दलित मीडिया वाच-हिंदी न्यूज़ अपडेट 13.06.15

दलित मीडिया वाच

हिंदी न्यूज़ अपडेट  13.06.15

 

फौजी की बेटी से पहले रेप किया, फिर ब्लैकमेल – अमर उजाला

http://www.amarujala.com/news/city/bareilly/bareilly-crime-news/crime-hindi-news-774/

यूपी में महज 4 रुपए के लिए 2 की हत्या – राजेश्थान पत्रिका

http://rajasthanpatrika.patrika.com/story/india/two-people-were-killed-in-allahabad-when-shootdown-broke-after-heated-exchange-over-four-rupees-1089100.html

आमरण अनशन करेगा दलित सुरक्षा मंच दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/amroha-city-12474194.html

स्कूल के लिए अनशन, दलित महिला की हालत बिगड़ी आर्या व्रत

http://www.liveaaryaavart.com/2015/06/badami-devi-anshan.html

दलित एकल महिला का झौंपा फूंका पत्रिका

http://www.patrika.com/news/barmer/dalit-single-woman-blew-junpa-1051546/

पुलिस मौजूदगी में निकाली दलित दूल्हे की बिंदोरी – दैनिक भास्कर

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-OTH-MAT-latest-kishangarh-news-041031-2055221-NOR.html

अपहरण के आरोपी धराए दैनिक जागरण

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/sidharth-nagar-12473493.html

अमर उजाला

फौजी की बेटी से पहले रेप किया, फिर ब्लैकमेल

http://www.amarujala.com/news/city/bareilly/bareilly-crime-news/crime-hindi-news-774/

थाना क्षेत्र के एक गांव में फौजी की बेटी से पड़ोसी युवक ने बीस दिन पहले उसी के घर में दुराचार किया और दोस्तों की मदद से वीडियो भी बना ली। बाद में उस वीडियो को दूसरे लोगों को दिखाने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने की की। पिता के गांव लौटने पर बेटी ने आपबीती सुनाई तो वे एसएसपी से मिले और पूरा घटनाक्रम बताया। इस प्रकरण में एसएसपी के निर्देश पर तीन युवकों के खिलाफ थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। गिरफ्तारी के डर से आरोपी फरार हैं।

गुजरात में तैनात एक फौजी का परिवार गांव में रहता है। दलित परिवार की बड़ी बेटी एलएलबी कर रही है जबकि एक बेटा और बेटी स्कूल में पढ़ रहे हैं। फौजी ने गांव के ही दो युवकों को नामजद करते हुए एक अज्ञात के खिलाफ बेटी से दुराचार, दलित उत्पीड़न की धारा में रिपोर्ट कराई है। बताया कि बीस मई को उनकी पत्नी खेत पर और दोनों छोटे बच्चे स्कूल गए थे। घर पर बड़ी बेटी अकेली थी। तभी पड़ोस का युवक अपने दो साथियों के संग छत के रास्ते उनके घर में घुस आया। दरवाजा बंद करके युवक ने बेटी के सीने पर तमंचा लगा दिया।

उसे धमकाकर दुराचार किया। जबकि अपने दोस्तों से मोबाइल पर वीडियो बनवाई। किसी से कहने पर वीडियो सार्वजनिक करने की धमकी देकर चला गया। बेटी डर की वजह से चुप रही। इस बीच युवक ने कुछ लोगों को यह वीडियो दिखाया भी। इससे बेटी काफी परेशान हो गई। इस बीच दस जून को वे छुट्टी पर गांव आ गए। तब बेटी ने उन्हें घटना के बारे में बताया। पिता का आरोप है कि  बेटी से जातिसूचक शब्द भी कहे। फौजी की तहरीर पर पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

एसओ बिथरी गजेंद्र त्यागी ने बताया कि विवेचना सीओ स्नेहलता करेंगी। वे आरोपियों की तलाश कर रहे हैं, जल्दी ही उनकी गिरफ्तारी कर ली जाएगी। बेटी के पिता का कहना था कि घटना से उनकी होनहार बेटी को काफी मानसिक आघात पहुंचा है। वे चाहते हैं कि आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी हो और कठोर सजा मिले।

