दलित मीडिया वाच-हिंदी न्यूज़ अपडेट 01.07.15

दलित मीडिया वाच

हिंदी न्यूज़ अपडेट 01.07.15

 

दलित युवती के साथ सामूहिक ज्यादती – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-rajgarh-news-033024-2166306-NOR.html

दलितों के साथ मारपीट, शिकायत दर्ज कराने के लिए रातभर थाने के बाहर बैठे रहे – पत्रिका

http://www.patrika.com/news/giridh/dalits-are-assaulted-were-sitting-outside-the-police-station-overnight-for-lodging-complaints-1061774/

वन विभाग कर रहा हमें खेती की भूमि से बेदखल – नई दुनिया

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/sehore-news-407522

सार्वजनिक ट्यूबवेल पर दबंगों का कब्जा – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-nagda-news-040530-2170553-NOR.html

मार पीठ की शिकार लड़की को इन्साफ दिलाने के लिए एक जुट हुई जत्थेबंदी – पंजाब केसरी

http://www.punjabkesari.in/news/article-374965

दलित समाज की बिंदौली में शामिल हुआ गांव – नई दुनिया

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-OTH-MAT-latest-rupangarh-news-051534-2166869-NOR.html

80 दलित परिवारों पर धर्म परिवर्तन का दबाव – न्यूज़ 24

http://hindi.news24online.com/80-mahadalits-hindu-family-to-convert-to-islam-in-bihar-1/

धर्म परिवर्तन पर नहीं होगी पंचायत  नवभारत टाइम्स

http://navbharattimes.indiatimes.com/state/punjab-and-haryana/jind/panchayat-not-to-take-place-on-religion/articleshow/47885216.cms

दैनिक भास्कर

दलित युवती के साथ सामूहिक ज्यादती

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-rajgarh-news-033024-2166306-NOR.html

गुना| कैंट पुलिस ने किशोरी को अगवा कर सामूहिक ज्यादती किए जाने का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने शिकायत के बाद आरोपियों पर मामला दर्ज कर लिया है। कुम्हार मोहल्ले में रहने वाले 28वर्षीय युवती का कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया। आरोप 8 माह पूर्व युवती को अगवा कर ले गए। आरोपी अरविन्द दांगी, राज दांगी एवं संतोष दांगी राजगढ़ जिले के ग्राम मूडला ले गए। यहां उसे कमरे में बंद कर कई दिन रखा। आरोपियों ने सामूहिक ज्यादती की। आरोपी युवती को इसके बाद नरसिंहगढ़ ले गए और वहां भी वारदात की गई। आरोपियों पर मामला दर्ज कर लिया है। 

 घर में घुसकर मारपीट

चांचौड़ा थाना क्षेत्र में एक व्यक्ति की घर में घुसकर मारपीट की गई। फरियादी बृजमोहन पुत्र लक्ष्मीनारायण उम्र 50 साल निवासी कुम्हार मोहल्ला बीनागंज ने थाना उपस्थित आकर रिपोर्ट किया कि आरोपीगण दीपक प्रजापति, रूपा प्रजापति एवं दीपक के अन्य दो भाई निवासीगण बीनागंज ने फरियादी के घर में घुसकर मारपीट की। 

पत्रिका

दलितों के साथ मारपीट, शिकायत दर्ज कराने के लिए रातभर थाने के बाहर बैठे रहे

http://www.patrika.com/news/giridh/dalits-are-assaulted-were-sitting-outside-the-police-station-overnight-for-lodging-complaints-1061774/

01

गिरडीह। झाराढाब गांव में सोमवार की रात दलितों के साथ कुछ लोगों ने जमकर मारपीट की। दलित बस्ती के लोग महिलाओं और छोटे-छोटे बच्चों को लेकर रात करीब 12 बजे थाना पहुंचे। थाना में रात में कोई सुनवाई नहीं हुई तो लोग रातभर वहीं बैठे रहे। मंगलवार की सुबह गावां पुलिस की मौजूदगी में दलितों को वापस घर भेजा गया। थाना में दोनों पक्षों की ओर से अलग-अलग मामला दर्ज कराया गया।

बताया गया कि झाराढाब निवासी गुली सिंह और दीपक सिंह के बीच शराब पीने के बाद नोकझोंक और मारपीट हो रही थी। इतने में स्थानीय निवासी बिहारी भुइयां भी शराब के नशें में आकर बीच-बचाव करने लगा। यह देख दीपक सिंह ने बिहारी के साथ मारपीट शुरू कर दी। किसी तरह भागकर वह अपने घर पहुंचा। बाद में पुन: दलितों के साथ मारपीट की गई।

