्षतिग्रस्त है परंतु उन्हें आज तक चिंहित नहीं किया गया। गेहुंआ गांव में भी कई मकान गिरने की स्थिति में हैं, परंतु उन्हें ले कोई चिंता प्रशासनिक अमले में नहीं दिखती।

मकान छोड़िए यहां स्कूल व आंगनबाड़ी केंद्र तक क्षतिग्रस्त मकानों में चल रहे हैं। गेहुआं गांव में एक निजी विद्यालय तक क्षतिग्रस्त भवन में चल रहा है, वही शहर के वार्ड सात के दलित बस्ती में आंगनबाड़ी केंद्र क्षतिग्रस्त मिट्टी के मकान में चल रहा है। परंतु इसे ले कोई सचेत नहीं दिख रहा है। यदि कोई दुर्घटना होती है तो फिर क्या मुआवजा बंटेगा। कोई इन रहनुमाओं से पूछे कि जान की क्या कोई कीमत होती है, या जीवन अब अनमोल नहीं रहा!

दैनिक जागरण

जमीनी विवाद में दलित पर हमला

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/lalitpur-12594541.html

थाना बार अन्तर्गत ग्राम कारीटोरन में जमीनी विवाद के चलते एक ग्रामीण की घर में घुसकर मारपीट कर दी गयी। हमलावरों ने परिजनों को भी पीटा। कोर्ट के आदेश पर थाना बार पुलिस ने 5 हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

थाना बार अन्तर्गत ग्राम कारीटोरन निवासी सुखदीन पुत्र भुल्ले ने न्यायालय को दिये प्रार्थनापत्र में बताया कि गाँव के ही कुछ व्यक्तियों से उसका जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। इसी के चलते 19 अप्रैल को गाँव के ही ईश्वरदास, अजय, नन्दलाल पुत्रगण शिवलाल, शिवलाल पुत्र गुमान, पर्वत सिंह पुत्र रिकी उसके घर आये और गालीगलौज करने लगे। पीड़ित के विरोध करने पर आरोपियों ने लाठी-डण्डों से हमला बोल दिया।

चीखपुकार सुनकर मौके पर आये परिजनों ने बचाने का प्रयास किया, तो आरोपियों ने उनके साथ भी मारपीट की। बाद में आरोपी जातिसूचक शब्दों से अपमानित कर जान से मारने की धमकी देकर भाग गये। घटना के बाद जब वह थाना बार पहुँचा, तो पुलिस ने कार्यवाही नहीं की। न्यायालय के आदेश पर थाना बार पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 147, 148, 323, 452, 504, 506 व 10 एससी एसटी ऐक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया।

पर्दा फाश

दलित युवक की मौत पर परिजनो ने पुलिस पर लगाया लापरवाही का आरोप

http://hindi.pardaphash.com/news/–782906/782906.html#.VaSqk1-qqko

लखीमपुर-खीरी। जिले के थाना भीरा इलाके के गाँव राम नगर मे गाँव के दबंगो द्वारा दलित युवक की पिटाई करने से उसकी मृत्यू हो गयी। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर शव को कब्जे मे लेकर जिला मुख्यालय भेजा है। वहीं परिजनो ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि अगर पुलिस कार्यवाही करती तो युवक की जान बच सकती थी। 

177596

जानकारी के मुताबिक थाना भीरा की पुलिस चौकी बिजुआ के अंतर्गत गाँव राम नगर मे शारदा पुत्र बालकराम रैदास की करीब 10 बीघा जमीन कई वर्ष पूर्व शारदा नदी मे कट गयी थी जिसके बाद से वह मेहनत मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण कर रहा था। मृतक की पत्नी सुरसुता के अनुसार शारदा नदी इस वर्ष कुछ हिस्सा छोड गयी हैं जिसमे गाँव के कई लोगो ने कब्जा कर लिया है। उसी मे मेरे पति ने भी करीब दो बीघा जमीन पर कब्जा कर पिछली 4 जुलाई को उसमे धान की रोपाई हेतु जुताई की थीे। उसी शाम पास मे रहने वाले सिक्ख किसान महेन्द्र सिंह के लडके बिटटू, निक्कू, कोना, उसके घर पर आये और धान की चोरी लगाते हुए घर से पकड कर पिटाई कर दी|

जिसकी लिखित तहरीर पुलिस चौकी बिजुआ मे दी थी लेकिन विरोधियो पर कार्यवाही के बजाय सुलह समझौता का दबाव बनाकर पुलिस ने कुछ रूपया दिलवाकर तथा इलाज कराने को कहकर सुलह समझौता करा दिया था मगर जब विपक्षी लोगो द्वारा इलाज नही कराया गया तब उसकी हालात ज्यादा बिगड गयी तो पुलिस ने आनन फानन मे 12 जुलाई को एनसीआर दर्जकर समुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिजुआ मे डाक्टरी हेतु लेकर पहुँची जहाँ पर चिकित्सक ने उसे जिला मुख्यालय ले जाने को कहा। आरोप है कि पुलिस ने सुबह मुख्यालय को लेकर चलने की बात कहकर होमगार्ड को उसके घर भेज दिया लेकिन रात मे ही उसकी मृत्यू हो गयी। पुलिस ने शव को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम हेतु भेजा है।