राजेश्थान पत्रिका

यूपी में महज 4 रुपए के लिए 2 की हत्या

http://rajasthanpatrika.patrika.com/story/india/two-people-were-killed-in-allahabad-when-shootdown-broke-after-heated-exchange-over-four-rupees-1089100.html

01

इलाहाबाद  उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद जनपद में आटा पिसाई के 4 रुपए को लेकर चक्की मालिक व कुछ लोगों के बीच विवाद हो गया। देखते ही देखते विवाद इतना बढ़ गया कि चक्की मालिक की तरफ से फायरिंग कर दी गई। फायरिंग में गोली लगने से दो लोगों की मौत हो गई, जबकि एक व्यक्ति घायल हो गया। इसके बाद ग्रामीण उग्र हो गए और चक्की मालिक के घर आग लगा दी।

पुलिस ने जब घर में फंसे लोगों को निकालने की कोशिश की तो ग्रामीणों ने पुलिस पर भी पथराव किया। पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए ग्रामीणों को खदेड़ लिया और आग में घिरे लोगों को बाहर निकाला। मौके पर भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। फिलहाल अभी तनाव की स्थिति गांव में बनी हुई है।

पुलिस के अनुसार, घूरपुर के गयासुदीनपुर गांव में वशिष्ठ नारायण की आटा चक्की है। बताया जाता है कि गांव का रहने वाला दलित रजत चक्की पर गेहूं पिसाने के लिए गया था। उसके पास 4 रुपए कम थे तो आटा चक्की के लोगों ने उसको आटा देने से मना कर दिया। इसके बाद रजत घर से 20 रुपए लेकर आया और आटा चक्की कर्मचारी के मुंह पर फेंक दिया।

बताया जाता है कि इस पर चक्की में मौजूद लोगों ने उस पर धारदार हथियार से वारकर कर दिया। घायल रजत घर पहुंचा और घटना के बारे में लोगों को जानकारी दी। इसके बाद काफी लोग आटा चक्की पहुंच गए। उधर, आटा चक्की मालिक व उसके लोगों भी लाइसेंसी बंदूक लेकर वहां पहुंच गए। इसके बाद दोनों तरफ से कहासुनी होने लगी।

इस पर आटा चक्की मालिक ने लाइसेंसी बंदूक से फायरिंग कर दी। फायरिंग में गोली लगने से दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक व्यक्ति घायल हो गया। इस घटना के बाद ग्रामीण भड़के उठे और आरोपी के घर को घेर लिया और आग लगा दी। सूचना पाकर मौके पर भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया।

पुलिस ने आग की लपटों में घिरे आरोपी के परिवार वालों को बचाने की कोशिश की तो लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। पुलिस ने बल का प्रयोग करते हुए लोगों को वहां से खदेड़ लिया और आग में घिरे लोगों को बाहर निकला। खबर मिलते ही मौके पर पुलिस व प्रशासन के आलाधिकारी भी पहुंच गए।

अधिकारियों ने किसी तरह ग्रामीणों को समझा-बुझाकर शांत कराया। वहीं गांव में तनाव को देखते हुए भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है।

दैनिक जागरण

आमरण अनशन करेगा दलित सुरक्षा मंच

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/amroha-city-12474194.html

02

हसनपुर। कालाखेड़ा में छह जून की रात को दबंगों द्वारा एक परिवार पर धावा बोलकर मारपीट कर महिलाओं के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने के मामले मे दलित सुरक्षा मंच संभल भी कूद आया है। संगठन के पदाधिकारियों ने गांव में पीड़ित परिवार से मुलाकात की और दो फरार आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर दो दिन बाद आमरण अनशन शुरू करने की चेतावनी दी।