इसके बाद सभी भाग कर देर रात में ही थाना पहुंचे। सुधीर भुइयां के आवेदन पर गावां थाना में प्यारा सिंह, दीपक सिंह, संदीप सिंह, विक्रम सिंह, विकास सिंह, सुधीर सिंह के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। दूसरी ओर प्यारा सिंह के बयान पर बिहारी भुइयां, रघु भुइयां, किशोरी भुइयां, सुधीर भुइयां, मीना देवी, संजय दास, साजन भुइयां, उमेश भुइयां के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई।

नई दुनिया

वन विभाग कर रहा हमें खेती की भूमि से बेदखल

http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/sehore-news-407522

सीहोर(ब्यूरो)। मंगलवार को ग्राम राबियाबाद, कठोतिया क्षेत्र के अनेक दलितों परिवार कलेक्टोरेट पहुंचे और वन विभाग द्वारा उन्हें बेदखल करने का आरोप लगाते हुए एडीएम को ज्ञापन सौंपते हुए न्याय की गुहार लगाई। उनका कहना था कि हम दलित सालों से जमीन पर काबिज हैं। इसके संबंध में वर्ष 1980में सर्वे कर पात्रता पट्टे प्रदाय के समय कब्जारत भूमि के संबंध में कार्रवाई हुई थी, लेकिन कुछ पट्टेधारियों को पट्टे मिले थे। शेष 64 पट्टेधारियों को परेशान किया रहा है।

मंगलवार को कलेक्ट्रेट में एसडीएम को अपनी समस्या बताते हुए पूर्व सरपंच तेज सिंह ठाकुर, चैन सिंह जाटव, हर किशन जाटव,जगदीश जाटव, विष्णु जाटव, केवलराम, नरेश जाटव, वसंती बाई, गायत्री बाई,सविता बाई सहित अनेक ने बताया कि कब्जारत दलितों को वर्ष 1969 में 330 एकड़ भूमि शासन से स्वीकृत हुई थी। इस संबंध में शासन ने सर्वे भी कराए। इसके बाद वर्ष 1980 में 14 लोगों को पट्टे मिल सके। इसके बाद भी 48 दलितों को अभी तक पट्टे नहीं मिल सके हैं। दलितों ने पट्टा दिए जाने की गुहार प्रशासन से की है। उनका कहना है कि हमें वन विभाग द्वारा खेती का कार्य नहीं करने दिया जा रहा है। साथ ही हमारें पट्टे वन विभाग के पास हैं तो हमें नहीं दिए जा रहे हैं।

दैनिक भास्कर

सार्वजनिक ट्यूबवेल पर दबंगों का कब्जा

http://www.bhaskar.com/news/MP-OTH-MAT-latest-nagda-news-040530-2170553-NOR.html

नागदा | ग्राम चंदोड़िया में सार्वजनिक ट्यूबवेल पर गांव के दंबगों ने कब्जा कर लिया है। इससे ग्रामीणों को पेयजल के लिए भटकना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने मामले की शिकायत प्रशासन व मुख्यमंत्री को की है। ग्रामीण रामप्रसाद चंद्रवंशी, जगदीश चंद्रवंशी, आशाराम चंद्रवंशी, रतनलाल चंद्रवंशी, रायसिंह चंद्रवंशी,मांगीलाल चंद्रवंशी, प्रभुलाल चंद्रवंशी ने बताया हैंडपंप खनन के लिए सरकारी भूमि नहीं होने पर निजी भूमि पर ट्यूबवेल कराया था। उक्त भूमि को दुलाजी द्वारा दान पत्र के माध्यम से शासन को उपलब्ध कराई थी, ताकि दलित बस्तीवासियों को पेयजल उपलब्ध हो सके। लेकिन कुछ दबंगों द्वारा ट्यूबवेल पर कब्जा करते हुए पाइप लाइन काटकर अपने घरों की ओर ले गए हैं। साथ ही दलित समाज की महिलाओं द्वारा पानी भरा जाता है तो उन्हें डरा भगा दिया जाता है। ग्रामीणों ने कार्रवाई की मांग की है। 

पंजाब केसरी

मार पीठ की शिकार लड़की को इन्साफ दिलाने के लिए एक जुट हुई जत्थेबंदी

http://www.punjabkesari.in/news/article-374965

02

पिछले दिनों ससुराल परिवार द्वारा मारपीट की शिकार हुई लड़की की मौत होने के बाद पुलिस प्रशासन द्वारा आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करके आरोपियों के विरुद्ध कार्रवाई न करने पर पीड़ित परिवार द्वारा पुलिस प्रशासन प्रति रोष प्रकटाया जा रहा है, जिसके तहत शहर के श्री गुरु रविदास मंदिर की धर्मशाला हरीनौं रोड पर दलित समाज के संगठन और समाज सेवी संस्थाएं एकजुट हुईं।