प्रभात खबर

मंदिर में पूजा करने को लेकर मारपीट, प्राथमिकी दर्ज

http://www.prabhatkhabar.com/news/aurangabad/story/515865.html

औरंगाबाद (कोर्ट). अभी भी मंदिर में पूजा पाठ करने को लेकर जात पात के नाम पर भेदभाव किया जा रहा है. यहीं कारण है कि मंदिर में पूजा करने गया दलित परिवार के युवक को स्वर्ण जाति के दो युवकों ने मारपीट की. 

साथ ही कपड़े को फाड़ दिया. यह घटना जम्होर थाना क्षेत्र के एक गांव में शनिवार की शाम में घटी है. इस घटना से संबंधित प्राथमिकी जगदीशपुर गांव के शशिकांत प्रसाद ने जम्होर थाना में दर्ज करायी है. उसमें अनूप सिंह, चंकी चौबे को नामजद आरोपित बनाया है.

दर्ज प्राथमिकी में उल्लेख किया है कि गांव के रास्ते से होकर जम्होर जा रहे थे, रास्ते में हनुमान मंदिर देख कर पूजा करने के लिए  वहां पहुंचे. वैसे ही दोनों आरोपित आकर मंदिर में पूजा करने पर मारपीट की. जम्होर थानाध्यक्ष सुरेश कुमार दास ने बताया कि शशिकांत प्रसाद के बयान पर दलित अत्याचार अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गयी है. थानाध्यक्ष ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर मामले की छानबीन की जा रही है. इधर आरोपित के परिजनों ने बताया कि साजिश के तहत इन दोनों का नाम प्राथमिकी में दिया गया है. गांव में न तो मारपीट की घटना घटी है और ना ही कोई विवाद हुआ है. यहां तो मंदिर में सभी जाति के लोग पूजा करते हैं.

दैनिक जागरण

सुनवाई कार्यक्रम में सुनाई व्यथा

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/deoria-12592668.html

देवरिया : सोशल डेवलपमेंट फाउंडेशन दिल्ली द्वारा जन सुनवाई कार्यक्रम सोमवार को जिला पंचायत सभागार में उ.प्र. लैंडएलायंस की अध्यक्ष सुमन ¨सह की अध्यक्षता में हुई। जनसुनवाई में जनपद के ग्रामीण अंचलों से भूमिहीन, दलित, मुसहर, पिछड़े एवं पसमांदा समाज की महिला व पुरुषों ने अपनी व्यथा को रखा।

मुख्य वक्ता के रूप में एसडीएफ के निदेशक विद्याभूषण ने कहा कि बहुत सी ऐसी छोटी-छोटी ग्रामीण समस्याएं है जिसमें सत्तर प्रतिशत स्थानीय समस्याएं स्थानीय स्तर पर अधिकारी अपने स्तर पर समाधान कर सकते हैं, लेकिन उनके अंदर ²ढ इच्छा शक्ति का अभाव है। सगीता कुशवाहा द्वारा क्षेत्र की समस्याओं पर गंभीरता पूर्वक अपनी बातों को रखते हुए कहा कि पट्टा है कब्जा नही है,और कब्जा है तो कागज नही है।

पात्रों को सरकारी योजनाओं का लाभ नही मिल रहा है। सपा जिलाध्यक्ष रामइकबाल यादव ने कहा कि हम ग्रामीण स्तर पर चौपाल लगाकर सक्षम अधिकारियों को बुलाकर पात्र व्यक्तियों को समाजवादी पेंशन, आवास, एवं पट्टे पर कब्जा दिलाने का आश्वासन दिया। कार्यक्रम का संचालन दीपमाला ने किया तथा आभार सुमन ¨सह ने व्यक्त किया।

इस दौरान जिला पंचायत सदस्य धर्मवीर गुप्ता, पूर्व जिला पंचायत सदस्य ओमप्रकाश यादव, डीपी बौद्ध, रामचंद्र प्रसाद, अदालत प्रसाद, धीरज, मुस्ताक, ओमप्रकाश, राजकुमार आदि मौजूद रहे।

नई  दुनिया

मुरैना गांव के मुद्दों को लेकर ग्रामीणों ने घेरा कलेक्टोरेट

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/morena-morena-news-423001

मुरैना गांव की विभिन्न समस्याओं को लेकर मुरैना गांव के ग्रामीणों ने सोमवार दोपहर को कलेक्टोरेट का घेराव किया। ग्रामीणों का नेतृत्व मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता कर रहे थे। कलेक्टोरेट गेट पर घेराव करीब एक घंटे चला। बाद में ग्रामीणों ने एसडीएम प्रदीप तोमर को समस्याओं का सामाधान करने के लिए ज्ञापन दिया।