संगठन के प्रदेश अध्यक्ष भीकम सिंह भारती के नेतृत्व में पहुंचे पदाधिकारियों ने कहा कि मा व बेटियों की बेरहमी से पिटाई कर दुष्कर्म करने का मामला अत्यन्त निन्दनीय है। इसकी जितनी निंदा की जाए वह कम है। उन्होंने कहा कि इस प्रकरण में कोतवाली पुलिस की भूमिका की भी जाच कर अधिकारियों को कार्यवाही करनी चाहिए। उन्होंने आला अधिकारियों से मिलकर पीड़ित परिवार को हरसंभव न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया। कहा कि दो दिन में इस प्रकरण में फरार दोनों आरोपी गिरफ्तार कर जेल नहीं भेजे गए तो संगठन आमरण अनशन शुरू करेगा। इसकी जिम्मेदारी पुलिस-प्रशासन की होगी।

इस मौके पर संगठन के प्रदेश कोषाध्यक्ष अमित कुमार, महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश अध्यक्ष हेमलता वर्मा, प्रदेश प्रभारी शिवचन्द्र मौर्य, चौधरी मुजफ्फर आदि मौजूद रहे।

आर्या व्रत

स्कूल के लिए अनशन, दलित महिला की हालत बिगड़ी

http://www.liveaaryaavart.com/2015/06/badami-devi-anshan.html

03

मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के पुरावसकलां गांव में माध्यमिक विद्यालय के लिए आमरण अनशन कर रही दलित महिला बादामी देवी को प्रशासन ने जबरिया अस्पताल में भर्ती करा दिया है। प्रशासन स्वास्थ्य बिगड़ने का हवाला दे रहा है, वहीं बादामी देवी ने अस्पताल में भी अनशन जारी रखने का ऐलान किया है।

बादामी देवी ने माध्यमिक विद्यालय के लिए 10 जून से जिलाधिकारी कार्यालय के सामने आमरण अनशन शुरू कर दिया था, शुक्रवार को अनशन का तीसरा दिन था। पुलिस बल ने शुक्रवार को उन्हें जबरिया अनशन स्थल से उठाया और अस्पताल ले गया। मुरैना के पुलिस अधीक्षक विनीत खन्ना ने बताया कि चिकित्सक ने स्वास्थ्य परीक्षण में पाया था कि बादामी देवी की हालत बिगड़ रही है, उनके शरीर में ग्लूकोज की मात्रा गड़बड़ा रही है, लिहाजा चिकित्सक के परामर्श पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बादामी देवी ने ऐलान किया है कि वे अस्पताल में भी आमरण अनशन जारी रखेंगी। वही अनशन स्थल पर संघर्ष समिति के संयोजक जयंत सिंह तोमर अनशन पर बैठेंगे। बादामी देवी ने क्षेत्रीय सांसद और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को जन्मदिन का बधाई संदेश भेजा है, जिसमें अपेक्षा की गई है कि वे न्याय, दलित व कमजोर का साथ देंगे। तोमर का शुक्रवार 12 जून को जन्मदिन है।

ज्ञात हो कि पुरावसाकलां गांव की पूर्व सरपंच बादामी बाई बीते कई वर्षो से गांव में माध्यमिक विद्यालय के लिए संघर्ष कर रही है। बादामी जब सरपंच हुआ करती थी, तब उन्होंने अपने कार्यकाल में माध्यमिक विद्यालय शुरू कराने की कोशिश की। वह तो इसके लिए अपने पति की जमीन तक को देने राजी हो गई थी, तब पंचायत ने वहां विद्यालय बनाने का प्रस्ताव भी पारित कर दिया था।

उस जमीन पर निर्माण कार्य भी शुरू हो गया था। सरपंच बदलने के बाद पूर्व के प्रस्ताव में बदलाव कर दिया गया है। संघर्ष समिति के संयोजक जयंत सिंह तोमर ने बताया है कि जिस स्थान पर विद्यालय प्रस्तावित था, वह दलित बस्ती के करीब है, लिहाजा सामंती प्रवृत्ति के सोच के लोगों को यह रास नहीं आ रहा है। यही कारण है कि स्थान परिवर्तन किया जा रहा है।