इस दौरान मृत लड़की के पिता प्रीतम ने बताया कि पुलिस द्वारा आरोपियों के विरुद्ध जिला लुधियाना में मामला दर्ज किया गया है परंतु इस संबंध में पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही। इस दौरान गुरु रविदास सभा प्रेम नगर कोटकपूरा के प्रधान कुलदीप सिंह सेवा मुक्त डी.एस.पी., हुक्म चन्द पूर्व एम.सी., जोरा सिंह पूर्व एम.सी., गुरु रविदास सभा कृष्णा नगर प्रधान नानक चन्द ने पीड़ित परिवार को इंसाफ दिलाने के लिए संघर्ष छेडऩे का फैसला किया है।

नेताओं नें कहा कि आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस प्रशासन को एक हफ्ते का समय दिया जाएगा और अगर पुलिस प्रशासन द्वारा अपनी ड्यूटी न निभाई गई तो समूह जत्थेबंदी के सहयोग से शहर वासी तीखा संघर्ष करने को मजबूर होंगे जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी। 

नई दुनिया

दलित समाज की बिंदौली में शामिल हुआ गांव

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-OTH-MAT-latest-rupangarh-news-051534-2166869-NOR.html

लाडोलीगांव में अजमेर जिले के रूपनगढ़ से बारात आई थी। इसमें सरपंच भगवान दास भी शामिल थे। ग्रामीणों ने भगवानदास का भी स्वागत किया। सरपंच ने इस मौके पर ग्रामीणों को अनूठी मिसाल पेश करने के लिए साधुवाद दिया। 

ग्रामीणोंने प्रतिष्ठान बंद रखे ग्रामीणोंने अपने प्रतिष्ठान बंद रखकर शादी में भाग लिया। सरपंच के साथ पूर्व उप सरपंच लादूसिंह, मकराना तहसीलदार हनुमान प्रसाद मीणा, मकराना पुलिस उपाधीक्षक सुभाष मिश्रा, परबतसर थानाधिकारी महेंद्र सिंह शेखावत सहित अनेक ग्रामीण उपस्थित थे।

ऐसेहुई पहल

गांवकी संतोष का विवाह रूपनगढ़ के नजदीक एक गांव में तय हुआ था। तब से भाई संतोष की शादी ठाठ बाट से करना चाह रहा था। गांव में लोगों ने इस बारे में एेतराज नहीं जताया। मामला सरपंच तक पहुंचा। सरपंच रेवंत सिंह ने जब पूरी बात सुनी तो वह परिवार के साथ खड़े हो गए। उन्होंने दूल्हे की बिंदौली के लिए अपनी ओर से सहमति दे दी। इसी के साथ मंगलवार को निकली बिंदौली ने मिसाल कायम की। 

न्यूज़ 24

80 दलित परिवारों पर धर्म परिवर्तन का दबाव

http://hindi.news24online.com/80-mahadalits-hindu-family-to-convert-to-islam-in-bihar-1/

convert-islam-in-bihar-03

बिहार के सीवान में धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है। जिले के एक गांव में 80दलित परिवार धर्म परिवर्तन करने जा रहा है वो भी सिर्फ इसलिए क्योंकि उनका परिवार सुरक्षित रह सके। दरअसल इस गांव में लोगों के मुताबिक मुस्लिम आबादी ज्यादा है और वो दलित परिवार पर धर्म बदलने के लिए दबाव डालते हैं।

जीतन मांझी की बातों पर यकीन करें तो धर्म परिवर्तन करने के लिए धमकी दी जा रही है। कहा जा रहा है कि टोपी पहन कर घूमो नहीं तो जान को खतरा हो सकता है। दरअसल इस गांव में मुस्लिम परिवारों की संख्या 500 है। वहीं हिंदू परिवारों की संख्या 95 है। इन हिंदू परिवारों में 80 परिवार दलित और महादलित हैं। इस पूरे पंचायत में मुस्लिम आबादी ज्यादा होने की वजह से इस पंचायत के जनप्रतिनिधि चाहे वो मुखिया, सरपंच या फिर वार्ड सदस्य सभी एक ही समुदाय से हैं। यही वजह है कि गांव में मुस्लिम समुदाय का दबदबा है।