कलेक्टोरेट पर घेराव करने वालो लोगों की मांग थी कि मुरैना गांव की दलित बस्ती में पानी का भराव हो गया है। इस पानी को निकाला जाए। गांव के सर्वे नंबर 990 पोखर में फर्जी तोर पर पट्टे दे दिए गए हैं।

इन पट्टों को निरस्त किया जाए। दलित बस्ती का पानी रोकने एवं दलितों से मारपीट करने वालों के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज करने की कार्रवाई की जाए। लभनपुर गांव के माता के मंदिर के पुजारी व परिवार तथा उसकी जमीन की सुरक्षा की जाए। साथ ही पुलिस सुरक्षा में जमीन की जुताई व बुवाई कराई जाए।

दैनिक जागरण

पुलिसिया कहर का शिकार ने खोला सरकार खिलाफ मोर्चा

http://www.jagran.com/punjab/amritsar-12594768.html

जागरण संवाददाता, तरनतारन : मार्च 2012 में विवाह समारोह में पहुंची गांव उस्मां की दलित लड़की हरबिंदर कौर उस्मां व उसके परिवार पर हुए पुलिसिया कहर का मामला ठंडा नहीं हो रहा। सड़क से संसद तक पहुंचे इस मामले ने उस समय नया तुल पकड़ लिया जब पीड़िता ने पंजाब सरकार खिलाफ मानसिक रूप से परेशान करने का आरोप लगाया।

पिता कश्मीर सिंह पूर्व फौजी की मौजूदगी में हरबिंदर कौर उस्मां ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सीआरपीएफ की सुरक्षा के साथ आने-जाने लिए गाडी पंजाब सरकार द्वारा दी गई थी ंवह वापस ले ली गई है। इस कारण वह पढ़ाई छोड़ने के लिए मजबूर हो गई है। उसको प्रशासन द्वारा गाड़ी मुहैया नहीं करवाई गई। उसने कहा कि सुरक्षा कारण उसके पिता व भाई को भी कोई काम नहीं मिल रहा। जिस कारण आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है।

हरबिंदर कौर ने आरोप लगाया कि पंजाब सरकार मानसिक परेशान करने लिए यह किया जा रहा है। उसने कहा कि मेरे पर अत्याचार करने समय थाना सिटी तरनतारन में तैनात थाना प्रभारी के खिलाफ भी ठोस कार्रवाई नहीं का गई। मेरे साथ छेड़छाड़ करने के मुख्य आरोपी मनजिंदर सिंह सिद्धू को पहले तरनतारन जिले का इंचार्ज व अब पंजाब स्तर का पद दिया जा रहा है। उसने कहा कि आम आदमी पार्टी द्वारा अगर मुझे इंसाफ न दिलाया गया तो मैं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के ऑफिस समक्ष मरणव्रत शुरू करूंगी।

अमर उजाला

पुलिया तोड़कर कब्जा करने का प्रयास, विरोध में प्रदर्शन

http://www.amarujala.com/news/city/mirzapur/mirzapur-hindi-news/breaking-culvert-attempt-to-capture-display-virodha-hindi-news/

नगर के घुरहूपट्टी मोहल्ला स्थित दलित बस्ती के लोगों ने सोमवार को जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया। इस दौरान लोगों ने कहा कि मोहल्ले में नगर पालिका द्वारा नाले में बच्चों को गिरने से बचाने के लिए पुलिया का निर्माण कराया था।

जिसको कुछ मनबढ़ तोड़कर प्लाटिंग के लिए रास्ता बनाने का प्रयास कर रहें है।विरोध जताने पर मारपीट कर रहें है। मामले की शिकायत करने के बावजूद पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने जिला प्रशासन से पूरे मामले की जांच कराकर पुलिया को दोबारा बनवाते हुए दोषियों के खिलाफ कार्रवाई कराने की मांग की। 

मोहल्लवासियों ने कहा कि लगभग 22 वर्ष पूर्व नगर पालिका द्वारा गंगा प्रदूषण नाले पर पुलिया का निर्माण इस उद्देश्य से करवाया गया था कि इस नाले से कोई भारी वाहनों का आवागमन नहीं हो जिससे यह पुलिया कभी टूटे नहीं। 

साथ ही पुलिया से गिरकर बच्चों की जान जाने से बचाया जा सके लेकिन पिछले दिनों कुछ मनबढ़ पुलिया के पीछे ली गई जमीन को प्लाटिंग करने के उदेश्य से पुलिया को तोड़कर बड़ा रास्ता बनाते हुए उस पर कब्जा करने का प्रयास कर रहे हैं।

विरोध जताने पर आरोपी कुछ अराजक तत्वों को लेकर मारपीट करना शुरू कर दे रहे हैं। मामले की शिकायत नगर पालिका के अधिकारी एवं पुलिस से करने पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन से आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s