पत्रिका

दलित एकल महिला का झौंपा फूंका

http://www.patrika.com/news/barmer/dalit-single-woman-blew-junpa-1051546/

04

चौहटन। पुलिस थाना के दूधवा गांव में गुरूवार देर रात एक दलित एकल महिला के घर में कुछ दबंगों ने आग लगा दी। खौफ के चलते किसी व्यक्ति ने पुलिस को घटना की खबर तक नहीं दी। उधर शुक्रवार सवेरे एक वर्ग के कुछ लोगों ने महिला सहित उसके परिजनों पर समझौता करने तथा पुलिस को सूचित नहीं करने का दबाव बनाए रखा। महिला के पिता घोनिया निवासी खीमाराम ने अपने गांव के परिचित खेतसिंह को फोन पर वारदात की सूचना देने में कामयाबी हासिल कर ली। खेतसिंह ने मामले को सोशल मीडिया में डाल दिया।

वायरल होने पर जिला पुलिस अधीक्षक पारिस देशमुख ने इसे गंभीरता से लेते हुए गुड़ामालानी पुलिस उपअधीक्षक ओमप्रकाश उज्जवल, रामसर वृत निरीक्षक दशरथसिंह व चौहटन थानाधिकारी को मौके पर पहुंच तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए। अधिकारियों ने मय जाब्ता मौके पर पहुंच महिला, उसके पिता व परिजन से घटनाक्रम की जानकारी ली तथा घर में आग लगाने की रिपोर्ट प्राप्त कर मामला दर्ज किया।

इस संबंध में गुड़ामालानी पुलिस उपअधीक्षक ओमप्रकाश उज्जवल ने बताया कि दूधवा निवासी जीयांदेवी पत्नी बाबूलाल मेघवाल ने गांव के ही उदयसिंह पुत्र जवाहरसिंह राजपूत पर घर में आग लगाने का आरोप लगाया है। महिला ने पुलिस को सौंपी रिपोर्ट में बताया कि दो दिन पहले वह अपने पीहर गई हुई थी। गुरूवार देर रात एक बजे उसके जेठ राऊराम ने फोन पर बताया कि उसकी ढाणी में किसी ने आग लगा दी है। शुक्रवार सवेरे वह अपने पिता के साथ मौके पर पहुंची तो ढाणी में एक झौंपा व छप्पर जला हुआ था।

नहीं करने दी रिपोर्ट

जीयों ने बताया कि इसकी जानकारी पुलिस को देने से पूर्व कुछ लोग वहां आए और उन्होंने रिपोर्ट नहीं करने का दबाव बनाया। जीयोंदेवी का कहना है कि उदयसिंह पुत्र जवाहरसिंह के आटा चक्की व किराने की दुकान है। वहां से सामान लाने पर उसकी एक हजार रूपए तक उधारी चल रही थी। वह उस पर बुरी नजर रखता था। उसे हद में रहने की हिदायत देकर उधारी चुकता कर दी तथा लेनदेन बंद कर दिया था। महिला ने बताया कि उसे शक है कि घर में आग उसी ने लगाई है। पुलिस ने महिला की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू किया कर दिया।

चार साल पहले पति की मौत

दलित महिला जीयोंदेवी के पति बाबूराम की चार साल पहले अज्ञात वाहन की टक्कर से मौत हो गई थी। इस घटना का आज दिन तक पता नहीं चल पाया है।

दबंगों का खौफ

जीयोंदेवी ने पुलिस को बताया कि अब उसके सामने भय का माहौल पैदा हो गया है। रात को वह घर पर नहीं थी, अन्यथा आरोपित उसे भी जला देते। अब अगर पुलिस की ओर से आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं हुई तो उसके लिए गांव में रहना मुश्किल हो जाएगा।

दैनिक भास्कर

पुलिस मौजूदगी में निकाली दलित दूल्हे की बिंदोरी

http://www.bhaskar.com/news/RAJ-OTH-MAT-latest-kishangarh-news-041031-2055221-NOR.html