लोगों की बातों पर यकीन करें तो आलम ये है कि ये लोग अपने बहन-बेटियों की शादी में न तो गाने-बाजे बजा सकते हैं और न ही पूजा पाठ इन्हें कराने की इजाजत है। परिवार के बच्चे सरकारी स्कूलों में पढ़ने जाते हैं तो उन्हें सरकारी सुविधाओं से भी दूर रखा जाता है। इलाके के सांसद इस गांव के बगल वाले गांव से ही आते हैं लेकिन इनसब मामलों से ये बेखबर हैं। वहीं एडीजी का कहना है कि मामले में जिले के एसपी से जानकारी ली जा रही है।

दरअसल, आरोपों के मुताबिक एक साल पहले सरस्वती पूजा के दौरान दोनों समुदायों के बीच विवाद हुआ था और वक्त के साथ विवाद बढ़त ही गया। इस मामले में दलित परिवार ने थाने में शिकायत भी दर्ज कराई थी लेकिन आज तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई। लोगों की मानें तो थानाधिकारी भी दबंगों से मिले हुए हैं। दबंगों के खौफ और दहशत की वजह से गांव का दलित परिवार का जीना मुश्किल हो गया है और तो और चुनावी मौसम में अब इस मुद्दे पर सियासत भी तेज हो गई है।

नवभारत टाइम्स

धर्म परिवर्तन पर नहीं होगी पंचायत

http://navbharattimes.indiatimes.com/state/punjab-and-haryana/jind/panchayat-not-to-take-place-on-religion/articleshow/47885216.cms

religion-04

मनोहरपुर गांव में धर्म परिवर्तन विवाद को लेकर पिछले करीब एक सप्ताह से चला आ रहा विवाद थमता दिखाई दे रहा है। इस विवाद को लेकर गांव में होने वाली पंचायत को निरस्त कर दिया गया है। वहीं खुद के जान-माल को खतरा बताने वाले परिवार भी अब गांव में खुद को सुरक्षित महसूस करने लगे हैं।

गौरतलब है कि मनोहरपुर करीब नौ दलित परिवारों के 40 से अधिक सदस्यों पर हिंदू देवी-देवताओं की पूजा छोड़कर ईसाई धर्म को मानने का आरोप लगा था। इसे लेकर गांव में गतिरोध बना हुआ था। मामले में रविवार को गांव में एक पंचायत का भी आयोजन किया गया था। पंचायत में ग्रामीणों के अलावा आर्य समाज, विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल व साधु संतों भी शामिल हुए थे, लेकिन बार-बार बुलाने के बाद भी कथित रूप से धर्म परिवर्तन कर चुके परिवार पंचायत में जाने की बजाय अपने घरों पर ताले लगाकर जींद चले आए थे।

उन्होंने एसपी निवास पर सदर थाना पुलिस को शिकायत कर ग्रामीणों द्वारा धमकाने के आरोप लगाते हुए अपनी जान माल का खतरा बताया था। इसकी भनक लगने के बाद ग्रामीणों ने भी सदर थाना पुलिस को शिकायत कर धर्म परिवर्तन कर चुके परिवारों पर जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने तथा हिंदू धर्म व देवी-देवताओं का अपमान करने के आरोप लगाए थे।

पंचायत में सभी परिवारों को फिर से धर्म में आस्था बदलने के लिए बुधवार तक का वक्त दिया गया था। हालांकि, कथित रूप से धर्म परिवर्तन कर चुके परिवारों ने एसपी के सामने धर्म परिवर्तन करने से इनकार करते हुए डेरा सच्चा सौदा व अन्य धर्म गुरुओं की तरह केवल ईसाई सत्संग लेने की बात कही थी। इस दौरान गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस लगातार निगरानी रखे हुए थी।

कथित रूप से ईसाई धर्म अपना चुके परिवारों के साथ जींद आए सत्यनारायण ने कहा कि गांव में स्थिति पूरी तरह से शांतिपूर्ण रही है तथा आज दिन भर आस्था बदल चुके परिवारों को किसी के द्वारा धमकाने अथवा दबाव बनाने की कोई शिकायत नहीं मिली है। मंगलवार को दिन भर माहौल पूरी तरह से शांतिपूर्ण रहा जैसा की तनाव बढऩे से पहले था।

सोमवार की तरह मंगलवार को भी पुलिस के साथ-साथ प्रशासनिक अधिकारियों ने गांव में दबिश देकर गांव के स्थिति का आकलन किया। हालांकि ग्रामीणों व प्रशासनिक अधिकारी तो इसकी पुष्टि करने से बचते नजर आए, लेकिन सूत्रों ने बताया कि मंगलवार को तहसीलदार ने गांव में जाकर दोनों पक्षों की गतिविधियों की निगरानी की, ताकि हकीकत का पता लगाया जा सके। इसके अलावा सीआईडी के लोग भी गांव में घूमते देखे गए।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s