गांधीनगरथानांतर्गत तित्यारी गांव में शुक्रवार को एक दलित की पुलिस मौजूदगी में बिंदोरी निकाली गई। दूल्हे के पिता ने गांधीनगर थाने में परिवाद पेश कर दूसरे जाति के लोगों द्वारा व्यवधान उत्पन्न करने की आशंका जताई थी। शांतिपूर्ण तरीके से बिंदाेरी मंदिर तक पहुंची और दूल्हे की बारात रवाना की गई।

गांधीनगर थाना एसएचओ अजीत सिंह ने बताया कि गांधीनगर थाने में गुरुवार रात को तित्यारी ग्राम निवासी नाथूराम मेघवाल ने परिवाद पेश कर बताया कि शुक्रवार को उसके पुत्र की बिंदाेरी निकाली जाएगी और मंदिर से बारात रवाना होगी। इस बीच उसे दूसरे समाज के लोगों से शादी में व्यवधान पैदा होने की आशंका है। हालांकि रिपोर्ट में नाथूराम ने किसी का नाम नहीं दिया।

एहतियात के तौर पर शुक्रवार दोपहर को दो पुलिसकर्मियों को मौके पर भेजा गया। शाम 5 बजे नाथूराम मेघवाल की घर से बिंदोरी निकाली गई। इस दौरान पुलिसकर्मी साथ चल रहे थे। बिंदोरी मंदिर तक पहुंची। इसके बाद विधिवत तरीके से बारात को रवाना किया गया। शांतिपूर्ण तरीके से बिंदोरी और बारात निकाली गई। किसी तरह का कोई व्यवधान नहीं हुआ । नाथूराममेघवाल ने परिवाद देकर उसके पुत्र की बिंदोरी में व्यवधान उत्पन्न होने का परिवाद दिया था। ऐहतियात के तौर पर दो पुलिसकर्मियों को भेज दिया। शांतिपूर्ण तरीके से बिंदोरी निकाली गई।

दैनिक जागरण

अपहरण के आरोपी धराए

http://www.jagran.com/uttar-pradesh/sidharth-nagar-12473493.html

सिद्धार्थनगर : थाना क्षेत्र के गांव से एक माह पूर्व दलित परिवार की दो सगी नाबालिग बहनों का अपहरण कर उनके साथ दुष्कर्म करने वाले दो अपहरण के आरोपियों को शुक्रवार सुबह पुलिस ने दबोच लिया। उनके साथ मौजूद दोनों बहनों को पुलिस ने चिकित्सकीय परीक्षण के लिए जिला अस्पताल व आरोपियों को जेल भेज दिया है।

गत 9 मई की शाम उक्त दोनों बहनें अचानक घर से लापता हो गई थी। परिजन काफी तलाश के बाद 3 जून को इसकी शिकायत थाने पर किए, जिसपर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर किशोरियों का पता लगाती रही। सुबह थानाध्यक्ष सत्य प्रकाश यादव गश्त से लौट रहे थे कि बांसी- इटवा मार्ग स्थित बरगदवा चौराहे के पास यह दोनों युवक किशोरियों के साथ दिखाई दिये। पूछताछ में सभी ने अपनी सच्चाई बता दी। पकड़े गये युवकों में एक उसका थाना क्षेत्र के ग्राम विदेश्वरपुर निवासी जैनुल्लाह व दूसरा अजय यादव मुकामी थाना क्षेत्र के ही ग्राम बरगदवा का निवासी है।

दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज

बीते छह जून को अपहरण कर दुष्कर्म करने के मामले में पकडे़ गये थाना क्षेत्र के ग्राम अमघट्टी निवासी विनोद कुमार पर चिकित्सकीय जांच के उपरांत दुष्कर्म का आरोप सिद्ध हो गया। रिपोर्ट के आते ही थानाध्यक्ष सत्य प्रकाश यादव ने आरोपी पर के मुकदमें में तब्दीली करते हुए उसे पास्को एक्ट व 376 में निरुद्ध कर दिया है।

News Monitored by Kuldeep Chandan & Kalpana Bhadra

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s